ओपिनियन

माइकल शियावेलो ने ब्रेंडन वेरा Vs. आंग ला न संग के बारे में बताया

अक्टूबर 13, 2019

माइकल शियावेलो “द वॉयस” ने पहली बार ब्रेंडन वेरा “द ट्रुथ” को मुकाबले के लिए पिछले नवम्बर को मनीला, फिलीपींस में ONE: CONQUEST OF CHAMPIONS पर हुए मुकाबले के लिए बुलाया था। उस शाम को फिलिपिनो-अमेरिकी ने इतालवी हेवीवेट मॉरो सेरिली “द हैमर” को प्रतियोगिता में सिर्फ 64 सेकंड में बाहर कर दिया तो ऑस्ट्रेलियाई कमेंटेटर ने उन्हें “गुडनाइट, आइरील!” तकिया कलाम का इस्तेमाल किया।

इस सप्ताह के अंत में जब शियावेलो ONE हेवीवेट वर्ल्ड चैंपियन के आगामी मुकाबले के लिए कमेंट्री करेंगे तो यह इतनी जल्दी या नाटकीय तरह से खत्म नहीं हो सकता है। रविवार 13 अक्टूबर को टोक्यो, जापान में वेरा ने ONE लाइट हेवीवेट वर्ल्ड खिताब के लिए ONE: CENTURY PART II में दो-डिवीजन ONE वर्ल्ड चैंपियन आंग ला न संग “द बर्मीज़ पायथन” को चुनौती दी है।

शियावेलो बताते हैं कि “ONE: CENTURY में सभी मुकाबले बहुत अच्छी तरह से होने का पूर्वानुमान है। ब्रेंडन वेरा ने पिछले पांच वर्षों में केवल चार बार लड़ाई लड़ी है। वह एक प्रमुख चैंपियन रहा है। वह सभी पर हावी रहा है और यह उन्होंने बहुत आसानी से किया है।”

वेरा ने दिसंबर 2014 में ONE Championship में डेब्यू किया था। उन्होंने अपने प्रत्येक प्रतिद्वंदी को पहले राउंड में नॉकआउट या तकनीकी नॉकआउट से मात दी है। आज तक कोई भी सर्किल के अंदर “द ट्रुथ” के गैस टैंक और चिन को परखने में सक्षम नहीं है। हालांकि रविवार को यह बदल भी सकता है।

शियावेलो कहते हैं कि “क्या होगा जब वह वजन में नीचे चला जाता है। वह सबसे क्रूर, आक्रामक में से एक और ONE Championship इतिहास में सबसे ताकतवर आंग ला न संग का सामना करेगा? जब आंग ला न संग उसे दाहिने हाथ से मारता है तो वह स्टील पाइप कहता है? स्टील की पाइप से वेरा को ONE Championship में किसी ने नहीं मारा।”



44 वर्षीय मेलबर्न निवासी के अनुसार ONE हेवीवेट वर्ल्ड चैंपियन को आंग ला न संग के हाथों से अधिक सावधान रहना होगा। अपनी बात को जारी रखते हुए शियावेलो ने कहा कि “वेरा के वजन में कमी आने के साथ क्या आंग ला न संग को परेशान कर पाता है। अगर उसके पास पूरे पांच राउंड लड़ने का दम है है।”

“हम जानते हैं कि आंग ला न संग के पास पूरे पांच राउंड में जाने का दम है और ऐसा करने पर उसे पीड़ादायक स्थिति से गुजरना पड़ेगा जैसा कि हमने केन हसेगावा के खिलाफ उसके पहले मैच में देखा था।”

“द वॉयस” का मानना ​​है कि फिलिपिनो-अमेरिकी को म्यांमार के हीरो को बाहर रखना चाहिए और उनकी तेजी, लंबाई और एंगल का इस्तेमाल करना चाहिए, जिससे कि वो लाइट हेवीवेट के किंग बन सकें।

“वेरा को उसकी गति का इस्तेमाल करते हुए उसके बायें हुक के प्रहारों से बचना होगा। यह जरूरी है कि वह इस एंगल का इस्तेमाल करे। उन्हें आंग ला न संग को अपने प्रहारों से दूर रखना होगा। क्योंकि अगर एक बार वह आंग ला न संग को अंदर आने देते हैं तो आंग ला न संग स्टील पाइप के साथ एक टेकडाउन हासिल कर शीर्ष पर पहुंच सकते हैं। वह ग्राउंड और पाउंड का उपयोग कर सकते हैं।”

हालांकि “द बर्मीज़ पायथन” केवल एक टेकडाउन ही तलाश नहीं करेंगे। वेरा को हेवीवेट डिवीजन के प्रमुख नॉकआउट कलाकार के रूप में जाना जाता है। वो रयोगोकू कोकुगिकन में प्रशंसकों को आश्चर्यचकित कर सकते हैं।

शियावेलो चेताते हैं कि “आंग ला न संग को स्वयं यह देखना होगा कि वेरा उसे नीचे ले जाकर शीर्ष पर नहीं पहुंच सके। क्योंकि इससे उसे लम्बाई का फायदा मिल सकता है। वह जमीन पर आंग ला न संग से हारने से इनकार कर सकता है और जमीन पर अपने भारी मुक्कों से हावी हो सकता है।”

प्रशंसकों की तरह ही “द वॉयस” भी यह जानने के लिए उत्सुक है कि इतिहास के सबसे बड़े ONE लाइट हेवीवेट विश्व खिताबी मुकाबले में एक बार इन दो नायकों के एक-दूसरे के सामने खड़े होने के बाद क्या होगा। रविवार रात को सभी को इसका पता चल जाएगा।

ये भी पढ़ें: आंग ला एन संग vs ब्रेंडन वेरा- जीत के 4 तरीके

टोक्यो | CENTURY | ONE Championship का 100वां लाइव इवेंट | टिकट खरीदने के लिएः यहां क्लिक करें

  • यूएसए में PART I 12 अक्टूबर को 8 ईएसटी पर और PART II 13 अक्टूबर को सुबह 4 बजे ईएसटी पर देखें
  • भारत में PART 1 13 अक्टूबर को सुबह 5:30 बजे IST और PART II 1:30 बजे IST पर देखें
  • जापान में PART I को 13 अक्टूबर को सुबह 9 बजे JST और PART II को शाम 5 बजे JST में देखें
  • इंडोनेशिया में PART I को 13 अक्टूबर को सुबह 7 बजे WIB और PART II 3pm WIB पर देखें
  • सिंगापुर में PART 1 13 अक्टूबर को सुबह 8 बजे एसजीटी और PART II 4 बजे एसजीटी पर देखें
  • फिलीपिंस में PART 1 13 अक्टूबर को सुबह 8 बजे पीएचटी और PART II 4 बजे पीएचटी पर देखें

ONE: CENTURY इतिहास की सबसे बड़ी विश्व चैम्पियनशिप मार्शल आर्ट्स प्रतियोगिता है जिसमें 28 विश्व चैंपियनशिप विभिन्न मार्शल आर्ट्स का प्रदर्शर करेंग। इतिहास में किसी भी संगठन ने कभी भी एक ही दिन में दो पूर्ण पैमाने पर विश्व चैम्पियनशिप के आयोजनों को बढ़ावा नहीं दिया।

13 अक्टूबर को जापान के टोक्यो में प्रसिद्ध रयोगोकु कोकुगिकन में कई वर्ल्ड टाइटल मुकाबलों, वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियनशिप फाइनल की एक तिकड़ी और कई वर्ल्ड चैंपियन बनाम वर्ल्ड चैंपियन मैच के साथ-साथ The Home Of Martial Arts नई जमीन तलाश करेगा।