ओज़्कान ने खाई वापसी की कसम: बेस्ट एथलीट्स को हराने तक नहीं रुकूंगा

Sitthichai Tayfun Ozcan 1920X1280 ONE First Strike 46.jpg

एक बड़ी हार के बाद से टायफुन “टरबाइन” ओज़्कान खुद को ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग डिविजन में एक गंभीर और खतरनाक एथलीट के तौर पर स्थापित करने को बेताब हैं।

ओज़्कान #5-रैंक के दावेदार बने हुए हैं, लेकिन वर्ल्ड टाइटल की रेस में शामिल होने के लिए उन्हें शुक्रवार, 25 फरवरी को ONE: FULL CIRCLE में जर्मन स्टार एनरिको “द हरिकेन” केह्ल को पराजित करने की जरूरत होगी।

ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री क्वार्टरफाइनल में थाई लैजेंड सिटीचाई “किलर किड” सिटसोंगपीनोंग से विभाजित निर्णय के जरिए हारने के बाद सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में “टरबाइन” का ये पहला मुकाबला होगा।

उस मुकाबले में तुर्की के स्ट्राइकर 13 फाइट जीतने के सिलसिले के बाद शामिल हुए थे, लेकिन वो भी हाल ही में टूटे हाथ को सही करवाने के बाद रिहैब से होकर आए थे, जिसने उनकी मानसिकता पर काफी प्रभाव भी डाला।

ओज़्कान ने कहा, “इसने मुझे मानसिक तौर पर थोड़ा प्रभावित किया था क्योंकि ये ऑफर कम समय के नोटिस पर मुझे मिला था और उस समय मैं अपनी चोट से उबर रहा था।”

“हालांकि, मुझे पता था कि मेरा हाथ पूरी तरह से ठीक हो चुका है, लेकिन चिंता थी कि मैं कहीं इसे दोबारा न तोड़ बैठूं। ये चीज मेरे दिमाग में चल रही थी।”

Sitthichai exchanges shots with Tayfun Ozcan

इस चिंता के बावजूद “टरबाइन” का सिटीचाई के साथ मुकाबला काफी करीबी रहा था। उन्होंने मुख्य रूप से दूरी घटाने के लिए अपनी बॉक्सिंग का इस्तेमाल किया और तीसरे राउंड में जीत का काफी मजबूत मौका बना लिया था।

लेकिन अंत में 30 वर्षीय एथलीट को लगा कि खेल से दूर रहना और आक्रामकता की कुछ कमी के कारण वो जजों को अपने हक में नहीं ले पाए, जो सबसे ज्यादा मायने रखता है।

ओज़्कान ने कहा, “करीब डेढ़ साल तक खेल से दूर रहने के बाद मुझे लगा कि मेरी लय वापस नहीं लौटी है। वहां मुझे काफी सारी नई चीजों का सामना करना पड़ा, जिसमें एक नए देश में मुकाबला करना और मुझे जितना आक्रामक होना चाहिए था, मैं उतना नहीं हो पाया था।”



“क्योंकि ये काफी करीबी मुकाबला था इसलिए अगर मैंने थोड़ी सी और आक्रामकता दिखाई होती और इतना इंतजार नहीं किया होता तो हो सकता था कि मुकाबला मेरे पक्ष में होता।”

अपने करियर में करीब 100 मुकाबले कर चुके “टरबाइन” की फरवरी 2017 के बाद से ये पहली हार थी, जिसने उन्हें पहले से और ज्यादा गलतियां ठीक करने के लिए विचारशील और उतावला बना दिया था। खासकर, तब जब सिटीचाई ग्रां प्री चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंच चुके हैं।

कई बार के Enfusion चैंपियन नीदरलैंड्स में बहुत कड़ा अभ्यास कर रहे हैं और वो केह्ल से मुकाबला करने के लिए उत्सुक हैं, जो कि दूसरे ग्रां प्री फाइनलिस्ट चिंगिज़ “चिंगा” अलाज़ोव से हार चुके हैं।

