विशेष कहानियाँ

2019 की तीसरी तिमाही के 5 प्रमुख मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स प्रदर्शन

अक्टूबर 1, 2019

पिछले तीन महीनों में रिंग में कौशल का जबरदस्त प्रदर्शन देखा, लेकिन ONE Championship के मिक्स्ड मार्शल आर्ट सितारों में से कुछ आरामदायक स्थिति में ऊपर खड़े थे।

कुछ एथलीटों ऊपर उभरने के लिए अपने प्रतिद्वंद्वियों पर पूरी तरह से हावी रहे। जबकि दूसरों ने अपने करियर में एक नए स्तर तक पहुंचने के लिए अपने प्रदर्शन में जबरदस्त सुधार दिखाया। उन्हाेंने कठिन विरोधियों के खिलाफ जीत दर्ज करने के साथ खेल के हर पहलू में अपनी क्षमता का प्रदर्शन किया।

ये हैं जुलाई, अगस्त और सितंबर में हुए सर्वश्रेष्ठ मिक्स्ड मार्शल आर्ट प्रदर्शन-

#1 वॉर्थन का प्रभावी पदार्पण

एथलीटों ने इस साल अपने ONE डेब्यू को यादगार बना दिया जैसे ट्रॉय वॉर्थन “प्रिटी बॉय” ने ONE: MASTERS OF DESTINY में किया था। हालांकि वह चेन रुई “द घोस्ट” जैसे खतरनाक प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ उतरे थे। अमेरिकी फाइटर ने जब अपने प्रतिद्वंदी को दूसरे स्तर पर देखा तो उन्होंने चीनी एथलीट की स्ट्राइकिंग को बेअसर करते हुए उसे उठाकर ग्राउंड पर पटक दिया।

इसके बाद उन्होंने ग्राउंड और पाउंड का लगातार इस्तेमाल किया जिसका उनके प्रतिद्वंद्वी के पास कोई जवाब नहीं था। चेन ने लंबे समय तक मैच में टिका रहा, लेकिन वॉर्थन ने उसे हराने के लिए हर दांव का इस्तेमाल किया और दूसरे राउंड के 3:29 मिनट में कोहनी का अंतिम वार किया। इसके बाद रेफरी ओलिवियर कोस्टे के पास मैच को खत्म करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा।

यह 26 वर्षीय फाइटर का लगभग त्रुटिरहित प्रदर्शन था, जिसे देखकर लगता है कि वह आने वाले महीनों और वर्षों में बेंटमवेट सर्वश्रेष्ठ वर्ग के लिए खतरा साबित होगा।

#2 नकशिमा का सही मुकाम

जेम्स नकशिमा ने ONE वेल्टरवेट रैंक के माध्यम से ONE: DAWN OF HEROES में जापानी मिक्स्ड मार्शल आर्ट आदर्श युसिन ओकामी “थंडर” के खिलाफ शानदार प्रदर्शन जारी रखा। अमेरिकी फाइटर ने अपनी पहलवानी दांव-पेंचों से जूडो ब्लैक बेल्ट धारक को मात दी। जिससे वह पहले राउंड में ही एक सब्मिशन के करीब पहुंच गए।

फिर उन्हाेंने स्ट्राइकिंग से दिखाया कि उसने ONE सुपर-सीरीज़ में पेट्रोसियन भाइयों के साथ-साथ प्रतियोगिता की कमान अपने हाथ में लेने के लिए दूसरे राउंड की नॉक डाउन देकर जीत हासिल की। वह अंतिम घंटी बजने तक हावी रहा।

किसी समय ऐसा लग रहा था कि “थंडर” अपनी स्ट्राइकिंग या दांव-पेंच से कोई सफलता हासिल करना शुरू कर रहा था। नकशिमा ने बचाव जारी रखा और फिर आक्रमण तेज कर दिए। इसमें कोई संदेह नहीं था कि वह एक सर्वसम्मत निर्णय के अपने पक्ष में हकदार थे।

ये भी पढ़ें: जेम्स नकशिमा ने ओकामी पर दर्ज की धमाकेदार जीत

#3 पार्क ने विशिष्ट वर्ग में किया प्रवेश

डाई सुंग पार्क “क्रेजी डॉग” की होनारियो बनारियो “द रॉक” पर सर्वसम्मत निर्णय से हासिल की गई जीत कई कारणों से प्रभावशाली थी। पहला, यह पूर्व ONE वर्ल्ड चैंपियन के खिलाफ उनके करियर की सबसे हाई-प्रोफाइल जीत थी। दूसरा, उन्होंने इसे ONE: DAWN OF HEROES में फिलिपिनो के घरेलू दर्शकों के सामने हासिल किया। तीसरा, उन्होंने अपने पिछले मैच के ठीक तीन हफ्ते बाद किया, जिसमें उन्होंने किओहिरो इटो को नॉकआउट से हराया था।

