समाचार

पहली सबमिशन जीत के बाद मिक्स्ड मार्शल आर्ट पर ध्यान केन्दि्रत करना चाहती है स्टाम्प फेयरटेक्स

अगस्त 22, 2019

ONE: ड्रीम्स ऑफ गोल्ड में स्टाम्प फेयरटेक्स से बेहतरीन प्रदर्शन और किसी का नहीं हो सकता था। गत शुक्रवार 16 अगस्त को मार्शल आर्ट के लिए वैश्विक मंच पर अपनी पहली मिक्स्ड मार्शल आर्ट फाइट में थाई नायक हावी रही थी और उन्होंने पहले से अपराजित रही आशा “नॉकआउट क्वीन” रोका को सबमिशन के जरिए शानदार तरीके से मात दे दी।

यह कोई झटका नहीं था कि दो-स्पोर्ट ONE वर्ल्ड चैंपियन ने स्टैंड-अप एक्सचेंजों को नियंत्रित किया, लेकिन उसने वहां मौजूद कई दर्शकों को चकित कर दिया था क्योंकि उन्होंने थाईलैंड के बैंकॉक में घरेलू दर्शकों के बीच भारतीय सनसनी को पराजित कर दिया।

फेयरटेक्स ने कहा कि शुरुआत में वह आशा के सामने टिके रहने के बारे में सोच रही थी, लेकिन वह अपने कोच व दर्शकों को यह भी दिखाना चाहती थी कि आखिरकार वह इस मंच पर लोगों के अपेक्षा से कहीं ज्यादा कर सकती है।

जब फाइट के दौरान उन्होंने पहली बार आशा को पकड़ा तो उन्हें आभास हो गया था कि उनका ग्राउंड खेल ज्यादा मजबूत नहीं है। इसके बाद उन्होंने उसे आसानी से ग्राउंड पर लाने में राहत महसूस की।

उसके बाद वह रोका के साथ खड़े रहने में खुद को मजबूत महसूस करने लगी थी। हालांकि इसके बाद भी उन्हें नहीं लगा था कि वह नॉकआउट करने में सक्षम हो पाएगी। इसका कारण था कि वह लगातार हमले कर रही थी।

पटाया निवासी 21 वर्षीय फाइटर ने अपने प्रतिद्वंद्वी को नीचे गिरा दिया तथा उससे जूझते हुए हमलों को नियंत्रित किया। इसके अलावा फिर पहले दौर में एक आर्मबार के साथ शुरुआती बढ़त हासिल की।

स्टाम्प काफी हद तक इसे आगे नहीं बढ़ा सकी और वह इसको लेकर थोड़ा निराश भी थी। हालांकि रिच फ्रैंकलिन की ONE वारियर सीरीज में पिछले जुलाई में केवल 19 सेकंड तक रहने के बाद उसे सर्किल में अधिक समय पाने का मौका मिला था।

उन्होंने दूसरे राउंड में पैरों पर कार्रवाई को नियंत्रित करना जारी रखा, लेकिन उसने अंतिम समय में एक और टेकडाउन प्राप्त करने के लिए अपने कौशल का इस्तेमाल किया।

Samp Fairtex defeats Asha Roka via submission at ONE DREAMS OF GOLD

इस बार, उसे अपने प्रतिद्वंद्वी के पीछे जाने में कोई परेशानी नहीं हुई और उसने अपने हमवतन से एक शानदार ओवेशन से तीसरे राउंड के 1:29 मिनट पर शानदार रियर नैक चोक हासिल कर लिया।

हालांकि यह स्वाभाविक है कि स्टाम्प को अपने अगले मिक्स्ड मार्शल आर्ट मुकाबले में और बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद है। उन्होंने इस फाइट में रिंग में जो भी किया उससे वह बहुत खुश है।

उन्होंने कहा कि यह यह वास्तव में उनके लिए शानदार शुरुआत थी। वह अपने प्रदर्शन से खुश हूं और उन्होंने फाइट के दौरान कई सबक भी सीखे है। वह सबमिशन से बहुत उत्साहित थी। उन्हें नहीं लगता था कि वह ऐसा कर पाएगी। उस पल ने उन्हें खुद पर गर्व महसूस करने का मौका दिया है। हालांकि उन्हें पहले राउंड में फिनिश नहीं मिलने से अधिक अनुभव प्राप्त हुआ, और एक अलग सबमिशन का प्रयास करके उन्होंने और बहुत कुछ सीख लिया।

