हू योंग के खिलाफ वर्ल्ड टाइटल की दौड़ फिर से शुरू करने के लिए उत्सुक हैं एको रोनी सपुत्रा – ‘मैं हारा, लेकिन मैंने उससे सीखा’

Eko Roni Saputra Yodkaikaew Fairtex ONE162 1920X1280 11

ONE Fight Night 15 में एक महत्वपूर्ण जीत के साथ एको रोनी सपुत्रा अपने सफर को दोबारा शुरू करना चाहते हैं, जहां उनका लक्ष्य है फ्लाइवेट MMA डिविजन की ऊंचाइयों पर पहुंचना।

इंडोनेशियाई स्टार इस शनिवार, 7 अक्टूबर को “वुल्फ वॉरियर” हू योंग का सामना करेंगे। अपनी आखिरी फाइट में सात मैचों की जीत की लय को खोने के बाद वो जानते हैं कि जीत के रास्ते पर वापस आना बेहद आवश्यक है।

हालांकि, सपुत्रा को नहीं लगता कि जब वो थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक के प्रसिद्ध लुम्पिनी बॉक्सिंग स्टेडियम में उभरते हुए फाइटर हू से भिड़ेंगे तो जीत आसान होगी।

इसके बजाय, उनको उम्मीद है कि उनके प्रतिद्वंद्वी मुकाबले के लिए कभी न हार मानने वाले दृष्टिकोण के साथ रिंग में प्रवेश करेंगे:

“मुझे लगता है कि ये मेरे लिये बेहद रोमांचक फाइट होगी। मैंने पहले एक चीनी फाइटर का मुकाबला किया है और मुझे पता है कि वो कभी हार नहीं मानते। उन्हें हारना पसंद नहीं। उन्हें हर कीमत पर जीतना है। अगर वो एक नॉकआउट अर्जित नहीं कर पाते तो वो अंत तक लड़ते रहते हैं। वो ऐसे ही होते हैं।”

दोनों ही प्रतियोगी फ्लाइवेट डिविजन के टॉप 5 कंटेंडर्स की लिस्ट में आने के बेहद करीब हैं, लेकिन उच्च रैंक वाले विरोधियों के खिलाफ असफलताओं ने उन्हें बाहर रखा है।

फरवरी में #2 रैंक के कंटेंडर डैनी किंगड के खिलाफ हुआ मैच उन्हें ऊपर ले जा सकता था, मगर फिलीपिनो दिग्गज के खिलाफ एक कठिन सर्वसम्मत निर्णय के कारण उन्हें हार मिली।

लगातार सात बार पहले राउंड में फिनिश अर्जित करने वाले इस Evolve MMA के प्रतिनिधि के लिए ये एक करारा झटका था। इससे उन्हें ये समझने का मौका भी मिला कि उन्हें कहां सुधार करना चाहिए और सर्वश्रेष्ठ को हराने के लिए क्या आवश्यक है।

32 वर्षीय एथलीट ने बताया:

“मैं (हू के खिलाफ) शांत और अधिक ध्यान केंद्रित कर फाइट की कोशिश करूंगा क्योंकि जब मैंने किंगड से फाइट की थी तो बहुत सारी ऊर्जा बर्बाद हुई थी। जब मैंने उनसे फाइट की तो मैंने कई गलतियां कीं।

“सबसे पहले मेरी भावनाएं बहुत विस्फोटक थीं और मेरे द्वारा गेम प्लान पूरी तरह से लागू नहीं किया गया था। तो तब से, कुछ भी योजना के अनुसार नहीं हुआ। मैं हारा, लेकिन मैंने उससे सीखा। मैंने मैच का वीडियो देखा और जाना कि मुझमें कहां कमी है और मैं किसमें अच्छा हूं।

“जब हम हारते हैं तो हमें निराश नहीं होना चाहिए। हमें फिर से उठना सीखना होगा और बहुत बेहतर बनना होगा। इसलिए अपनी पिछली हार के बाद मैंने कई चीजें सुधार ली हैं।”

‘उनका ग्राउंड गेम खराब है’ – हू की ग्रैपलिंग पर सपुत्रा के विचार

पहले से कहीं अधिक जज्बे और एक मार्शल आर्टिस्ट के रूप में अपने सफर पर एक नए दृष्टिकोण के साथ एको रोनी सपुत्रा, हू योंग द्वारा प्रस्तुत की जाने वाली कठिन चुनौती के लिए तैयार हैं।

