विशेष कहानियाँ

विश्व चैंपियन बनने के बाद भी नहीं बदले ब्रेंडन वेरा

सितम्बर 27, 2019

दिसम्बर, 2015 में जब ब्रेंडन वेरा “द ट्रुथ” ONE: SPIRIT OF CHAMPIONS में ONE हेवीवेट वर्ल्ड चैंपियन बने तो उनका जीवन हमेशा के लिए बदल गया। फिलिपिनो-अमेरिकी सुपरस्टार ने हमेशा से अपने खेल के शीर्ष पुरस्कार जीतने का सपना देखा था। उन्होंने मनीला, फिलीपींस में अपने प्रशंसकों के सामने पॉल चेंग को नॉकआउट देकर अपने पूरे जीवन की महत्वाकांक्षा को पूरा किया।

13 अक्टूबर को ONE: CENTURY PART II में वह टोक्यो, जापान के रयोगोकू कोकुगिकन में ONE लाइट हेवीवेट विश्व खिताब के लिए आंग ला न संग “द बर्मीज़ पाइथन” के खिलाफ फिर से वही लक्ष्य हासिल करने के लिए सब कुछ करने की तैयारी कर रहे हैं।

“द टरुथ” उस सुखानुभूति को कभी नहीं भूलेंगे जो उन्होंने पहली बेल्ट जीतने के समय महसूस की थी। यह प्रबल प्रेरणा में से एक जिसने उन्हें दो डिविजन विश्व चैंपियन के रूप में इतिहास बनने के मौके से पहले प्रशिक्षण शिविर में भेजा। वह मानते हैं कि “मैं फिलीपींस के लोगों के सामने प्रदर्शन करने के लिए इतना खुश था कि मैं बेल्ट के बारे में लगभग भूल गया था। जब तक कि यह मुझे मिल नहीं गया।”

वह कहते हैं कि “एक बार में कई अहसास सामने आ गए। वहां सफलता, गर्व और खुशी थी जिससे मैं उत्तेजित था। मुझे एक ही समय में सब कुछ महसूस हुआ। जिसका वर्णन करना मुश्किल था। मैं विश्व खिताब जीतकर फिलीपींस के लोगों के सामने विश्व चैंपियन बन गया। अब इसमें एक और सफलता जोड़कर इस खुशी को चौगुना करना चाहता हूं।”

वेरा के करियर के 13 साल में शीर्ष पुरस्कार उनके हाथ नहीं लग पाया। The Home Of Martial Arts के अपने दूसरे मुकाबले में उन्होंने मौके को भुनाया और सिर्फ 26 सेकंड के बाद एक यादगार नॉकआउट हासिल किया।



उन्होंने कहा कि “लोगों को यह बताना आसान है कि क्या करना है लेकिन जब आप वास्तव में ऐसे करते हैं तब जो दर्द मिलता उसे आप झेलते हैं। इस रास्ते पर मुझे अकेला चलना है। इसे बारे में किसी को बताना नहीं है।”

“द ट्रुथ” को विश्व खिताब मिलने से पहले भी दुनियाभर में जाना जाता था लेकिन जैसे ही उन्होंने गोल्ड हासिल किया वो पहले से कहीं ज्यादा सुर्खियों में आ गए। मार्शल आर्ट्स के कलाकारों की नई पीढ़ी उनके करियर से प्रेरित होगी। उन्होंने इस जिम्मेदारी को गंभीरता से लिया। वो यह दिखाना चाहते थे कि वह एक सच्चे मार्शल आर्टिस्ट का जीवन जीते हैं।

उन्होंने खुलासा किया कि “मेरे विश्व चैंपियन बनने के बाद कई लोग मेरी तरफ देख रहे हैं, वे मुझ पर ध्यान दे रहे और मुझसे इस बारे में बात करते हैं। मैं उस वक्त एक रोल मॉडल होने के बारे में चिंतित नहीं था। फिर मैंने इस बात पर ध्यान देना शुरू कर दिया। मैंने कैसे किया, इसके बारे में लोग मुझसे सलाह या जवाब मांगेंगे।”

“इसका मतलब यह नहीं है कि मैं झूठा या फिर बदल गया हूं कि मैं कौन हूं। मैं हमेशा से जानता हूं कि आप उदाहरण पेश करके ही नेतृत्व कर सकते हैं। जिससे मैं अभी बहुत दूर था।”

 

यह जानते हुए कि फिलीपींस में उनका बड़ा प्रभाव है। आगे उन्हें और विनम्र और केंद्रित रहना होगा लेकिन वैश्विक मंच पर सफलता से पहले जो कोई भी “द ट्रुथ” से मिला, वह बताएगा कि वो हमेशा से कैसा रहा है।

दो ONE हेवीवेट विश्व खिताब जीतने के बाद अब तक के सबसे बड़े मार्शल आर्ट्स आयोजन के एक मुख्य कार्यक्रम के बचाव साथ उन्होंने अभी भी अपने आदर्शों को कभी गिरने नहीं दिया।

“द ट्रुथ” उसी नैतिकता का पालन करते हैं जो जिसने उन्हें शीर्ष पर पहुंचाया है। वह कहते हैं कि यह उसे टोक्यो में दूसरे विश्व खिताब के लिए चुनौती में आंग ला एन संग के खिलाफ जीत दिलाने में मदद करेगा।

मनीला निवासी हंसते हुए कहते है कि “विश्व चैंपियन बनने के बाद केवल एक चीज बदली है वो अब पहले से ज्यादा व्यस्त हो गए हैं। मैं प्रशिक्षण के साथ विज्ञापन, फोन कॉल और मीडिया के साथ बहुत अधिक व्यस्त रहता हूं लेकिन इसके अलावा बाकी जीवन अभी भी वैसा ही है। मेरी पत्नी यह सुनिश्चित करती है कि मैं दिनचर्या सामान्य रखूं।”

ये भी पढ़ें: ONE: सेंचुरी में जिओंग बनाम ली II की बाउट का मीसा टेट ने किया पूर्व विश्लेषण

टोक्यो | 13 अक्टूबर | ONE: CENTURY | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय सूची का अवलोकन करें| टिकट: https://onechampionship.zaiko.io/e/onecentury

ONE: CENTURY इतिहास की सबसे बड़ी विश्व चैम्पियनशिप मार्शल आर्ट प्रतियोगिता है जिसमें 28 विश्व चैंपियनशिप विभिन्न मार्शल आर्ट्स का प्रदर्शर करेंग। इतिहास में किसी भी संगठन ने कभी भी एक ही दिन में दो पूर्ण पैमाने पर विश्व चैम्पियनशिप के आयोजनों को बढ़ावा नहीं दिया।

13 अक्टूबर को जापान के टोक्यो में प्रसिद्ध रयोगोकु कोकुगिकन में कई वर्ल्ड टाइटल मुकाबलों, वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियनशिप फाइनल की एक तिकड़ी और कई वर्ल्ड चैंपियन बनाम वर्ल्ड चैंपियन मैच के साथ-साथ The Home Of Martial Arts नई जमीन तलाश करेगा।