न्यूज़

डेई सुंग पार्क ने बनारियो को चटाई धूल

दक्षिण कोरियाई स्टार “क्रेज़ी डॉग” डेई सुंग पार्क ने अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट करियर की सबसे बड़ी जीत हासिल की और औपचारिक रूप से खुद को ONE Championship के पैक किए गए लाइटवेट डिवीजन में उभरने के लिए नवीनतम दावेदार घोषित किया।

ONE वारियर सीरीज़ अनुबंध विजेता ने 2 अगस्त को मॉल ऑफ़ एशिया एरिना में ONE: डॉन ऑफ हीरोज पर एक्शन के तीन शानदार राउंडों के बाद सर्वसम्मत निर्णय के जरिए पूर्व ONE लाइटवेट विश्व चैंपियन होनोरियो “द रॉक” बानारियो को हराया।

पार्क ने दूरी रखने में समय बर्बाद नहीं किया और वह जल्दी ही बनारियों को मैट पर ले गए। इसके बाद, फिलिपिनो अपने पैरों पर खड़ा हो गया, दक्षिण कोरियाई ने क्लिनिक को बनाए रखा और विरोधी पर अपने मजबूत घुटनों से कुछ हमले किए।

“क्रेज़ी डॉग” ने यह भी दिखाया कि उसने अपने कौशल को दिखाने के लिए आक्रमण किया है। जैसे कि अलग होने के कुछ समय बाद ही 26 वर्षीय स्ट्राइक ने बनारियो को कैनवास पर गिराते हुए धमाका कर दिया और उन्हें ग्राउंड पर मारने की चेतावनी दी।

फिलिपिनो नायक ने भी हार नहीं मानी और तूफान का सामना किया। राउंड के दूसरे भाग में वह पार्क के सिर पर अपनी किक से जबरदस्त वार करते हुए फिर से बाउट में आ गए। इसके बाद उन्होंने पार्क पर पंचों की बारिश के लिए जगह भी बना ली।

"Crazy Dog" Dae Sung Park defeated Honorio "The Rock" Banario at ONE: DAWN OF HEROES

पहले राउंड के अंत में बानारियो की वापसी ने मॉल ऑफ एशिया एरिना की भीड़ को अपने पैरों पर खड़ा कर दिया और दर्शकों के जोश ने उन्हें दूसरे राउंड में विश्वास के साथ भेज दिया।

पहले राउंड में सांस रोक देने वाले एक्शन के बाद दूसरे राउंड में दोनों ही एथलीटों की गति थोड़ी धीमी दिखाई दी। इस दौरान पार्क ने अपने क्लिनिकल व दांव पेचों के साथ “द रॉक” से मुकाबला किया।

हालांकी टीम लाकी के दिग्गज ने किसी भी बड़े नुकसान से खुद को बचा लिया और वुशू स्ट्राइक विशेष रूप से साइड किक के साथ स्कोर करने के लिए आगे बढ़े। पूर्व विश्व चैंपियन अपनी लय में आ गए और दक्षिण कोरियाई पर प्रभावी काउंटर स्ट्राइक को उतारना शुरू कर दिया, जिसने पूरे समय उनका दबाव बनाए रखा।

"Crazy Dog" Dae Sung Park defeated Honorio "The Rock" Banario at ONE: DAWN OF HEROES

अपने शानदार शुरुआती दौर के बाद गति में गिरावट के बावजूद, पार्क हार की ओर जाने से बचे हुए थे और दक्षिण कोरियाई ने अंतिम पांच मिनट के लिए कड़ी मेहनत की। उन्होंने अपनी बाईं ऊँची किक के साथ हमला करते हुए क्लिनिक पर हावी हो गए।

इसके बाद सभी तीनों रैफरियों ने पार्क के पक्ष में अपना निर्णय दिया। इस जीत के साथ टीम माचो के हीरो ने अपने रिकॉर्ड को 10-2 (1 एनसी) सुधार लिया।