ओज़्कान पहले भी ये बात कह चुके हैं कि वो खतरनाक विरोधियों के खिलाफ मैच करना चाहते हैं और 25 फरवरी को वो कई बार के वर्ल्ड चैंपियन का सामना करने जा रहे हैं।

केह्ल भी सिटीचाई की ही तरह माहिर साउथपॉ (बाएं हाथ के) हैं, लेकिन तुर्की के एथलीट का मानना है कि वो पहले की तुलना में इस बार ज्यादा तैयार हैं।

ओज़्कान ने कहा, “मैं काफी उत्साहित हूं क्योंकि किकबॉक्सिंग में एनरिको एक बड़ा नाम हैं।”

“उन्होंने काफी नामी एथलीट्स को हराया है और वो मुकाबले के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। ये काफी अच्छा मुकाबला होने वाला है और इसके लिए मैं काफी प्रेरित हूं। इस बात से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वो साउथपॉ हैं। मैंने इसकी ट्रेनिंग की है और सिटीचाई का सामना करने के बाद ये मेरे लिए कोई परेशानी वाली बात नहीं है।”

Tayfun Ozcan was all business at ONE: FIRST STRIKE.

ये बात साफ है कि “टरबाइन” ONE: FULL CIRCLE में एक धमाकेदार प्रदर्शन करना चाहते हैं क्योंकि वो ग्लोबल प्रोमोशन में चोटी पर पहुंचने का लक्ष्य बना चुके हैं।

वो अपनी काबिलियत का प्रदर्शन करना चाहते हैं और फिर से एक लंबी जीत का सिलसिला कायम रखना चाहते हैं। एक ऐसा सिलसिला, जो उन्हें अंत में फेदरवेट किकबॉक्सिंग डिविजन की बेल्ट को जीतने का मौका दिला सके।

ओज़्कान ने कहा, “मुझे ये मुकाबला जीतने की जरूरत है। मेरे पास इसके अलावा और कोई चारा नहीं है। मुझे ये मुकाबला जीतना ही होगा।”

“मैंने अपने करियर में लगातार दो मुकाबले कभी नहीं हारे हैं। मैं ये दिखाना चाहता हूं कि दुनिया के सबसे बड़े संगठन के लिए मेरे पास क्या है। मैं सबसे अच्छा एथलीट बनने की इच्छा रखता हूं और जब तक वहां नहीं पहुंच जाता, तब तक रुक नहीं सकता हूं।”

“अगर मैंने सबसे अच्छे एथलीट्स को नहीं हराया है तो मुझे अपनी विरासत बनाने के लिए ऐसा करने की जरूरत है। ऐसा इसलिए ताकि आने वाले पांच साल के बाद जब मैं पलटकर देखूं तो ये कह सकूं कि मैंने उन बड़े नामों को हराया है। मैं सबसे बेहतर एथलीट हूं।”

ये भी पढ़ें: रीनियर डी रिडर: मैं अबासोव पर शुरु से लेकर अंत तक दबदबा बनाकर रखूंगा

किकबॉक्सिंग में और

Petchmorakot Petchyindee Tawanchai PK Saenchai ONE161 1920X1280 103
Chingiz Allazov with Anatoly Malykhin at ONE Fight Night 6
Chingiz Allazov after winning the title at ONE Fight Night 6
Stamp Fairtex Anna Jaroonsak ONE Fight Night 6 1920X1280 4
Rodtang Jitmuangnon celebrating his victory
Superbon Singha Mawynn and Chingiz Allazov attacks each other
Superbon Singha Mawynn Chingiz Allazov ONE Fight Night 6 1920X1280 98
Aung La N Sang unleashing ground and pound on his opponent Gilberto Gilvao
Chingiz Allazov celebrates title win over Superbon Singha Mawynn
Superlek Kiatmoo9 Daniel Puertas ONE Fight Night 6 1920X1280 44
Superbon ChingizAllazov Faceoff OFN6 1920X1280
Stamp Fairtex after winning against Jihin Radzuan