दक्षिण कोरियाई फाइटर ने तब अच्छी शुरुआत की जब उन्होंने होनारियो को कैनवास पर गिरा कर ग्राउंड और पाउंड का इस्तेमाल किया। ऐसा लग रहा था कि वह प्रतियोगिता खत्म करने के करीब ले आया। हालांकि टीम लाकी का प्रतिनिधि काफी सख्त था। उसने तूफानी रूप से पहले राउंड के अंत तक और पूरे दूसरे स्टेंजा में वापसी की।

थकान के बावजूद उसने अपने हमले जारी रखे। पार्क को अंतिम समय में ताकत मिल गई क्योंकि वह क्लिंच के साथ प्रतिद्वंदी पर हावी था। एक सर्वसम्मत निर्णय हासिल करने के लिए उसने अपने प्रतिद्वंद्वी पर खास तरह से हमले किए। एक पूर्ण प्रशिक्षण शिविर के साथ कुछ लाइटवेट सर्वश्रेष्ठ वर्ग के खिलाफ उसे मुकाबला करते हुए देखना आकर्षक होगा।

ये भी पढ़ें: डेई सुंग पार्क ने बनारियो को चटाई धूल

#4 गुयेन का शानदार विश्व खिताब बचाव

मार्टिन गुयेन “द सीटू-एशियन” ने ONE: DAWN OF HEROES में अपने बेल्ट के बचाव के लिए तीसरी बार एक उच्च श्रेणी का प्रदर्शन कर दिखाया कि क्यों वह ONE बेल्टवेट वर्ल्ड चैंपियन है।

उनके लिए सबसे कठिन और पूर्ण विकसित प्रतिद्वंद्वी के रूप में कोयोमी मात्सुशिमा को रखा गया था। उन्होंने वियतनामी-ऑस्ट्रेलियाई को शुरुआती मिनटों में टेकडाउन के साथ परख लिया और पैरों पर आक्रामक वार किए। बैकफुट पर धकेल दिए जाने के बाद भी गुयेन हैरान नहीं था। पहले राउंड के अंत तक उसने अपने प्रतिद्वंदी के हमलाें का जवाब देते हुए भारी आघात किए।

धीरे-धीरे फिर से शुरू होने के बाद उसने दबाव बढ़ा दिया और घूंसे, किक और घुटनों का वार करना जारी रखा। घंटी बजने के कुछ समय पहले ही मात्सुशिमा ताकत कमजोर पड़ गई थी। “द सीटू-एशियन” ने नॉकआउट से जीत हासिल करने के लिए कुछ और बड़े हमले कर शो को खत्म कर दिया।

#5 स्टैम्प की मिक्स्ड मार्शल आर्ट में जीत के साथ वापसी

दुनिया जानती थी कि स्टैम्प फेयरटेक्स के पास मिक्स्ड मार्शल आर्ट में सफल होने के लिए स्ट्राइकिंग कौशल था। ONE: DREAMS OF GOLD में उन्होंने साबित कर दिया कि उनका ग्राउंड गेम भी रिंग के लिए तैयार है।

टू-स्पोर्ट वन वर्ल्ड चैंपियन को भारत की आशा रोका “नॉकआउट क्वीन” के खिलाफ स्टैंड-अप में कुछ सफलता मिली, लेकिन फिर पहले राउंड में प्रतियोगिता जब मैट पर पहुंच गई तो इसने आश्चर्यचकित कर दिया।

वहां से उन्होंने बचाव को पार करते हुए ग्राउंड और पाउंड का इस्तेमाल किया और हावी हो गईं। इसके साथ ही सब्मिशन का प्रयास भी किया। दूसरे स्टेंजा में थाई नायिका ने जो कुछ भी इस्तेमाल किया वह बहुत ज्यादा था। लेकिन वह अंतिम अवधि के 30 सेकंड के भीतर वापस अपने ग्रैप्लिंग करने लगी।

उसने धैर्य बनाए रखा और अपने प्रतिद्वंद्वियों को घूंसे से मारते हुए जीत हासिल करने के लिए पीछे की तरफ से रेयर नेक्ड चोक हासिल कर अन्य वूमन एटमवेट डिविजन के लिए चुनौती पेश की।

ये भी पढ़ें: पहली सब्मिशन जीत के बाद मिक्स्ड मार्शल आर्ट पर ध्यान केन्द्रित करना चाहती है स्टाम्प फेयरटेक्स