मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

खाना बनाने के बड़े शौकीन हैं किमिहीरो एटो

जापानी ग्रैपलिंग सनसनी किमिहीरो एटो ने रिच फ्रैंकलिन की ONE Warrior Series (OWS) में सबमिशन जीत की तिकड़ी लगाई, जिसके बाद उन्हें ONE Championship के लिए बेहतरीन मौका मिला।

नौकरी में पहले सूट और टाई पहनकर काम करने वाले एटो अब रेसलिंग में स्पीड और आक्रामकता को भारी हाथों के मेल के साथ शामिल कर रहे हैं। इसके साथ 31 साल के एथलीट के एक और पैशन ने उफान मारा है, वो है कुकिंग के लिए उनका प्यार।

मियाजकी के रहने वाले एथलीट के लिए कुकिंग एक शौक से कहीं बढ़कर है। जापान में हर एथलीट को अपने खाने के लिए घर में किसी पार्टनर, रेस्टोरेंट व टेकआउट पर निर्भर रहना पड़ता है। ऐसे में एटो खुद खाना बना पाने में सक्षम हैं।

इस लाइटवेट कंटेंडर का पहली बार रसोई की कला से सामना 10 साल की उम्र में उनके माता-पिता ने करवाया था। उनके पिता एक लाइसेंसी शेफ हैं। उन्होंने एटो की मां के साथ मिलकर इस युवा एथलीट को अपनी भूख शांत करने के लिए खाना पकाना सिखाया था।

इस मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट ने बताया, “शुरुआत में मैं फ्रेंच टोस्ट और फ्राइड राइस जैसी आसान चीजें बनाता था, जो जल्दी बनाई और खाई जा सकती हैं। मुझे हमेशा से मीट पसंद था इसलिए ज्यादातर मैं वही बनाता था। इसके साथ स्टियर फ्राइज और जापानी करी जैसी चीजें भी पसंद थीं।”

ये एथलीट जब बड़ा हुआ तो इन चीजों ने आत्मविश्वास दिया। उन्हें अपने कॉलेज के प्रतिस्पर्धी रेसलर होने के चलते अपने पोषण के बारे में काफी ध्यान से सोचना पड़ा।

अब ONE Championship के ये एथलीट अपनी पसंद का खाना चुनकर पका सकते हैं, जिससे उनके शरीर को खुराक मिलती है, ताकि वो ग्लोबल स्टेज पर मुकाबला कर सकें।

एटो ने बताया, “मैच से पहले मैं अपने लिए खुद खाना पकाता हूं, ताकि मैं अपना वजन कंट्रोल में रख सकूं। मेरा फोकस लो फैट, हाई कार्ब और प्रोटीन वाले खाने पर रहता है।”

“उदाहरण के लिए, मैं कोशिश करता हूं कि चिकेन ब्रेस्ट ज्यादा ड्राई न रह जाए क्योंकि आप तो जानते ही है कि मुकाबले से पहले बहुत सादा खाना होता है। ऐसे में मैं दूसरे तरीके और साज-ओ-सामान से इसे पकाता हूं, ताकि ये नर्म और टेस्टी रहे।”

मियाजकी के एथलीट को ब्रोकली जैसी हरी सब्जियां भी पकाना पसंद है या ऐसी चीजें जिसमें ज्यादा आयरन होता है यानी पालक। वो जापान की पसंदीदा डिश, वाइट स्टिकी राइस, साथ में ब्राउन राइस और ज्यादा पोषण वाली चीजों का सुझाव देते हैं। ज्यादा फाइबर के लिए इसके साथ चाइनीज मूली बढ़िया रहती है क्योंकि ये सस्ती, पकने में आसान और आराम से हजम होने वाली होती है।



जब भी कभी खाना बनाने में नए आइडिया की बात आती है तो एटो किसी सिलेब्रिटी शेफ या ऐप का इस्तेमाल नहीं करते हैं। लाइटवेट स्टार को नई डिशेज सीखने और उनकी तकनीकों के बारे में कहां से पता चलता है?

