न्यूज़

रोडटंग ने पांच राउंडों के संघर्ष के बाद बरकरार रखी बेल्ट

अक्टूबर 13, 2019

रोडटंग जित्मुआंगनोन “द आयरन मैन” ने ONE: CENTURY PART II पर ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल के लिए वाल्टर गोंसाल्वेस से हुए मैराथन मुकाबले में बहुत ही मुश्किल से अपने खिताब का बचाव किया।

थाई सुपरस्टार ने रविवार, 13 अक्टूबर को जापान के टोक्यो स्थित रयोगोकू कोकुगिकन में पांच राउंडों के संघर्ष के बाद जजों के विभाजित निर्णय से जीत हासिल करते हुए अपनी बेल्ट का बचाव किया है।

???? RODTANG REIGNS SUPREME ????

???? RODTANG REIGNS SUPREME ????Thai superstar Rodtang Jitmuangnon ???????? overcomes a gutsy effort by Walter Goncalves to retain the ONE Flyweight Muay Thai World Title via split decision!????: Check local listings for global broadcast details????: Watch on the ONE Super App ???? http://bit.ly/ONESuperApp????: Shop Official Merchandise ???? http://bit.ly/ONECShop

Posted by ONE Championship on Sunday, October 13, 2019

बाउट के शुरुआत दोनों फाइटरों ने लेग किक्स के साथ की, लेकिन रोडटंग ने थम्पिंग हेड किक के साथ अपने विरोधी को पहला निर्णायक झटका दिया तो उनके विरोधी ने भी उन्हें तत्काल प्रतिक्रिया दे दी।

तीन बार के मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन गोंसाल्वेस ने एक बेहतरीन किक के जरिए रोडटंग को फर्श पर गिराते हुए दिखाया कि उनके पास भी कुछ है। इस मौके से वह अपने प्रतिद्वंद्वी से आगे निकल गए। उन्होंने आक्रामक थाई का मुकाबला करने और उन्हें हताश करने के लिए एक गेम प्लान लागू किया था।

रोडटंग ने लगातार दो राउंडों में लेफ्ट किक से अपने विरोधी के शरीर पर हमला किया और बैकपैकिंग करने वाले बा्रजीजियन को सर्कल के केंद्र में आने के लिए प्रेरित किया। हालांकि, गोंसाल्वेस ने पीछे के पैर से काम करना जारी रखा और 22 वर्षीय विश्व चैंपियन के रूप में प्रभावी ढंग से कदम बढ़ाया।

तीसरे राउंड में बा्रजीलियन के लगातार बैक फुट पर चलने के प्लान से रोडटंग को निराशा हाथ लगी और उन्होंने दो बार अपने विरोधी को आगे आने और संघर्ष करने के लिए प्रेरित किया।

बाउट में लगातार दूरी बनाए रखने को लेकर रैफरी ने दोनों ही एथलीटों को करीबी मुकाबला करने की चेतावनी दे दी। इसका उन्होंने विधिवत जवाब दिया कि रॉडटंग पंचों की झड़ी के साथ आगे बढ़े और अपने विरोधी को कैनावास पर भेज दिया।

हालांकि इस दौरान रैफरी ने एथलीट को उठाने के लिए गणना नहीं की, लेकिन लेकिन ऐसा लग रहा था कि रोडटंग अपने परवान पर चढ़ रहे हैं। इसके बाद थाई हीरो के एक डंप ने राउंड खत्म होने से ठीक पहले गति में बदलाव लाने पर जोर दिया।

गत विश्व चैंपियन ने चैम्पियनशिप राउंड के पहले दौर में दबाव बनाए रखा क्योंकि वह आगे बढ़े तो गोंसाल्वेस का एक और पंच कैनवास से जा टकराया। इसके बाद लगातार एक्शन जारी रहा। थाई एथलीट ने ब्राजीलियन पर दबाव बनान जारी रखा और शानदार स्वीप का जवाब दिया।

आपस में गले मिलने के बाद दोनों दिग्गज पांचवे रांउड के लिए रिंग में पहुंच गए। इस राउंड में गोंसाल्वेस ने थाई एथलीट की ठोड़ी पर एक शानदार किक मारकर दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींच लिया। हालांकि इस किक को झेलने के बाद भी रोडटंग किसी तरह से खड़े रहे और अंतिम बेल बजने से पहले अपनी रफ्तार बढ़ा दी।

आखिरकार पांच संघर्षपूर्ण राउंडों के बाद बाउट का निर्णय जजो के हाथों में चला गया। यह एक करीबी कॉल था क्योंकि एक न्यायाधीश ने
गोंसाल्वेस के पक्ष में निर्णय दिया तो दो ने रोडटंग के पक्ष में निर्णय देते हुए उन्हें बेल्ट से सम्मानित किया।

इस जीत के साथ बैंकॉक के दिग्गज ने अपने मॉय थाई करियर की 260वीं जीत हासिल की और पहली बार अपने ONE फ्लाइवेट मॉय थाई विश्व खिताब का बचाव किया।