ओपिनियन

‘Franklin Speaking’ वीडियो पॉडकास्ट की शुरुआत कैसे हुई

दिसंबर 2014 में मुझे TedxUChicago पर गेस्ट स्पीकर के तौर पर आमंत्रित किया गया था।

मैं सोच रहा था कि एक दशक पहले मैं लोगों से खचाखच भरे स्टेडियम में फाइट्स का हिस्सा बनता था और आज एक यूनिवर्सिटी में अपने अनुभवों से लोगों को प्रेरित कर रहा हूँ।

ये पहला मौका था जब मैंने इतने लोगों के सामने कोई प्रेरणादायक स्पीच दी, मैं बहुत घबराया हुआ था, फिर भी मेरी स्क्रिप्ट के लिए किया गया रिसर्च और तैयारियां मुझे संतुष्टि प्रदान कर रही थीं।

एक एथलीट के तौर पर अपने करियर के शुरुआती दिनों से लेकर ये प्रक्रिया मेरी मानसिक दिनचर्या का हिस्सा रही है और मुसीबत के समय में भी मुझे इससे बहुत मदद मिलती आई है।



2014 की तुलना में आज दुनिया बहुत बदल चुकी है। फिर भी जिस तरह की घबराहट और परेशानियों का सामना मुझे उस समय करना पड़ता था, आज भी मैं उससे उबर नहीं पाया हूँ।

आमतौर पर मैं एथलीट्स से बात कर रहा होता हूँ और 3 अलग-अलग देशों में ONE Warrior Series (OWS) क्रू के साथ फिल्मिंग कर रहा होता हूँ।

हालांकि, अब इस वैश्विक महामारी ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है, हवाई यात्रा बंद पड़ी है और लोगों ने खुद को क्वारंटाइन किया हुआ है।

इस महामारी के कारण पूरा संसार शांत पड़ चुका है और ये महामारी ऐसी है जो अनिश्चितकाल तक चल सकती है। अब मैं अपनी आवाज को एक अलग तरीके से उठाना चाहता हूँ।

जोनाथन फोंग और मैंने हाल ही में एक वीडियो पॉडकास्ट की शुरुआत की है जिसे हमने Franklin Speaking नाम दिया है, इसका उद्देश्य कुछ चुनिंदा गेस्ट्स से अलग-अलग मुद्दों पर उनकी राय लेना है।

हम इस प्रोजेक्ट पर पिछले कुछ समय से काम कर रहे हैं लेकिन इसे COVID-19 महामारी के दौरान लॉन्च करने से आपको मदद ही मिलेगी और फिलहाल हमारे पास सोचने का समय ही समय है तो इन विचारों से आपको काफी लाभ भी मिल सकेगा।

COVID-19 महामारी जो अभी कुछ और महीनों तक जारी रह सकती है, इसलिए हमने कुछ नया करने का प्रयास किया है।

हम हमेशा से ही एक नया कंटेंट लोगों के सामने लाने की कोशिश करते रहे हैं लेकिन अक्सर समय की कमी और पर्याप्त संसाधनों के ना होने की स्थिति हमें घेर लेती है।

इस बीमारी ने हमें इस वीडियो प्रोजेक्ट और अपने प्रयासों पर पूरा फ़ोकस करने का अवसर प्रदान किया है। इसके बाद भी हमें काफी कठिनाइयों से गुजरना पड़ा है।

Brian Cain, mental performance coach

इस लॉकडाउन के समय हमें चीजों को सुचारू रूप से चलाए रखने के लिए कुछ नए-नए आइडिया सोचने होंगे।

कैमरा, लाइटिंग, साउंड और वीडियो उपकरणों को मेरे अपार्टमेंट में शिफ्ट कर दिया गया था और जो अब एक स्टूडियो में बदल चुका है।

हालांकि, यहाँ एक असल स्टूडियो की तरह सभी संसाधन मौजूद नहीं हैं लेकिन इन परिस्थितियों में किसी भी काम को परफेक्ट तरीके से किया जाना असंभव है। कोरोनावायरस ने जितनी तबाही मचाई है, उसकी तुलना में हम ये सब करने में सफल रहे हैं और यही हमारे लिए एक छोटी जीत के समान है।

Franklin Speaking पर हमारे पहले मेहमान मेरे पूर्व मेंटल परफॉर्मेंस कोच ब्रायन केन रहे। ब्रायन को मेंटल परफॉरमेंस की कोचिंग में महारत हासिल है और मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में मेरी सफलता में उनका भी बहुत बड़ा योगदान रहा है।

ब्रायन को पहला मेहमान बनाने का उद्देश्य ये था जिससे लोगों को उनके द्वारा बताए गए मेंटल मास्ट्री के 10 स्तंभों के बारे में पता चल सके जिससे उन्हें अच्छा प्रदर्शन करने में मदद मिले।

उनके द्वारा बताई गई एक बात जो मुझे आज भी याद है, वो उनका सिग्नल कॉन्सेप्ट था।

ब्रायन बताया करते थे कि कैसे हमारी भावनाएं और शारीरिक प्रतिक्रियाएं सिग्नल लाइट्स की तरह होती हैं, जो हमारे आसपास के लोगों के लिए संक्रामक हो सकती हैं जैसे राउंड्स के बीच कोने में मौजूद लोग।

मैं OWS टीम, रोस्टर में मौजूद एथलीट्स और पूरे स्टाफ़ की अध्यक्षता करता हूँ। उनका लीडर होने के नाते मुझे ये बात ध्यान रखनी होगी कि इन परिस्थितियों में मेरे द्वारा की जाने वाली चीजों का उनपर गलत या अच्छा असर (सिग्नल) भी पड़ सकता है।

हमने खुद को पुनर्निर्देशित किया है और इस प्रोजेक्ट पर पूरा ध्यान लगाया हुआ है और इसी कारण ये हमारी टीम के लिए सबसे उत्पादक अवधियों में से एक बन गया है।

लोगों के लिए हाई क्वालिटी पॉडकास्ट तैयार करने के लिए हमारी पूरी टीम इसके लिए प्रयासरत रही है।

मौजूदा परिस्थितियों को ध्यान में रख हम उम्मीद करते हैं कि Franklin Speaking कठिन परिस्थितियों में भी ये शो सफल साबित होगा।

जब तक पृथ्वी पर चीजें पहले की तरह पुनर्स्थापित नहीं हो जातीं तब तक इस समय में नई चीजें सीखते रहें। घर पर रहें सुरक्षित रहें।

ये भी पढ़ें: मजबूत हाथों के लिए रिच फ्रैंकलिन की 4 शानदार टिप्स