ओपिनियन

Shinya Aoki’s 101: ऑडियंस-फ्री इवेंट्स पर गहन चर्चा

मार्शल आर्ट्स इवेंट्स अक्सर दर्शकों के सामने ही आयोजित होते आए हैं और दर्शकों का होना कई मायनों में सही भी है। लाइव क्राउड के मौजूद होने से उस इवेंट से जुड़े हर व्यक्ति को एक दिलचस्प भावना का एहसास होता है।

उदाहरण के तौर पर, प्रो रेसलिंग को देखा जाए तो जिसका मैं बचपन से ही बड़ा फैन रहा हूँ। उसमें लाइव ऑडियंस का होना बेहद जरूरी होता है।

मैं जब भी एक फैन के तौर पर मार्शल आर्ट्स देखता हूँ तो क्राउड की प्रतिक्रिया का भी पूरा आनंद लेता हूँ। चाहे बात फुटबॉल की हो रही हो, बेसबॉल या किसी म्यूजिक कॉन्सर्ट की, मुझे लगता है कि दर्शकों के होने से सभी को अच्छा परफॉर्मेंस देने की प्रेरणा मिलती है, फिर चाहे वो कोई एथलीट हो या कोई आर्टिस्ट।

लेकिन कोरोनावायरस (COVID-19) के कारण ONE: KING OF THE JUNGLE के रूप में ONE को अपना पहला इवेंट आयोजित करना पड़ा जहाँ कोई लाइव ऑडियंस मौजूद नहीं थी।

मैं पिछले 25 सालों से मार्शल आर्ट्स का फैन रहा हूँ और जहाँ तक मुझे याद है कि बिना ऑडियंस के किसी इवेंट का आयोजन एक अनोखी चीज रही है।

हालांकि, कुछ लोगों को ये थोड़ा अजीब लग सकता है लेकिन मुझे इस फैसले पर गर्व है।

ONE इस स्पोर्ट की सफलता और लोकप्रियता के कारण ऑडियंस-फ्री इवेंट का आयोजन कर पा रही है।



ONE आज दुनिया की सबसे बड़ी स्पोर्टिंग ब्रांड्स में से एक बन चुकी है और लगभग पूरी दुनिया में इसके इवेंट्स का प्रसारण होता है। इसके मतलब ये है कि कंपनी को किसी एक तरीके से पैसा कमाने पर निर्भर नहीं होना पड़ता।

मैंने अपने करियर में कभी बिना ऑडियंस के कोई मैच में हिस्सा नहीं लिया है। मैं केवल उम्मीद कर सकता हूँ लेकिन मुझे लगता है कि बिना ऑडियंस के भी सभी एथलीट्स अपना बेस्ट प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे।

एथलीट होने के नाते हमें किन्हीं भी परिस्थितियों में अपना बेस्ट प्रदर्शन करने के लिए तैयार रहना चाहिए। ये ध्यान रखना चाहिए कि कभी भी, कहीं भी और किसी के भी खिलाफ बाउट करने के लिए तैयार हैं।

मुझे लगता है कि ऑडियंस के ना होने से मेरे प्रदर्शन पर कोई खास प्रभाव नहीं पड़ेगा। यहाँ तक कि मैंने जब सिंगापुर के इवेंट को देखा तो एहसास हुआ कि सभी एथलीट वैसा ही प्रदर्शन कर रहे हैं जैसा वो हमेशा करते आए हैं।

Japanese martial arts icon Shinya Aoki speaks at a press conference

जब मैंने उस इवेंट का हिस्सा रहे एथलीट्स से बात की, उन्होंने मुझे बताया कि उन्हें कुछ भी अलग चीज का एहसास नहीं हुआ क्योंकि एक मैच में हमें एक ही काम करना होता है फिर चाहे एरीना में ऑडियंस मौजूद हो या ना हो।

वहाँ कोई आवाज नहीं हो रही होती इसलिए अपनी भावनाओं पर काबू करना भी आसान हो जाता है। मुझे लगता है कि इससे उन एथलीट्स को लाभ मिलने वाला है जिन्हें डर की ज्यादा समस्या होती है।

ONE: KING OF THE JUNGLE में मैंने ONE के जापानी ब्रॉडकास्ट पार्टनर Abema TV के लिए कमेंट्री की थी और मुझे उस हाई-क्वालिटी इवेंट का हिस्सा बनकर काफी अच्छा महसूस हुआ।

जब इवेंट का प्रसारण समाप्त हुआ तो मैंने सभी एथलीट्स के सम्मान में अपनी हैट उतारी, जिन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और ONE स्टाफ के सदस्यों के लिए भी।

वहीं, मैं एक फैन और ऑडियंस का हिस्सा रहते हमेशा एरीना के दिलचस्प माहौल का आनंद लेता आया हूँ।

एक एथलीट होने के नाते ऑडियंस के चीयर के बीच हमेशा कुछ दिलचस्प करने की कोशिश करता हूँ। मुझे लगता है कि जोश और उत्साह की भावना ही किसी शो को एक यादगार इवेंट बनाती है।

Former ONE Lightweight World Champion Shinya Aoki sits on the ramp following his win over Honorio Banario

चाहे बात स्पोर्ट्स की हो रही हो, म्यूजिक या थिएटर की, एरीना में मौजूद रहकर लाइव इवेंट को देखने में अलग ही आनंद मिलता है। लेकिन आज के दौर में टेक्नोलॉजी इतनी आगे बढ़ चुकी है कि हम दुनिया के किसी भी कोने से इवेंट को देख सकते हैं।

इसी कारण एरीना में लाइव इवेंट को देखने की अहमियत बढ़ने लगी है। मुझे लगता है कि जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी और भी अधिक एडवांस होगी तो लोगों को इवेंट को एरीना में लाइव देखने की चाह भी बढ़ने लगेगी।

मेरा मानना है कि इवेंट को क्राउड के सामने ही होना चाहिए, हालांकि मार्शल आर्ट्स एक स्पोर्ट है लेकिन ये स्टेज आर्ट का भी एक रूप है। इसलिए मैं ऑडियंस के सामने ही परफ़ॉर्म करने का ज्यादा इच्छुक हूँ।

यहाँ तक कि मुझे लगता है कि ONE को लोग इसके हाई-क्वालिटी शोज़ के लिए ज्यादा पसंद करते हैं। दुनिया में बहुत से स्पोर्टिंग इवेंट्स का आयोजन होता है और हर किसी की कुछ ना कुछ खास बात होती है लेकिन मुझे लगता है कि ONE को क्वालिटी के मामले में हरा पाना बहुत मुश्किल है।

इसलिए मैं चाहता हूँ कि कोरोनावायरस जल्द से जल्द खत्म हो। मैं आशा करता हूँ कि हम जल्द ही एक बार फिर इवेंट्स में क्राउड को देख पाएंगे और दुनिया को एकजुट करेंगे।

Japanese martial arts icon Shinya Aoki celebrates his victory in Tokyo, Japan

शिन्या एओकी कई बार ONE लाइटवेट वर्ल्ड चैंपियन रह चुके हैं। वो किताबों के साथ-साथ जापान के मीडिया आउटलेट में कॉलम लिखते हैं। ये सुपरस्टार “Shinya Aoki’s ONE 101” कॉलम लिखते हैं, जिसमें वो एथलीट होने के नजरिए से ढेर सारी जानकारियां देते हैं। लेखक के विचार निजी हैं।

ये भी पढ़ें: मीशा टेट की कलम से: असफलता में छिपी है सफलता की कुंजी