विशेष कहानियाँ

5 धमाकेदार चीजें जो ONE: AGE OF DRAGONS में देखने को मिलीं

नवम्बर 18, 2019

ONE: AGE OF DRAGONS के रूप में दुनिया भर के MMA फैंस को साल 2019 के सबसे बेहतरीन इवेंट्स में से एक देखने को मिला है। क्लोज़ फाइट हुईं, धमाकेदार अंदाज में इसका अंत हुआ और इन्हीं सब चीजों ने इस इवेंट को यादगार बना दिया है।

हालांकि फाइट्स का स्तर हमेशा की तरह अच्छा रहा लेकिन मुकाबलों के जो परिणाम निकल कर आए, उन्हें देख काफी फैंस अपनी आँखों पर विश्वास नहीं कर पाए। खैर यहाँ हम आपको ऐसी 5 चीजों के बारे में बताने वाले हैं जिन्होंने 16 नवंबर को कैडिलेक एरिना में आयोजित हुए इस पूरे इवेंट को यादगार बना दिया है।

यह भी पढ़ें: इलियास एनाहाची ने 5 राउंड के किकबॉक्सिंग रोमांच में बरकरार रखा गोल्ड

#1 अनडिसप्यूटेड नंबर-वन इलियास एनाहाची

Ilias Ennahachi defeats Wang Wenfeng at ONE AGE OF DRAGONS in Beijingइसी साल अगस्त महीने में इलियास “ट्वीटी” एनाहाची ने अपने डेब्यू मुकाबले में ही ONE फ़्लाईवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप अपने नाम कर ली थी लेकिन साथ ही साथ उनके नंबर एक बनने के दावे पर सवाल भी उठ रहे थे।

काफी लोगों का मानना है कि उन्होंने चीन के वांग वेनफ़ेंग “मेटल स्टॉर्म” और पूर्व KLF वर्ल्ड चैंपियन पर अपना प्रभुत्व कायम नहीं किया हैं। फाइट में वांग ज्यादा समय इलियास पर हावी रहे और क्लीन तरीके से अटैक भी कर रहे थे।

यह भी मानने योग्य बात है कि एनाहाची ने 5 राउंड तक चले इस मुकाबले में अपनी बेहतरीन स्ट्राइकिंग स्किल्स से सभी को प्रभावित किया और अंत में इन्हीं स्किल्स के कारण उन्हें जीत भी मिली। स्प्लिट डिसीजन के जरिए आई इस जीत ने अब इलियास एनाहाची को फ़्लाईवेट कैटेगरी का अनडिसप्यूटेड किंग बना दिया है।

यह भी पढ़ें: रोमन क्रीकलिआ ने शानदार नॉकआउट से रचा विश्व खिताबी इतिहास

#2 क्रीकलिआ ने अपने प्रदर्शन में काफी सुधार किया

Roman Kryklia attacks Tarik "The Tank" Khbabez

जब 2015 में रोमन क्रीकलिआ और तारिक “द टैंक’ खबाबेज आमने-सामने आए थे तो उस फाइट में रोमन को हार का सामना करना पड़ा था। उस समय तारिक ने सुपरकॉम्बैट वर्ल्ड ग्रांप्री टाइटल अपने नाम किया था।

उसके 4 साल बाद इनके बीच ONE लाइट हेवीवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप फाइट हुई और KLF वर्ल्ड चैंपियन ने अपने प्रदर्शन में काफी सुधार भी किया है। रोमन ने 4 साल पहले मिली हार का बदला लेते हुए दर्शा दिया है कि वो अपनी कैटेगरी के बादशाह बन चुके हैं।

हालांकि खबाबेज को भी अपने प्रतिद्वंदी को आखिरी समय तक ना बख्शने के लिए जाना जाता है लेकिन इस बार क्रीकलिआ के क्रूर और आक्रामक रवैये से वो खुद की हार को टाल नहीं पाए। पहले हेडकिक और फिर बेहतरीन पंचिंग कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल तारिक को रोकने के लिए काफी साबित हुआ।

ये सभी चीजें दर्शाती हैं कि क्रीकलिआ ने पिछली हार से सबक लिया है और इतिहास रचने के लिए अब वो पूरी तरह तैयार हो चुके हैं।

यह भी पढ़ें: ऋतु फोगाट ने डेब्यू मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स फाइट में ही धमाकेदार जीत दर्ज की

