मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

कड़ी ट्रेनिंग के बाद जीत के लिए तैयार हैं टियाल थैंग

म्यांमार के टियाल थैंग “द ड्रैगन लेग” को भरोसा है कि वो ONE: MARK OF GREATNESS में दक्षिण कोरिया के किम वून क्यूम की चुनौती से पार पाने में पूरी तरह सक्षम हैं।

इस फाइट के लिए उन्होंने खुद को मैरीलैंड से फ्लोरिडा शिफ्ट किया और वहाँ कड़ी ट्रेनिंग की है जहाँ आंग ला न संग ने उन्हें सीखने में काफी मदद भी की।

इस बाउट से पहले उनका आत्मविश्वास सातवें आसमान को छू रहा है, इससे पहले उन्हें मेंटर करने वाले फाइटर आंग ला को ONE हैवीवेट वर्ल्ड चैंपियन ब्रैंडन वेरा “द ट्रुथ” पर जीत मिली थी और अब टियाल भी धमाकेदार जीत दर्ज करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

यह भी पढ़ें: ONE: MARK OF GREATNESS की 3 बाउट जो आपको ज़रूर देखनी चाहिए

26 वर्षीय इस फाइटर ने कहा है कि,”इस मुकाबले के लिए मैंने कड़ी मेहनत की है इसलिए हार फिलहाल मेरे लिए कोई विकल्प नहीं है।

“अपने परिवार को छोड़ फ्लोरिडा में आंग ला न संग के साथ ट्रेनिंग की है और मुझे भी अब वही प्रदर्शन दोहराना है।“

Hard Knocks teammates pose together

ONE: REIGN OF VALOR को अब 9 महीने बीत चुके हैं जहाँ अपने डेब्यू मुकाबले में टियाल को कंबोडिया के रिन सरोथ पर जीत हासिल हुई थी।

हालांकि उस समय टियाल ने खुद से ज्यादा अनुभवी फाइटर को मात दी थी लेकिन उन्हें इससे संतुष्टि नहीं मिली थी। उसके बाद से उनके प्रदर्शन में काफी ज्यदा सुधार हुआ है इसलिए किम वून के लिए जीत हासिल करना आसान नहीं होगा।

“एक व्यक्ति यही सोचता है कि जो वह कर रहा है वही सही है लेकिन यह एक गलत मान्यता है। आंग ला ने मुझे मेरी कमजोरियों के बारे में बताया और उनसे मुझे अपनी कमजोरी को अपनी ताकत बनाने में भी काफी सफलता मिली है।

“इस बाउट के लिए मैं पिछले 2-3 महीने से ट्रेनिंग ले रहा था इसलिए मुझे उम्मीद है कि मेरी यह मेहनत रंग लाएगी।

“अपनी पहली बाउट से पहले मैंने भविष्यवाणी की थी कि कौन से राउंड में मैं अपने प्रतिद्वंदी को हरा पाऊंगा लेकिन इस बार मैं ऐसा कुछ नहीं कहने वाला।“

यह भी पढ़ें: ONE: MARK OF GREATNESS में पूर्व चैंपियंस की भरमार

टियाल थैंग काफी समय से देखते आ रहे हैं कि आंग ला न संग किस तरह बेहतरीन प्रदर्शन कर क्राउड़ को अपनी ओर मोड़ लेते हैं।

चैंपियंस के साथ समय बिताने से जाहिर तौर पर युवा एथलीट्स को काफी कुछ सीखने को मिलता है। टियाल भी आंग ला की ही तरह फैन फेवरेट बनना चाहते हैं लेकिन इसके लिए उन्हें अभी काफी लंबा सफर तय करना है।

उनका मानना है कि क्राउड़ के समर्थन से वो टॉप स्टार बन सकते हैं और अपने देश का नाम भी रोशन करेंगे।

“यह बाउट काफी महत्वपूर्ण है, केवल मेरे लिए नहीं बल्कि मेरे पूरे परिवार के लिए और परिवार में मेरे माता-पिता, भाई-बहन के अलावा सभी देशवासी भी आते हैं।

“एक दिन मुझे वर्ल्ड चैंपियन बनना है और मैं म्यांमार के लोगों से आग्रह करता हूँ कि मलेशिया आकर ONE: MARK OF GREATNESS में हम सभी का मनोबल बढ़ाएं।

यह भी पढ़ें: अपने हौंसले के दम पर गुरदर्शन मंगत ने हेल्थ समस्याओं से छुटकारा पाया