Muay Thai

जोश टोना स्ट्रॉवेट चैंपियनशिप के लिए सैम-ए से बाउट को हैं तैयार

पिछले शुक्रवार, 7 फरवरी को एक नए स्ट्रॉवेट दावेदार के रूप में जोश “टाइमबॉम्ब” टोना उभरकर आए, जिन्होंने मॉय थाई लैजेंड एंडी “पनिशर” हाओसन को एक बेहतरीन बाउट में नॉकआउट के जरिए पराजित कर दिया था।

ये नए डिवीजन में “टाइमबॉम्ब” की पहली ONE Super Series बाउट थी। उन्होंने पांच बार के मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन को ONE: WARRIOR’S CODE में दूसरे राउंड में ही रोक दिया था। इस बड़े उलटफेर के साथ ही ऑस्ट्रेलियाई एथलीट ने वर्ल्ड टाइटल के संभावित दावेदार के रूप में खुद को पेश कर दिया है।

MuayU प्रतिनिधि ने अब तक The Home Of Martial Arts में किकबॉक्सिंग और मॉय थाई नियमों के तहत तीन मैचों में जीत हासिल की है। उन्हें लगता है कि वो तेजी से आगे की ओर अपने कदम बढ़ा रहे हैं।

उन्होंने खुलासा किया, “सच में मैं जीत के बाद उत्साहित था। मैं वास्तव में नहीं जानता था कि बाउट किस ओर जाएगी।”

“मैंने खुद से कहा कि अगर मैं आगे के राउंड में मैच ले जाता हूं तो मेरा दबाव बढ़ेगा और मैं उन्हें उस वक्त रोक सकता हूं। हालांकि, मुझे ऐसा नहीं लगता था कि ऐसा होगा। ये काफी आश्चर्यजनक और बेहद सुखद क्षण था।”

“टाइमबॉम्ब” ये स्वीकार करते हैं कि वो सच में इंडोनेशिया के जकार्ता में मैच शुरू होने से पहले घबराए हुए थे लेकिन उन्होंने ये बात जाहिर नहीं होने दी। उन्होंने मैच शुरू होने की घंटी बजने के साथ विरोधी पर आक्रमण कर दिया। “पनिशर” के साथ हुए बराबरी के मैच में वो जैसे ही भारी पड़े, उस पल ने उनका आत्मविश्वास बढ़ा दिया।

उन्होंने कहा, “मैं मैच की शुरुआत में वास्तव में घबराया हुआ था लेकिन मैंने वापसी के लिए खुद को समझाया कि तुमने इस मौके के लिए कड़ी मेहनत और तैयारी की है। मुझे ये देखकर अच्छा लगा कि मैं बेहतर करने के लिए खुद को प्रोत्साहित कर पाया।”

“खुद को समझाने की उस छोटी सी प्रक्रिया के बाद मैंने जब हिट किया तो मैं आत्मविश्वास से भरा हुआ महसूस करने लगा। मैंने उन्हें हिट किया और उनकी नाक के ऊपर हमला किया। इस वजह से जैसे-जैसे राउंड आगे जा रहा था, मेरा आत्मविश्वास भी बढ़ रहा था। मुझे लगता है कि मैंने अपने कुछ अच्छे और प्रभावशाली शॉट्स की वजह से राउंड जीत लिया था।”



कैनबरा में रहने वाले एथलीट ने दूसरे राउंड में भी हमला जारी रखा। उन्होंने अपने कोच काइरन वॉल्श की सलाह से हाओसन को अधिक दबाव में लाने की कोशिश की। उनकी ये कोशिश तब तक जारी रही, जब तक उन्हें जीत हासिल करने के लिए निर्णायक पल नहीं मिल गया।

टोना ने आगे कहा, “काइरन ने मुझे बताया कि उनकी किक्स को पकड़ने की कोशिश मत करो क्योंकि वो दाएं हाथ से सीधा प्रहार करने के पहले दाईं किक से मारने की कोशिश कर रहे थे। उन्होंने मुझे ज्यादा किक मारने के साथ दबाव बनाने के लिए कहा।”

