न्यूज़

मुराद रामज़ानोव ने डेब्यू मैच में जीत के बाद भविष्य में वर्ल्ड चैंपियन बनने की इच्छा जाहिर की

मुराद रामज़ानोव ने शुक्रवार, 28 फरवरी को ONE वेल्टरवेट के अपने डेब्यू मैच में तकनीकी नॉकआउट से “वुल्वरिन” बे म्यूंग हो पर जीत हासिल करके ग्लोबल स्टेज पर सबका ध्यान अपनी ओर खींच लिया।

ONE: KING OF THE JUNGLE में 24 साल के रूसी एथलीट ने पहले राउंड के खत्म होने के कुछ सेकेंड पहले ही जीत हासिल कर ली थी। ऐसे में उन्होंने अपनी अजेय बढ़त को 9-0 तक बढ़ा लिया है। इस तरह से वो अपने डिविजन में लोक्रप्रिय युवा एथलीट बन गए हैं।

रूस के मखचक्ला के मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स एथलीट के खेल में आए सुधार से अब उनके प्रशंसकों की उम्मीदें काफी बढ़ गई हैं। वो WMMAA वर्ल्ड टाइटल जीत चुके हैं और अब The Home Of Martial Arts में उनकी नजरें टॉप पर पहुंचने पर हैं।

सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में शानदार प्रदर्शन के बाद रामज़ानोव ने बताया कि उन्होंने ये प्रभावशाली जीत कैसे दर्ज की और इस स्पोर्ट में सबसे ऊंचे लेवल पर अपनी छाप छोड़ने के बाद वो भविष्य में क्या करने वाले हैं।

ONE Championship: क्या आपको पहले ही राउंड में ऐसे ताकतवर विरोधी को पछाड़ने की उम्मीद थी?

मुराद रामज़ानोव: बे म्यूंग हो बहुत मजबूत एथलीट हैं। वो कौशल से भरपूर, एथलेटिक और किसी के लिए भी खतरनाक प्रतिद्वंदी हैं।

मुझे नतीजा जजों पर छोड़ना पसंद नहीं है। अगर आप मेरे रिकॉर्ड को देखेंगे तो उनमें एक पैटर्न नजर आएगा। अगर मुझे कोई मौका मिलता है तो मैं अपने विरोधी को जल्दी फिनिश कर देता हूं। साथ में विरोधी को मैच खत्म होने से पहली थका देता हूं। इसके लिए मैं चोक या ग्राउंड स्ट्राइक का सहारा लेता हूं। साथ ही इस बात से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि मैं कैसे और कितने तरीके अपनाता हूं।



ONE: मैच से पहले आप अपने विरोधी के बारे में कौन सी जानकारियां जुटाते हैं और फिर उससे गेम प्लान तैयार करते हैं, इसे कैसे देखते हैं?

मुराद रामज़ानोव: मैंने बे म्यूंग हो की ओर देखा और सोचा कि क्या बात है, ये हैं एक तगड़े एथलीट, जिन्हें काफी एक्सपीरियंस है। उनके पास मुझसे ढाई गुना ज्यादा बाउट्स का अनुभव था। वो कोरिया में चैंपियन रह चुके हैं और ऑल राउंडर हैं। देखकर लगा कि वो हार न मानने वाले एथलीट हैं और तीन व पांच राउंड वाली बाउट्स का हिस्सा रह चुके हैं।

मैं फ्लोर पर खड़ा होकर उनका सामना करने के लिए तैयार था। मेरे पास अपनी तैयारियों को उनके मुताबिक ढालने का समय नहीं था क्योंकि ONE के साथ कॉन्ट्रैक्ट साइन करने के दो दिन बाद ही मैं सिंगापुर आ गया था। इस वजह से मुझे चालाकी से काम करना था। मैं जब भी संदेह में होता हूं तो नीचे से टेकडाउन और ग्राउंड फिनिश को अच्छी तरकीब मानता हूं। मैं काफी ताकतवर हूं क्योंकि ऐसा बनने में मुझे बहुत मेहनत करनी पड़ी है। मुझे विश्वास था कि मैं अपने विरोधी को हरा सकता हूं।