उन्होंने बताया, “मैं नतीजे जानने के लिए क्विक वेब सर्च और उसमें पड़ने वाले फ्लेवर्स कैसे लगेंगे इसकी कल्पना करता हूं।”

“इसके बाद ट्रायल और एरर की प्रक्रिया चलती है, जिसमें मिक्स और मैच जैसी चीजें होती हैं। ये एक तरह से मार्शल आर्ट है। आप अनुभव और अभ्यास के आधार पर अपनी मूल शैली बनाते हैं।”

एटो खाना पकाने वाली दुनिया को एक और चुनौती के तौर पर देखते हैं और जब घर की बनी चीज अच्छी होती है तो उसमें काफी खुश रहते हैं। वो अपने आसपास के कई पकवानों से भी प्रेरणा लेते हैं।

उन्होंने बताया, “मैं टीवी पर दिखाई जाने वाली या रेस्ट्रो की डिशेज फिर से बनाने की कोशिश करता हूं। मेरे लिए सबसे अहम ये होता है कि उन चीजों को उतनी ही अच्छी तरह से बिना रेस्टोरेंट जाए बना लूं। अगर ऐसा मैं कर पाता हूं तो फिर उसे अपने आप बनाता हूं।”

View this post on Instagram

今日はいつもお世話になってるたまねぎ本舗さすらいやに勝利報告をしにいきました いい報告できて最高でした↑↑ そして美味しいカレーもいただきご馳走さまでした! 魚井フルスイング選手といろいろとlunchをしながら話をして有意義な時間でした(笑) たまねぎ本舗さすらいや https://amp-retty-me.cdn.ampproject.org/v/s/amp.retty.me/r/100000029819/?amp_js_v=a2&amp_gsa=1&usqp=mq331AQCCAE%3D#referrer=https%3A%2F%2Fwww.google.com&amp_tf=%E3%82%BD%E3%83%BC%E3%82%B9%3A%20%251%24s&ampshare=https%3A%2F%2Fretty.me%2Farea%2FPRE13%2FARE1%2FSUB106%2F100000029819%2F promotion https://youtu.be/EV8uD70RCbI #onewarriorseries #one #onechampionship #mma #mmafighter #cool #singapore #総合格闘技 #win #挨拶 #さすらい屋 #カレー #ランチ #チキン #curry #カレー #日本 #prettygreen #ランチ #lunch #丼 #格闘技 #fighter

A post shared by KimihiroEto 江藤公洋 (@kimihiroeto) on

इन सबके साथ एटो को अपनी तरकीब से क्लासिक जापानी, चाइनीज और वेस्टर्न डिशेज बनाने में काफी गर्व महसूस होता है। उनकी जिज्ञासा और रचनात्मकता ने उन्हें The Home Of Martial Arts में एक वर्ल्ड क्लास एथलीट बनने में मदद की।

एटो के लिए उनका मार्शल आर्ट्स कौशल और रसोई की कला की महत्वाकांक्षा एक हाथ से दूसरे हाथ में जानी चाहिए। लैब में एक केमिस्ट की तरह वो अपनी जानकारी और चीजों से प्रयोग करते रहते हैं। वो अपनी कुकिंग को अपने प्रॉब्लम सॉल्विंग नजरिए से देखते हैं।

हालांकि, उनका सबसे बड़ा टेस्ट होगा ONE Championship के चेयरमैन और सीईओ चाट्री सिटयोटोंग के लिए खाना पकाना लेकिन ये लाइटवेट एथलीट उनके लिए क्या पकाएंगे?

उन्होंने बताया, “मैं अपनी स्पेशलिटी में से एक उनके लिए पकाऊंगा। कुछ ऐसा जो चाट्री को पसंद आएगा।”

“इसके लिए मैं थोड़ी रिसर्च करूंगा और अपनी तरह से उनके लिए कुछ बनाऊंगा। मैं किसी चीज को अपने तरीके से बनाऊंगा और मुझे लगता है कि इसमें काफी मजा आएगा।”

आखिर में एटो ने उन लोगों को सुझाव दिया, जो कुकिंग शुरू करने जा रहे हैं।

उन्होंने कहा, “कुछ भी ऐसा बनाया जा सकता है, जिसमें रेडी-मेड रूक्स या स्टॉक होता है, जिसके लिए आपको चाकू उठाने तक की जरूरत न हो।”

“फ्रेंच टोस्ट के जैसा कुछ बना सकते हैं, जहां सिर्फ मिलाने और कुक करने की जरूरत होती है। फिर जब आपको कटिंग और चॉपिंग की आदत पड़ जाए तो स्टियर फ्राइज और स्टू ट्राई कर सकते हैं। इस तरह से आप प्रैक्टिस करते हुए बेहतर बन सकते हैं।”

इसमें कोई हैरानी की बात नहीं है कि बुनियादी चीजों से शुरुआत करके धीमे-धीमे तरक्की का तरीका एटो काफी पहले से मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स की रैंक में सुधार करने के लिए भी इस्तेमाल कर चुके हैं।

ये भी पढ़ें: किमिहीरो एटो ने बताया कि उन्होंने फिर से आत्मविश्वास किस तरह से हासिल किया