विशेष कहानियाँ

ONE: NO SURRENDER III की टॉप हाइलाइट्स

ONE: NO SURRENDER III में दुनिया भर के बेस्ट एथलीट्स रिंग में जीत के इरादे से उतरे थे। 21 अगस्त को थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में हुए शो में 7 मार्शल आर्ट्स वर्ल्ड चैंपियंस ने भाग लिया था।

बाउट कार्ड में कुल 6 मुकाबले शामिल रहे और सभी में जबरदस्त एक्शन देखने को मिला और साथ ही मेन इवेंट मैच में बड़ा उलटफेर भी देखा गया।

धमाकेदार मॉय थाई और मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स एक्शन को देखने के बाद हम NO SURRENDER सीरीज के आखिरी इवेंट की टॉप हाइलाइट्स आपके सामने रख रहे हैं।

#1 कुलबडम ने बड़ा उलटफेर कर नॉकआउट से जीत दर्ज की

“लेफ्ट मीटियोराइट” कुलबडम सोर. जोर. पिएक उथाई की स्ट्राइक्स बेहद प्रभावशाली साबित हो रही थीं और उन्होंने पहले राउंड में नॉकआउट से जीत हासिल करते हुए ONE बेंटमवेट मॉय थाई टूर्नामेंट के फाइनल में भी प्रवेश कर लिया है।

कुलबडम और “द मिलियन डॉलर बेबी” सांगमनी क्लोंग सुआनप्लूरिज़ॉर्ट ने मैच के शुरु होते ही एक-दूसरे पर अटैक करना शुरू कर दिया था। एरीना में स्ट्राइक्स के लैंड होने की आवाज आसानी से सुनी जा सकती थी और टॉप बेंटमवेट कंटेंडर्स की तकनीक ने सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया।

Sor. Jor. Piek Uthai टीम के मेंबर के कॉम्बिनेशन शुरुआत में लैंड नहीं हो पा रहे थे लेकिन जैसे-जैसे राउंड समाप्ति की ओर अग्रसर हुआ, उन्होंने शानदार अंदाज में अपनी स्ट्राइक्स को लैंड करवाते हुए फैंस को चौंका दिया था।

कुलबडम ने 4-पंच कॉम्बिनेशन लगाते हुए मैच को अंतिम रूप दिया था। “द मिलियन डॉलर बेबी” ने पहली 2 स्ट्राइक्स को तो ब्लॉक कर दिया, तीसरी से बचने में सफल रहे लेकिन चौथी स्ट्राइक लेफ्ट क्रॉस के रूप में आई जो सीधी सांगमनी की चिन (ठोडी) पर जाकर लैंड हुई।

इसके बाद रेफरी की ओर से किसी काउंट की आवश्यकता नहीं थी। सांगमनी पहले राउंड में 2 मिनट 45 सेकंड बीतने के बाद हार मान बैठे और “लेफ्ट मीटियोराइट” ने इस तरह फाइनल में प्रवेश किया।



#2 वंडरगर्ल ने की धमाकेदार शुरुआत

ONE Super Series में एक नई स्टार ने अपने ONE Championship के सफर की शुरुआत शानदार अंदाज में की है।

वंडरगर्ल फेयरटेक्स को अपनी प्रतिद्वंदी की ताकत से कोई डर महसूस नहीं हो रहा था। अभी मैच को शुरू हुए 81 सेकंड ही बीते थे कि वंडरगर्ल बिना डरे ब्रूक फैरेल की तरफ आईं और पंचों की बरसात कर दी।

पहले वंडरगर्ल ने राइट क्रॉस लगाकर फैरेल को झकझोरा और उसके बाद 2 व राइट क्रॉस के बाद उनकी प्रतिद्वंदी मैट पर गिरी नजर आईं।

हालांकि, डेब्यू कर रहीं ऑस्ट्रेलियाई एथलीट इस अटैक से उबरने में सफल रहीं लेकिन थाई स्टार ने बिना देरी किए लेफ्ट और राइट हैंड्स लगाने शुरू कर दिए। वो ग्राउंड गेम में रहते फैरेल पर लगातार स्ट्राइक्स लगा रही थीं और इसी कारण रेफरी को मैच समाप्ति की घोषणा करनी पड़ी।

इस शानदार शुरुआत के बाद वो पहले विमेंस स्ट्रॉवेट डिविजन टाइटल की टॉप कंटेंडर्स में शामिल हो गई हैं।

#3 रॉयल ने डेब्यू मैच में TKO से जीत दर्ज की

ग्लोबल स्टेज पर अपने डेब्यू मैच में TKO (तकनीकी नॉकआउट) से जीत दर्ज करने से बेहतर शुरुआत शायद बेन रॉयल को नहीं मिल सकती थी।

रॉयल अपनी रणनीति के तहत क्विटिन थॉमस के खिलाफ स्ट्राइक्स लगा रहे थे। उन्होंने दूसरे राउंड में अमेरिकी स्टार के दाएं पैर को लेग किक्स लगाकर खूब क्षति पहुंचाई। लेकिन उनका प्लान शुरू से ही मैच को फिनिश करने का था और वो अपने प्रतिद्वंदी को अपने पास आने के लिए मजबूर भी कर रहे थे।

एक और दमदार लेग किक ने थॉमस को झकझोर कर रख दिया था और रॉयल के पंच भी सही तरीके से लैंड हो रहे थे। उन्होंने शानदार तरीके अपरकट लगाया, जिससे थॉमस की डिफेंसिव रणनीति पूरी तरह जवाब दे गई। इस अटैक के बाद अमेरिकी एथलीट बैकफुट पर जाने के लिए मजबूर हो गए।

ब्रिटिश स्टार ने अपने प्रतिद्वंदी को घेरा, हुक-क्रॉस-हुक कॉम्बिनेशन लगाया और इसके बाद दमदार हुक्स के कारण रेफरी ने मैच समाप्ति की घोषणा करने में भी देर नहीं लगाई।

आखिरी राउंड में 3 मिनट 27 सेकंड में मिली इस जीत के बाद रॉयल का रिकॉर्ड अब 5-1 का हो गया है।

ये भी पढ़ें: ONE: NO SURRENDER III – रिजल्ट्स और हाइलाइट्स, सांगमनी vs कुलबडम