मेरी ऐसी रणनीति नहीं थी कि उन्हें इतनी जल्दी हराना है। मैं घूमकर सांस लेते हुए अपनी लय पाना चाहता था क्योंकि मेरा शरीर तब वहां के माहौल में ढलने की कोशिश कर रहा था। उन्होंने मुझ पर शुरुआत से ही दबाव बनाना शुरू कर दिया था इसलिए मुझे उनका जवाब देना ही था।

जब दोनों ही एथलीट राउंड की शुरुआत में फ्रेश होते हैं, तो मुक्के चलाना खतरे से खाली नहीं होता है। मैंने सोचा कि मैं उन्हें जमीन पर गिराकर थकाने की कोशिश करता हूं। फिर दूसरे राउंड में मेरे पास अपनी स्ट्राइकिंग स्किल्स दिखाने का मौका होगा, लेकिन अंत में मैंने जो उन पर दबाव डाला, वो उनके लिए काफी था।

Murad Ramazanov scores a takedown on Bae Myung Ho

ONE: आपने जब विरोधी को गिरा दिया था तो क्या ऐसा लगा कि अब वे ज्यादा समय तक नहीं टिक पाएंगे?

मुराद रामज़ानोव: वो काफी अनुभवी और शरीरिक तौर पर ताकतवर एथलीट हैं, पर मुझे लगता था कि मैं शायद उनसे बेहतर हूं। ये सब तकनीक और गेम प्लान का खेल है। मुझे पता है कि अपने विरोधी को कैसे डराना है और कैसे कमजोर करना है।

जब हम ग्राउंड पर थे तो मैं उन्हें नीचे से सिर पर वार करने में कामयाब रहा। मेरी नी ने उन्हें बहुत दर्द पहुंचाया। तभी मुझे एहसास हो गया था कि वो अब ज्यादा कुछ नहीं कर पाने की स्थिति में होंगे।

ONE: क्या आपको पहला राउंड खत्म होने से पहले क्लैपर सुनाई दिया था और क्या घंटी बजने से पहले आपने मैच खत्म करने के लिए जोर लगाया था?

मुराद रामज़ानोव: हां, मैंने वो सिग्नल सुना था लेकिन मैंने ज्यादा जोर इसलिए लगाया था क्योंकि मेरे विरोधी अपनी ताकत तेजी से गंवा रहे थे और उनकी सांसें तेजी से चल रही थीं। जब वो थक रहे थे तो मुझे लगा कि अपनी स्पीड बढ़ाने का ये सही समय है। इस वजह से मैंने उन पर घुटने और कोहनी बरसाने शुरू कर दिए।

अगर मैं उन्हें फिनिश न कर पता तो ब्रेक के दौरान मुझे भी थोड़ा रेस्ट मिल जाता लेकिन उनका पूरा तरह रिकवर हो पाना मुश्किल होता। इस वजह से तब मैं उन्हें दूसरे राउंड में जल्दी फिनिश कर देता।

ONE: क्या लगता है कि आपने अपने प्रतिद्वंदी के खिलाफ स्टैंडअप बाउट में कैसा प्रदर्शन किया?

मुराद रामज़ानोव: मैं एक अच्छा स्ट्राइकर हूं और उम्मीद है कि दर्शकों को ये चीज भविष्य में देखने को मिलेगी। ऐसे में मैं अपने डेब्यू मैच में रिस्क नहीं लेना चाहता था।

मैंने ये बाउट 10 दिन की नोटिस पर खेली। जो मुझसे हो सका और जो सही लगा, वो मैंने किया।

Murad Ramazanov finishes Bae Myung Ho at ONE KING OF THE JUNGLE

ONE: The Home Of Martial Arts में आप अपने डेब्यू प्रदर्शन को कैसा मानते हैं?

