न्यूज़

जियोर्जियो पेट्रोसियन मिलियन डाॅलर के मुकाबले के लिए सामी साना को परास्त करने को है तैयार

सितम्बर 21, 2019

दुनिया में शायद ही कोई एथलीट होगा जो इतिहास के सबसे बड़े मार्शल आर्ट के आयोजन में $ US1 मिलियन डॉलर की इनामी प्रतिस्पर्धा के लिए अपना पूरा दमखम नहीं लगाना चाहेगा। जियोर्जियो “द डॉक्टर” पेट्रोसियन भी उनमें से है जो इसके लिए अपनी पूरी ताकत झौंकने के लिए तैयार हैं।

इटालियन-अर्मेनियाई सुपरस्टार का सामना सामी “एके 47” सना से रविवार, 13 अक्टूबर को टोक्यो, जापान में ONE: CENTURY PART II में ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री चैम्पियनशिप फाइनल में होगा।

उन्होंने कहा कि “मैं उम्मीद करता हूं कि मेरे लिए सामी सना के खिलाफ एक सामान्य मुकाबला होगा। इस समय ना तो मैं इनाम की राशि के बारे में सोच रहा हूं ना ही यह सोच रहा हूं कि यह फाइनल मुकाबला है। इस समय मैं केवल उन बातों पर ध्यान दे रहा हूं जो मुझे मेरे कोच ने सिखाई है। इस समय अगर मैंने अपना ध्यान अलग-अलग चीजों पर लगाया तो मैं अपने लक्ष्य से भटक सकता हूं। अपने प्रतिद्वंद्वी को हराना ही मेरा अंतिम लक्ष्य है।”

 

जुलाई में क्वार्टर फाइनल में पेचमोरकोट पैचंडी अकादमी के खिलाफ एक सर्वसम्मत निर्णय से जीत और एक महीने बाद सेमीफाइनल में “स्मोकिन” जो नट्टावट पर लम्बे पहले राउंड के नॉकआउट से जीत ने पेट्रोसियन के लिए फाइनल की राह दिखाई।

इन प्रदर्शनों ने 33 वर्षीय की प्रतिद्वंदी से लड़ने की क्षमता को प्रदर्शित किया। इसके विपरीत सना ने उस समय दुनिया को चौंका दिया जब उन्होंने मई में सर्वसम्मति निर्णय से “द बॉक्सिंग कंप्यूटर” योद्संकलाई आईडब्ल्यूई फेयरटेक्स को हराया। फिर उन्होंने विश्व ग्रां प्री चैंपियनशिप फाइनल में अपनी जगह पक्की करने के लिए सेमीफाइनल में “चंगेज खान” असकारोव को बहुमत के फैसले से हराया



पेट्रोसियन का मानना ​​है कि “द बॉक्सिंग कंप्यूटर” के खिलाफ सना की जीत को देखने के बाद रयोगोकू कोकुगिकन में उनकी दिमागी गेम-प्लानिंग अलग होगी। मैं इस बात की खुशी है कि मैं उनके खिलाफ मुकाबला करने जा रहा हूं क्योंकि मैं इस मौके का लम्बे समय से इंतजार कर रहा था। सैमी सना और यॉडसंकलाई के बीच हुआ मैच काफी अच्छा था। यह प्रशंसकों के लिए काफी मनोरंजक था क्योंकि वे ज्यादा सोच-विचार किए बिना एक-दूसरे को मार रहे थे।

उन्होंने बताया कि इस मैच में मैंने उनकी बहुत सारी कमजोरियां देखीं। उन कमियों को ध्यान से देखा और अब उन्हीं को देखते हुए तैयारी कर रहे हैं। उन्हें समस्याओं का निवारण करने के कारण ही “डॉक्टर” उपनाम दिया गया था। उन्होंने रिंग में विरोधियों का विश्लेषण करने के बाद उसी के मुताबिक अपनी रणनीति बनाकर हराया है।

Italy's Giorgio Petrosyan connects with a jab on Jo Nattawut in Bangkok

सना की खतरनाक आक्रामक शैली ने अब तक ONE सुपर सीरीज में सर्वश्रेष्ट विरोध मिलान निवासी का भाई आर्मेन को परास्त कर दिया है। अपने हमलों के लिए सही जगह तलाश कर प्रतिद्वंद्वियों के आक्रमण को कम करने में पेट्रोसियन की कुशलता ने उन्हें किकबॉक्सिंग में महान बना दिया है। जापान में “एके47” को रोकना आसान नहीं होगा, लेकिन अगर कोई ऐसा कर सकता है तो वो “द डॉक्टर” है।

पेट्रोसियन कहते हैं कि ” वो एक मुश्किल प्रतिद्वंद्वी है। अगर वो फाइनल में पहुंचे हैं तो वे इसके हकदार हैं। वह सटीक स्ट्राइकर हैं। इसलिए मैं उनका सामना करने की तैयारी कर रहा हूं।

Italy's Giorgio Petrosyan comes over the top and lands a left cross on Petchmorakot Petchyindee Academy

पेट्रोसियन ने फ्रांसीसी की कमजोरियों की खोज करने के बाद प्रशिक्षण शिविर में इसके लिए तैयारी की है ताकि वो 13 अक्टूबर को इसका फायदा उठाकर उन्हें हरा सके। इतालवी-अर्मेनियाई को एक मुश्किल लड़ाई की उम्मीद है। उन्हें विश्वास है कि वो रयोगोकू कोकुगिकन को ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री चैम्पियनशिप बेल्ट के साथ छोड़ेंगे।

उन्होंने कहा कि “मैं रिंग में अपने खेल में ऊपर रहने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा हूं। हालांकि उन्होंने कभी मेरे हमलों का सामना नहीं किया है। हमें इंतजार करना होगा और यह देखना होगा। यह निश्चित रूप से हम दोनों के लिए एक कठिन मुकाबला होगा। ”

ये भी पढ़ें: नटावट पर चौंका देने वाले नॉकआउट के बाद जियोर्जियो पेट्रोसियन ने अब सना पर लगाया ध्यान

टोक्यो | 13 अक्टूबर | ONE: CENTURY | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय सूची का अवलोकन करें | टिकट: https://onechampionship.zaiko.io/e/onecentury

ONE: CENTURY इतिहास की सबसे बड़ी विश्व चैम्पियनशिप मार्शल आर्ट प्रतियोगिता है जिसमें 28 विश्व चैंपियनशिप विभिन्न मार्शल आर्ट का प्रदर्शर करेंग। इतिहास में किसी भी संगठन ने कभी भी एक ही दिन में दो पूर्ण पैमाने पर विश्व चैम्पियनशिप के आयोजनों को बढ़ावा नहीं दिया।

13 अक्टूबर को जापान के टोक्यो में प्रसिद्ध रयोगोकु कोकुगिकन में कई वर्ल्ड टाइटल मुकाबलों, वर्ल्ड ग्रांड प्रिक्स चैंपियनशिप फाइनल की एक तिकड़ी और कई वर्ल्ड चैंपियन बनाम वर्ल्ड चैंपियन मैच के साथ-साथ The Home Of Martial Arts नई जमीन तलाश करेगा।