“मैं अपने विरोधी को थका हुआ महसूस कर सकता था। मुझे लगा कि मेरे नी अटैक की वजह से वो असहज होते जा रहे थे। बस यही वो रास्ता था, जिस पर मैं दूसरे और तीसरे राउंड में चला।

“फिनिश महज एक प्रतिक्रिया थी। मुझे लगता कि हम लगातार इसका अभ्यास कर रहे थे। मैं इसके साथ ही आगे बढ़ रहा था और देख रहा था कि आगे क्या होगा। ”

ग्लोबल स्टेज पर एक अस्थिर शुरुआत करने वाले 31 साल के ISKA K-1 वर्ल्ड चैंपियन को अब अपना सर्वश्रेष्ठ रूप मिला है। उनकी हाल ही की जीत अब तक के मुकाबलों में सबसे प्रभावशाली रही है।

Australian strawweight Josh Tonna hits Andy Howson with a knee

हालांकि, वो अपनी सफलता का श्रेय कई कारकों को देते हैं, जो उनके साथ सही समय पर आए हैं।

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि मूविंग जिम मेरे लिए बहुत अच्छा साबित हुआ और मैंने खुद को तैयारियों में लगा दिया।”

“पिछले साल मैंने बहुत ज्यादा स्ट्रेंथ पर काम किया, जिसने मुझे मजबूत बना दिया। ये तैयारी मुझे एक अलग डिविजन की ओर ले गई। मैंने इन सारी चीजों को इकट्ठा किया और सही दिशा में चल दिया। मुझे लगता है कि मैं अपनी ताकत को साथ ले आया हूं। मैंने अपनी पावर लूज नहीं की है। मैं बस खुद को पहले से ज्यादा तेज महसूस करने लगा हूं। मेरे पास एक अलग तरह की ऊर्जा है। मैंने बाउट वाले दिन भी ट्रेनिंग ली और पूरे हफ्ते शानदार महसूस किया।

“ये एक अच्छी वापसी रही है। मैं अपनी पहली बाउट में धराशायी हो गया था लेकिन मैंने फिर से वापसी कर ली है। उम्मीद करता हूं कि आगे जो भी मैच होगा, उसके लिए मैं अपनी गति बनाए रखूंगा।”

ऑस्ट्रेलियन एथलीट का आत्मविश्वास और गति सभी उच्च स्तर पर हैं। जकार्ता में उनके यादगार नॉकआउट ने उन्हें ONE Super Series के स्ट्रॉवेट डिविजन के शीर्ष एथलीटों के बीच में लाकर खड़ा कर दिया है और उनकी महत्वकांक्षाओं को बल दिया है।

उनका मानना है कि अब उनके पास ऐसी क्षमता है, जिसके दम पर वो इस डिविजन के सबसे अच्छे एथलीट का भी सामना कर सकते हैं। उन्हें जो भी चैलेंज मिलता है, वो उसका सामना करने के लिए पूरी तरह से उत्साहित हैं।

JOsh Tonna celebrates his victory against Andy Howson

वो कहते हैं, ”ONE के लोग जो कुछ भी करना चाहते हैं, मुझे उस प्रक्रिया पर भरोसा है।”

“अगर वो अगले मैच के लिए मेरा प्रतिद्वंदी देख रहे हैं तो ये अच्छी बात है। मुझे उन पर भरोसा है कि वो जो भी करेंगे मुझे बेहतर करने की दिशा में ही होगा। वो अगर मजबूत विरोधी लाकर मुझे और बेहतर एथलीट बनाना चाहते हैं तो मैं इसके लिए तैयार हूं। फिर भी अगर मुझे अगले कुछ महीनों में होने वाली बाउट के लिए विरोधी चुनने का मौका मिलता है तो मैं सैम-ए गैयानघादाओ से किक बॉक्सिंग बेल्ट पाने के लिए मैच करना चाहूंगा।”

ये भी पढ़ें: भविष्य में किसी के साथ भी मैच के लिए तैयार हैं इंडोनेशियाई स्टार फजर

सिंगापुर | 28 फरवरी | ONE: KING OF THE JUNGLE  | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं