मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

जोमारी टोरेस की फर्श से अर्श तक पहुंचने की दिल छूने वाली कहानी

अगस्त 2017 में जोमारी “द ज़ाम्बोनियन फाइटर” टोरेस ने ONE Championship में धमाकेदार तरीके से कदम रखा था।

शुक्रवार, 31 जनवरी को ONE: FIRE & FURY में वो इस साल के अपने पहले मुकाबले में उतरेंगी। उनका मैच ONE विमेंस एटमवेट स्टार जेनी “लेडी गोगो” हुआंग से होगा।

चीनी विरोधी के साथ होने वाले टोरेस के एटमवेट मुकाबले से पहले हम उनके जीवन के बारे में जानते हैं, जिसने उनके अंदर वापसी की एक अटूट भावना पैदा की। इसी भावना ने मॉल ऑफ एशिया एरीना में उनकी वापसी के सारे संदेह दूर किए।

दादी बनीं सहारा

टोरेस और उनके बड़े भाई जब छोटे थे तो दोनों अपनी दादी की देखरेख में पले-बढ़े।

टोरस पैरेंट्स से महरूम रहने के बावजूद समझदार लड़की के रूप में पली बढ़ी थीं। क्योंकि दादी ने उनको पैरेंट्स की कमी कभी खलने नहीं दी थी। आय के स्रोत के रूप में कोई ठोस व्यवसाय न होने की वजह से उनकी दादी ने दो बच्चों के अच्छे पालन पोषण के लिए स्कूल के कैफेटेरिया में अतिरिक्त काम किया। इसके अलावा, टोरेस की आन्टी ने भी दोनों बच्चों को पालने में मदद की।

वो कहती हैं, “मेरे पिता ज़ाम्बोआंगा शहर में हैं, जबकि मम्मी बेसिलन में हैं। उनके पास अपने परिवार हैं। मेरे अंदर इस बात का गुस्सा भरा था। मैं नहीं जानती थी कि वे क्यों हमें छोड़कर चले गए और क्यों अलग हुए लेकिन आखिरकार वो गुस्सा अब खत्म हो गया है।”

हालांकि, जीवन की परिस्थितियों की वजह से टोरेस को उनके क्लास के साथी रोज तंग किया करते थे।

उन्होंने विस्तार से बताया “मैं वास्तव में एक शांत लड़की थी। वे रोज मुझे तंग करने की कोशिश करते थे।”

हालांकि, आज सर्कल के अंदर उनमें जो आग दिखती है, वो उनमें पहले से ही मौजूद थी।

उन्होंने बताया, “मैंने उनसे बोल दिया था कि वे मुझे जानबूझकर ना सताएं क्योंकि अगर उन्होंने इसका जवाब दिया तो बाद में उन्हें इसका पछतावा करना पड़ेगा। मेरे समझाने के बावूजद उनके ना मानने पर मैंने एक को पंच जड़ दिया और मुझे प्रिंसिपल के ऑफिस जाना पड़ा था।”

स्कूल के साथियों की शरारत झेलने, पैरेंट्स के न होने और जीवन में रोल मॉडल की कमी के बावजूद टोरेस अपने लिए बेहद सरल सपने देखते थीं।

वो कहती हैं, “मैं वास्तव में बास्केटबॉल खेलना चाहती थी।” किसी खास मौके या अपने स्कूल के लिए खेलने के बाद उन्होंने सोचा कि वो अपने इसी शौक में करियर बनाने का रास्ता खोज सकती हैं। फिर भी उस वक्त परिस्थितियां ऐसी नहीं थीं, जो उन्हें उस पर चलने की राह दिखाएं।

“मुझे कॉलेज भेजने के लिए दादी और ज्यादा काम करने लगी थीं। तब मैंने फैसला किया कि अब मैं स्कूल नहीं जाऊंगी और उनकी मदद के लिए नौकरी तलाशूंगी।”

शहर में मौके

उस वक्त मनीला के टैगुइग में उनकी आंटी की एक दोस्त अपने बच्चे की देखभाल के लिए किसी की तलाश कर रही थीं। टोरेस की आन्टी ने उन्हें फोन किया और उन्होंने इस नौकरी को करने में किसी तरह का संकोच नहीं किया।

उस वक्त नैनी के रूप काम करने के दौरान उनकी मुलाकात रुइल कैटलन से हुई, जो स्कूल के बगल में पड़ने वाले जिम में जाते थे। उस स्कूल में वो बच्चा पढ़ता था, जिसकी टोरेस देखभाल करती थीं। वो उसके इंतजार में बाहर खड़ी रहती थीं, जब तक स्कूल खत्म नहीं हो जाता था। इस इंतजार के दौरान वो जिम में जाकर वहां होने वाले एक्शन को देखती थीं।

तीन साल के लिए टोरेस को एक ऐसी नौकरी मिली थी, जिसमें वो अपनी प्रतिस्पर्धी भावना को बढ़ा नहीं सकती थीं, वो केवल एक किनारे खड़े होकर मन ही मन परेशान हो सकती थीं। लोगों को फिट होते देखने जैसी इच्छा उन्हें मार्शल आर्ट्स के जरिए प्रतिस्पर्धा करने के लिए ललचाती थी।

सौभाग्य से 2015 में रुइल ने टोरेस को अपने भाई रेने कैटलन से मिलवाया, जो कई बार के वुशु वर्ल्ड चैंपियन और कैटलन फाइटिंग सिस्टम के मुख्य कोच हैं।

वो बताती हैं, “कोच रेने ने आमंत्रित किया और मुझे मार्शल आर्टिस्ट बनने के लिए विचार करने का प्रस्ताव दिया। मैंने ट्रेनिंग की और मैं तब से वहां हूं। मैं पहले थोड़ी मोटी थी लेकिन अब पूरी तरह से फिट हो गई हूं।”

टोरेस ने नैनी की नौकरी छोड़ दी और फुल टाइम मार्शल आर्टिस्ट बनने के लिए ट्रेनिंग में लग गईं। बिना मार्शल आर्ट्स बैकग्राउंड के भी उन्हें जल्द ही एक मैच के लिए मौका दे दिया गया, जो उनके लिए किसी आश्चर्य से कम नहीं था।

फिलीपीना एथलीट ने अपने होमटाउन के लिए “द ज़ाम्बोनियन फाइटर” का निकनेम रखा और अगस्त 2016 में एक लोकल शो में अपना प्रोफेशनल डेब्यू किया। उस मैच में उन्होंने सर्वसम्मत निर्णय से जीत हासिल की। उस वक्त कैटलन ये समझ गए थे कि उनके पास भविष्य का एक संभावित सितारा है।

उन्होंने कहा, “मैंने दो महीने तक ट्रेनिंग ली। जब कोच ने मुझे बताया कि मैं बाउट करने वाली हूं तो मैं आश्चर्यचकित रह गई थी। मैंने इसलिए चुनौती ली ताकि मैं एक रियल मैच का अनुभव ले सकूं। अच्छी बात ये है कि मैं उसमें जीत गई।”

प्रभावशाली डेब्यू

मई 2017 में टोरेस को ONE Championship में डेब्यू के लिए थाई सुपरस्टार रिका “टाइनी डॉल” इशिगे के खिलाफ ONE: DYNASTY OF HEROES में बुक किया गया। लेकिन क्लर्किल गलती की वजह से समय पर पासपोर्ट के लिए अप्लाई ना करने की वजह से मैच नहीं हो पाया

सौभाग्य से कोच कैटलन ने उनकी इस मामले को हल करने में मदद की। उनकी बाउट ONE: KINGS & CONQUERORS में री-शेड्यूल्ड की गई। अपने पहले इंटरनेशलनल मैच में जाने से पहले टोरेस ने घबराहट महसूस की लेकिन जैसे ही उन्होंने सर्किल में कदम रखा, वो पूरी तरह रिलैक्स हो गईं।

वो उस पल को याद करते हुए बताती हैं, “मेरी प्रतिद्वंदी सामने खड़ी थी और जिन लोगों ने मेरा समर्थन किया, वे सभी वहां थे।” उस वक्त उन्होंने ये एहसास किया कि जैसे वो अपने सपने को जी रही थीं।

इशिगे के पहले दौर में हावी होने के बाद टोरेस दूसरे राउंड में लेफ्ट हुक के साथ विरोधी को नीचे गिरा दिया।

वो याद करते हुए कहती हैं, “मुझे उन्हें एक अच्छा पंच करने का मौका मिला और मैंने उन्हें पंच जड़ दिया। मैं बाउट को रोकने के लिए रेफरी का इंतजार कर रही थी लेकिन वो नहीं आए।” फिर टोरेस ने एक रियर-नेकेड चोक का सहारा लिया, जिसके बाद अपराजित “टाइनी डॉल” ने टैप आउट कर लिया।

इस जीत ने टोरेस और उनके साथी समेत वहां मौजूद सभी लोगों को आश्चर्यचकित कर दिया था।

वो बताती हैं, “वे मुझसे पूछ रहे थे कि ये चोक मूव कहां से आया क्योंकि इस कौशल ने हर किसी को हैरान कर दिया था। मैंने उन्हें बताया कि मैं खुद भी इससे हैरान हूं।”

अगली चुनौती

शुक्रवार, 31 जनवरी को होने वाले ONE: FIRE & FURY में टोरेस 2020 में पहली बार जेनी “लेडी गोगो” हुआंग के खिलाफ फिलीपींस के मनीला के मॉल ऑफ एशिया एरीना में मैदान में उतरेंगी।

टोरेस की तरह हुआंग भी जीत के इंतजार में बैठी होंगी। ऐसे में क्या “लेडी गोगो” टोरेस को झटका देंगी? या फिर “द ज़ाम्बोनियन फाइटर” जीतकर ONE विमेंस एटमवेट डिविजन के लिए अपनी राह और मजबूत करेंगी। ये देखना बेहद दिलचस्प होगा।

ये भी पढ़ें: ONE: FIRE AND FURY में एडुअर्ड फोलायंग का सामना अब पीटर बस्ट से होगा

मनीला | 31 जनवरी | ONE: FIRE & FURY | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं