मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

खास फैंस के कारण जीना इनियोंग मनीला में जीत पाने के लिए बेताब थीं

ONE: FIRE & FURY से पहले जीना “कंविक्शन” इनियोंग करीब 1 साल तक सर्कल से दूर रही थीं लेकिन 31 जनवरी को उन्होंने आशा “नॉकआउट क्वीन” रोका को एकतरफा अंदाज में हराकर दर्शा दिया था कि इतने लंबे अंतराल के बाद वापसी का उनपर कोई असर नहीं पड़ा है।

मॉल ऑफ एशिया एरीना के क्राउड़ के सामने Team Lakay की टॉप विमेंस एथलीट्स में से एक ने सर्वसम्मत निर्णय से जीत दर्ज कर दर्शा दिया था कि आखिर उन्हें ONE में दुनिया की एलीट लेवल की एटमवेट एथलीट होने का दर्जा क्यों प्राप्त है।

ऐसे बहुत ही कम मौके रहे जब भारतीय स्टार को अपनी फिनिशंग स्किल्स दिखाने का मौका मिला क्योंकि प्रत्येक राउंड में इनियोंग ने उन्हें मैट पर गिराकर ग्राउंड एंड पाउंड गेम से खूब क्षति पहुंचाई थी।

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि मेरी जीत की चाह उस मुकाबले में नजर आई थी।”

“इसने मुझे ये भी समझने में मदद की कि मेरी प्रतिद्वंदी कॉम्बिनेशन लगाने का प्रयास कर रही थीं और उन्हें अंदाजा था कि मैं टेकडाउन के लिए आगे बढ़ने वाली हूँ। मैंने इस चीज का फायदा उठाया और अपना ध्यान ग्रैपलिंग पर ही केंद्रित रखा।”

इनियोंग की ताकत कोई चौंकाने वाली बात नहीं रही क्योंकि ONE में पिछले मुकाबलों में भी वो ऐसा कर चुकी हैं। खासतौर पर अपने पिछले मुकाबले में उन्होंने इसी तरह की रणनीति पर काम किया था जिससे उन्हें टैलेंटेड जिहिन “शैडोकैट” राडज़ुआन पर जीत मिली थी।

फिलीपींस के बागियो शहर से आने वाली 30 वर्षीय स्टार के लिए ताकतवर पुरुष एथलीट्स के खिलाफ प्रैक्टिस सेशंस कभी ज्यादा आसान नहीं रहे हैं, इसलिए “नॉकआउट क्वीन” को नीचे गिराकर डोमिनेट करने में उन्हें ज्यादा दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ा।



उन्होंने कहा, “जब हम ट्रेनिंग करते हैं तो मैं हमेशा पुरुष एथलीट्स के साथ फाइट करती हूँ और मुझे नहीं लगता कि मुझे उन्हें टेकडाउन करने में कभी सफलता मिली है। वो भी तब जब वो गलतियाँ करते हैं लेकिन ये चीजें लगातार देखने को नहीं मिलतीं।”

“फाइट में आपने देखा होगा कि मैं आशा को टेकडाउन कर रही थी और ये मेरी कड़ी ट्रेनिंग का फल है।”

हालांकि “कंविक्शन” को केवल उनकी कड़ी ट्रेनिंग से ही ताकत नहीं मिली थी जिससे उन्हें ONE: FIRE & FURY में एकतरफा जीत मिली।

मॉल ऑफ एशिया एरीना में मौजूद हजारों दर्शकों के बीच कुछ खास फैंस भी मौजूद रहे जिन्होंने जीना को इससे पहले रिंग में कभी नहीं देखा था, और वो इन खास फैंस के लिए उस मुकाबले में जीत दर्ज करना चाहती थीं।

उन्होंने कहा, “मैं उनके सामने नहीं हारना चाहती थी। ये पहला मौका था जब मेरे पिता और पति मुझे लाइव देखने एरीना में मौजूद रहे और उस इवेंट में मैं उनके सिर को नीचा होते नहीं देख सकती थी।”

The Philippines' Gina Iniong punches Asha Roka on the ground

ये इनियोंग की कड़े प्रतिद्वंदियों के खिलाफ लगातार दूसरी जीत रही और ONE में कुल पांचवीं, इस कारण जब भी उनकी वापसी होगी तो उन्हें बड़ा मुकाबला मिलना तय है।

“कंविक्शन” ने साबित कर दिया है कि वो विमेंस एटमवेट डिविजन की बेस्ट एथलीट्स में से एक हैं। हालांकि अभी वो अपने अगले चैलेंज के बारे में सोच रही हैं और उन्हें उस समय का बेसब्री से इंतज़ार है जब उनके अगले प्रतिद्वंदी के नाम की घोषणा की जाएगी।

उन्होंने कहा, “अभी के लिए मैं आराम करना चाहती हूँ, ब्रेक लेना चाहती हूँ और अपने परिवार और पति के साथ समय बिताना चाहती हूँ जिससे मुझे आराम मिले और अगले मुकाबलों के लिए मैं एक्टिव रह सकूं।”

ये भी पढ़ें: हाइलाइट-रील फिनिश के बाद टॉप प्रतिद्वंदियों से बाउट चाहते हैं लिटो आदिवांग

जकार्ता | 7 फरवरी | ONE: WARRIOR’S CODE | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं