न्यूज़

गुरदर्शन मंगत दूसरी ONE Championship जीत के साथ बढ़ रहे हैं आगे

जुलाई 26, 2019

गुरदर्शन “सेंट लायन” मंगत ने अब्रो “द ब्लैक कोमोडो” फर्नांडीस को हराने के लिए एक और शानदार प्रदर्शन किया और ONE Championship के फ्लाईवेट डिवीजन की रैंक में वृद्धि जारी रखी।

मलेशिया के कुआलालंपुर में 12 जुलाई को ONE: मास्टर ऑफ डेस्टीनी पर भारत के सबसे अच्छे पाउंड-फॉर-मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट ने स्पष्ट रूप से सर्वसम्मति से अपने पक्ष में निर्णय पाने के लिए पहले बेल पर ही बाउट को अपने नियंत्रण में ले लिया।

मंगत ने अस्सिटा एरिना में टोन को लगातार आक्रमण, पंच व अपने दांव पेचो से पस्त कर दिया था। 32 वर्षीय मंगत के दमदार पंच और किक शानदार संयोजन ने उनके प्रतिद्वंद्वी के कमजोर को कमजारे पड़ने पर मजबूर कर दिया।

जब उन्होंने अपने सिर से उनके जबड़े पर हमला किया तो वास्तव में “ब्लैक कोमोडो” सहम से गए, लेकिन वह अपने पैरों जमाने और शक्तिशाली काउंटर पंच के साथ जवाब देने का समय आने का इंतजार करते हुए संतुष्ट दिख रहे थे।

एक्स्ट्रीम कुटुर एंड 10th प्लानेट लास वेगास के प्रतिनिधि ने दूसरे राउंड में अपने शानदार फॉरवर्ड दबाव को जारी रखा, लेकिन ओवरकमिट नहीं किया। उन्होंने अपने काम को बखूबी जारी रखा और सीधे अपने प्रतिद्वंद्वी की नाक पर हमला बोलते हुए लो किक का उपयोग किया। इससे इंडोनेशियाई पूरी तरह निराश हो गया।

जब मंगत उनके थोड़ा करीब आए तो फर्नांडिस ने एक मजबूत ओवरहैंड राइट के साथ अपनी शक्ति का अहसास कराया, लेकिन थोड़ी देर के लिए ही हुआ और मंगत ने फिर से उन पर दबाव बना लिया।

मैच शुरू होने के समय भारतीय एथलीट का जोश अपने उच्च स्तर पर था। वह पूरी फाइट में एक सेकंड के लिए भी धीमे नहीं पड़े। इसके विपरीत सोलो के प्रतिनिधि ने अपने प्रतिद्वंद्वी की तेज रफ्तार को महसूस करना शुरू कर दिया था।

“सेंट लायन” अपने जैब-क्रॉस के साथ बहुत तेज रहे और और अपने बाएं किक से विरोधी के पैरों और सिर पर हमला किया। फाइट के जब फर्नाडीस ने थोड़ा हमला करने का प्रयास किया तो मंगत ने अधिकांश समय में अपने हैड आक्रमण के जरिए खुद को खतरे से बचाए रखा।

“द ब्लैक कोमोडो” अपनी जगह पर खड़े रहे, लेकिन वह निर्णायक पंच मारने का मौका मिलने का इंतजार ही करते रहे। मंगत ने उन्हें ऐसा करने का कोई चांस ही नहीं दिया।

आखिर में फर्नांडीस के पास एक मौका तब आया जब उन्होंने एक उठती हुई किक से मंगत पर वार किया, लेकिन “द ब्लैक कोमोडो” उसे सही तरह से कनेक्ट नहीं कर पाए और मंगत ने अपने स्टाइल में उस हमले से बचाव कर लिया।

यह “सेंट लायन” के लिए 15 मिनट का नियंत्रण था, जो अब दुनिया के सबसे बड़े मार्शल आर्ट संगठन में 2-0 के साथ अगे बढ़ गए हैं और जीत के बाद कुल मिलाकर उनका रिकॉर्ड 15-2 हो गया है।