हू ने ONE Hero Series में 4-0 का रिकॉर्ड बनाया और ONE Championship के ग्लोबल स्टेज पर अपनी जगह बनाई। तब से उन्होंने 3-1 की बढ़त बनाई है जहां एक हार #4 रैंक के फ्लाइवेट MMA कंटेंडर युया वाकामत्सु के ख़िलाफ़ आई है।

उसके बाद 27 वर्षीय चीनी स्ट्राइकर ने जेहे युस्ताकियो और वू सुंग हूं के खिलाफ जीत से वापसी की, लेकिन इसके बावजूद सपुत्रा ने उनके गेम में कुछ कमज़ोरियां देखी हैं, जिसको वो शनिवार को उजागर करने की कोशिश करेंगे।

उन्होंने कहा:

“मैंने युया वाकामत्सु के साथ उनकी फाइट का अध्ययन किया। मुझे लगता है कि उनका ग्राउंड गेम खराब है, बिल्कुल भी अच्छा नहीं है क्योंकि युया उन पर कई टेकडाउन लगाने में कामयाब रहे। मैं देख सकता था कि उनका स्टैंड-अप गेम बहुत अच्छा था, लेकिन फिर ग्राउंड में वो अच्छे नहीं थे।

“मैं उनके साथ ग्राउंड पर अधिक प्रतिस्पर्धा करने की कोशिश करूंगा। हमें नहीं पता कि तब से उन्होंने अपने ग्राउंड गेम को कितना विकसित किया है, लेकिन अगर मैं एक टेकडाउन अर्जित कर लूं तो मैं फाइट को ज़्यादा नियंत्रित करने का प्रयास करूंगा और धैर्य से ग्राउंड-एंड-पाउंड या सबमिशन की कोशिश करूंगा।”

वो अपने अगले प्रतिद्वंदी की आक्रामक किकबॉक्सिंग का सम्मान करते हैं, लेकिन सपुत्रा ने भी अपनी स्ट्राइकिंग पर काफी सुधार किया है।

पूर्व इंडोनेशियाई रेसलिंग चैंपियन अपनी ग्रैपलिंग पर भरोसा रखेंगे, लेकिन 2021 में लिउ पेंग शुआई को नॉकआउट करने के बाद MMA में उन्हें अपने मुक्कों पर काफी विश्वास होने लगा है।

इसे ध्यान में रखते हुए, सपुत्रा को लगता है कि वो स्टैंड-अप आदान-प्रदान में अपनी पकड़ बना सकते हैं, खासकर अगर उनके शॉट्स हू की ठोड़ी पर लगने लगें।

उन्होंने आगे कहा:

“मैंने जो देखा है, उससे ये प्रतीत होता है कि हू जोर से प्रहार सहन नहीं कर सकते। अगर उन्हें जोर से मारा जाए तो उनका गेम तुरंत बिगड़ सकता है। हमने यही देखा जब उन्होंने युया से फाइट की थी।

“उम्मीद है कि उनका खेल नहीं बदला है, क्योंकि मेरे पास भी एक मजबूत पंच है और मैं चाहूंगा कि वो सटीक तरह से लगे। अगर वो सतर्क नहीं रहे तो मैं एक और नॉकआउट का लक्ष्य रखूंगा। मैं एक जबरदस्त घमासान की उम्मीद कर रहा हूं।”

न्यूज़ में और

Sumit Bhyan VS Matheus Pereira
Lara Fernandez Yu Yau Pui ONE Fight Night 20 40
Roman Kryklia Alex Roberts ONE Fight Night 17 16 scaled
Hiroba Minowa Jeremy Miado ONE Fight Night 23 5 1
Ferrari Fairtex defeats Antar Kacem ONE Friday Fights 47 11
Rambolek Chor Ajalaboon Soner Sen ONE Friday Fights 51 12 scaled
Rodtang Jitmuangnon Jacob Smith ONE157 1920X1280 31
Petsukumvit Boi Bangna Kongsuk Fairtex ONE Friday Fights 53 14 scaled
Songchainoi Kiatsongrit Rak Erawan ONE Friday Fights 71 8
1157
Hiroba Minowa Gustavo Balart ONE 165 53 scaled
Sean Climaco Josue Cruz ONE Fight Night 22 44