#3 कभी किसी की ताकत को कम नहीं आंकना चाहिए

Jamal Yusupov defeats Yodsanklai IWE Fairtex

योडसंकलाई IWE फेयरटेक्स “द बॉक्सिंग कंप्यूटर” ONE: AGE OF DRAGONS में शामिल फैंस के सबसे पसंदीदा एथलीट्स में से एक रहे। वो किकबॉक्सिंग और मॉय थाई के लैजेंड्स में से एक हैं इसलिए हालिया इवेंट में उनकी हार फैंस के लिए सबसे ज्यादा चौंकाने वाली साबित हुई है।

योडसंकलाई ने पिछले 10 साल से मॉय थाई में हार का सामना नहीं किया था लेकिन रूस के जमाल युसुपोव ने उन्हें ना केवल चौंकाने वाली हार का स्वाद चखाया बल्कि धमाकेदार अंदाज में जीत दर्ज की है। दूसरे राउंड में जमाल को मिली इस जीत को देख काफी फैंस अपनी आँखों पर विश्वास नहीं कर पा रहे थे।

दूसरी ओर एक और लैजेंड एथलीट नीदरलैंड्स की जोरिना बार्स को भी जर्मनी की क्रिस्टीना ब्रूयर के खिलाफ हार मिली। क्रिस्टीना ने शुरुआत से ही आक्रामक रवैया अपनाए रखा इसी कारण तीसरे राउंड के बारे स्प्लिट डिसीजन के चलते जर्मनी की फाइटर को विजेता घोषित किया गया। ये दोनों ही ONE: AGE OF DRAGONS के सबसे बड़े उलटफेर रहे।

यह भी पढ़ें: जमाल युसुपोव ने योडसंकलाई IWE फेयरटेक्स को बनाया उलटफेर का शिकार

#4 ऋतु फोगाट मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स के लिए ही बनी हैं

Ritu Phogat defeats Nam Hee Kim at ONE AGE OF DRAGONS in Beijing

भारतीय रेसलिंग सनसनी ऋतु फोगाट “द इंडियन टाइग्रेस” ने अपनी पहली ही मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स फाइट में एकतरफा जीत दर्ज करते हुए दर्शा दिया है कि वो प्राकृतिक रूप से MMA के लिए ही बनी हैं।

बीजिंग में उन्होंने दक्षिण कोरिया की नाम ही किम “कैप्टन मार्वल” को पहले ही राउंड में हराते हुए अपने करियर को बेहतरीन शुरुआत दिलाई है। ऋतु के मूव्स में साफ देखा जा सकता था कि वो लगातार रेसलिंग तकनीक से अपनी प्रतिद्वंदी को आसानी से नीचे गिराने में सफल हो रही थीं।

इस जीत ने साफ दर्शा दिया है कि वो फुल टाइम मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स फाइटर बनने के लिए कमर कस चुकी हैं। खास बात यह है कि अभी वो केवल 25 साल की हैं और टीम इवॉल्व से उन्हें आने वाले समय में काफी कुछ सीखने को मिलेगा।

यह भी पढ़ें: मियाओ ली ताओ पर पहले ही राउंड में मिली जीत से उत्साहित हैं जेरेमी मियाडो

#5 बेंटमवेट कैटेगरी में सादुलेव युसुप को रोकने वाला कोई नहीं

Yusup Saadulaev at ONE AGE OF DRAGONSयुसुप सादुलेव ने एक और धमाकेदार जीत दर्ज करते हुए ONE बेंटमवेट वर्ल्ड टाइटल की ओर मजबूती से एक और कदम आगे बढ़ा दिया है। जापान के दाइची ताकेनाका के खिलाफ स्प्लिट डिसीजन के जरिए आई इस जीत से सादुलेव का मनोबल सातवें आसमान पर जा पहुँचा है।

मनोबल ऊँचा होना ही था क्योंकि जापान के दाइची काफी आक्रामक रहते हैं और उनके खिलाफ जीत दर्ज करना कभी भी आसान नहीं होता। इस जीत को एक और जीत खास बनाती है और वह यह रही कि पहले राउंड में उन्हें हाथ की हड्डी में फ्रेक्चर हो गया था लेकिन उन्होंने इसे जाहिर नहीं होने दिया।

बेहतरीन ग्रैपलिंग तकनीक और अपने प्रतिद्वंदियों के प्रति उनका बेरहम रवैया उन्हें अपनी वेट कैटेगरी का सब्से बेस्ट फाइटर बना सकता है।