उन्होंने कहा कि आगे की बाउटों के लिए उन्हें अपने ग्राउंड खेल पर अधिक काम करने की आवश्यकता है। उनका स्टैंड-अप पहले से ही बहुत मजबूत है। फाइट के बाद वह अपने कोच के पास गई थी और कमजोर क्षेत्रों में सुधार कराने को कहा था।

वैश्विक मंच पर हुई इस बाउट में अपने प्रदर्शन को लेकर रेयॉन्ग प्रांत की मूल निवासी फेयरटेक्स काफी पसन्न थी। उसकी सफलता के बावजूद उन्होंने स्वीकार किया कि उन्होंने दुनिया के सबसे बड़े मार्शल आर्ट संगठन में रोशनी के नीचे अपना बेहतर देना उनके लिए मुश्किल था, लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ।

Stamp Fairtex gets emotional after submitting Asha Roka in her second mixed martial arts bout

हालांकि जीत के बाद उन्होंने अपनी भावनाओं को बाहर आने दिया और जब रैफरी ने बाउट समाप्त की तो वह अपने ड्रेसिंग रूम से बाहर निकलने के लिए पूरी तरह से तैयार थी।

उन्होंने कहा कि यह फाइट अलग थी। आमतौर पर वह वास्तव में घबरा जाती है और यहां तक ​​कि लड़ाई से पहले बेचैन भी हो जाती है, लेकिन इस बार उन्होंने अपने आस-पास के माहौल को देखकर बहुत बेहतर महसूस किया था।

उन्हें लगता है कि वह ONE पर प्रतिस्पर्धा करने की अधिक आदि नहीं थी। फाइट में जाने से पहले उनके पास अच्छा प्रशिक्षण था। इसके चलते बाउट के दौरान वह तनाव मुक्त थी। वह अपनी टीम को गर्व करने का मौका देकर बहुत खुश है। उन्होंने सभी को दिखाया कि उन्होंने अपने कौशल में बहुत सुधार किया है।

हालांकि, एक खतरनाक फिनिशर के सामने स्टाम्प की जीत प्रभावशाली थी, और ONE वूमैन एटमवेट वर्ल्ड टाइटल की ओर उसकी यात्रा का एक पहला पहला कदम था, उसका मानना ​​है कि अपनी अगली बाउट में शीर्ष नामों को चुनौती दे देने से पहले उनके पास सुधार के लिए कई क्षेत्र है। जिन पर उन्हें मजबूती से काम करना होगा।

वह भविष्य के लिए मिक्स्ड मार्शल आर्ट के लिए एक वेल राउंडेड कौशल विकसित करने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए दृढ़ संकल्पित है और अपने वजन वर्ग में आगे बढ़ने के लिए काम करने के तरीके में सुधार करना जारी रखेगी।

हालाँकि, यदि उन्हें अपने मुवा थाई या किकबॉक्सिंग बेल्ट की रक्षा करने के लिए कहा जाएगा तो वह इंकार नहीं करेगी। उन्हें लगता है कि शायद पांच या छह मिक्स्ड मार्शल आर्ट मुकाबलों तक या उससे पहले वह विश्व खिताब के लिए तैयार हो जाएगी। उन्हें अपने कौशल को मजबूत करने के लिए काफी समय मिला है और वह इसमें जल्दबाजी नहीं करना चाहती है।

वह वर्तमान में किसी भी विरोधी के बारे में नहीं सोच रही हैं। हालांकि उन्हें किसी से भी फाइट करने में खुशी होगी। आप प्रत्येक प्रतिद्वंद्वी के मुकाबला करके हर बार कुछ नया सीखते हैं।

भविष्य के लिए वह उन सभी अवसरों के लिए तैयार रहेगी जो भी उनके सामने मौजूद रहेगा। फिलहाल, वह मिक्स्ड मार्शल आर्ट पर ध्यान केंद्रित करना चाहती है ताकि वह और अनुभव प्राप्त कर सके।