मुराद रामज़ानोव: मुझे बहुत खुशी है कि डेब्यू के हिसाब से मेरा प्रदर्शन अच्छा रहा। मैंने अपनी कुछ स्किल्स और डॉमिनेटिंग कैरेक्टर को दिखाया। मैं पूरे दो महीने के ट्रेनिंग कैंप के बाद फिर से केज में जाने के लिए उत्साहित था।

ONE: सिंगापुर की पहली ट्रिप में आपको मजा आया?

मुराद रामज़ानोव: ट्रिप बहुत शानदार रही। इसके लिए मैं फैंस और ONE स्टाफ को थैंक्स कहना चाहूंगा। हालांकि, कोरोनावायरस के चलते ONE ने इवेंट्स को बंद दरवाजों में कराने का फैसला किया था। इससे मैं थोड़ा निराश हूं क्योंकि दर्शकों की मौजूदगी से आपको काफी ऊर्जा मिलती है।

लेकिन फैंस ने मुझे इंस्टाग्राम पर फोटो और मैसेज भेजकर सपोर्ट किया है। वहीं, कुछ लोगों ने तो मेरे होटल के बाहर भी फोटो खींचे हैं। फैंस ने जो इज्जत और शुभकामनाएं दीं, वो मेरे दिल को छू गई हैं। ONE में काम करने वाले सभी लोगों का मैं विशेष रूप से आभारी हूं। उन्होंने मेरी बहुत अच्छी देखभाल की। मुझे किसी भी चीज की चिंता नहीं करनी पड़ी। वाकई में मैं उनकी शानदार मेहमाननवाजी के लिए आभारी हूं।

ONE: प्रोफेशनल के तौर पर आपका रिकॉर्ड अब 9-0 है, आपके लिए इस रिकॉर्ड को बनाए रखना कितना जरूरी है?

मुराद रामज़ानोव: बेशक, मैं अपना ये रिकॉर्ड खराब नहीं होने देना चाहता हूं। जितना हो सकेगा मैं ये रिकॉर्ड क्लीन रखने का प्रयास करूंगा लेकिन अगर मैं हार गया तो उसे भी इज्जत के साथ स्वीकार करूंगा।

इस खेल में कई सारी चीजें हैं, जो हमारे ऊपर निर्भर नहीं करती हैं। भले ही आपने कितना भी अच्छा कैंप किया हो या आपका दिल शेर का क्यों न हो। बस एक अच्छा पंच आपको बाहर करने के लिए काफी होता है। ऐसे में हम अपना बेस्ट करने के अलावा कुछ और नहीं कर सकते हैं।

Murad Ramazanov celebrates his win against Bae Myung Ho at ONE KING OF THE JUNGLE

ONE: ONE रोस्टर का हिस्सा बनना आपके लिए कितना मायने रखता है और ONE वेल्टरवेट डिविजन में आप क्या हासिल करना चाहेंगे?

मुराद रामज़ानोव: मैं ONE को काफी दिनों से फॉलो कर रहा हूं और हमेशा से ही इसका हिस्सा बनना चाहता था। मैं जब छोटा था, तब मेरे पास मरात गफूरोव के ONE ब्रांडेड ग्लव्स थे। ये उस समय की बात है, जब वो ONE चैंपियन नहीं बने थे।

अब मैं भी ONE में हूं और ये जानकर काफी प्रेरणा मिलती है कि ONE में मैं काफी आगे तक जा सकता हूं। ONE ने मुझे चुनकर सही फैसला किया है और जल्दी ही मैं सबको ये दिखा दूंगा कि मैं टाइटल के लिए दावेदारी पेश करने के काबिल हूं।

ये भी पढ़ें: होनोरियो बानारियो ने शेनन विराचाई पर मिली शानदार जीत के बारे में बात की

हमारे सर्वे में हिस्सा लेकर VVIP अनुभव जीतें!