5 बड़ी बातें जो हमें ONE 165: Superlek Vs. Takeru से पता चलीं

Marat Grigorian Sitthichai Sitsongpeenong ONE 165 9 scaled

रविवार को दुनिया के सबसे बड़े मार्शल आर्ट्स संगठन की टोक्यो में जबरदस्त फाइट कार्ड के साथ वापसी हुई।

ONE 165: Superlek vs. Takeru में हर कॉम्बैट स्पोर्ट्स फैंस के लिए कुछ ना कुछ था क्योंकि इसमें किकबॉक्सिंग, सबमिशन ग्रैपलिंग और MMA मैचों के अलावा स्पेशल रूल्स सुपर-फाइट भी हुई।

एरियाके एरीना में हुए मेन इवेंट मैच में सुपरलैक कियातमू9 और टकेरु सेगावा ने एक ऐसा मुकाबला पेश किया, जो फैंस को आने वाले लंबे समय तक याद रहने वाला है।

यहां कुछ टॉप कंटेंडर्स उभरकर सामने आए तो कुछ ने वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच हासिल करने की दिशा में कदम बढ़ाए। आइए नजर डालते हैं कि टोक्यो में हुए इवेंट से क्या खास बातें निकलकर सामने आईं।

सुपरलैक ने एक और दिग्गज को हराकर सर्वश्रेष्ठ पाउंड-फोर-पाउंड स्ट्राइकर की दावेदारी पेश की

पांच राउंड के जोरदार एक्शन के बाद सुपरलैक अपने ONE फ्लाइवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल का बचाव होमटाउन हीरो टकेरु के खिलाफ करने में कामयाब रहे और उन्होंने दुनिया के सर्वश्रेष्ठ पाउंड-फोर-पाउंड स्ट्राइकर के रूप में अपनी दावेदारी पेश कर दी है।

दोनों ही स्ट्राइकर्स ने इस किकबॉक्सिंग मुकाबले में अपने लगभग सभी मूव्स का इस्तेमाल किया, लेकिन थाई सुपरस्टार अपने जापानी प्रतिद्वंदी पर भारी पड़े।

उन्होंने टकेरु के अगले पैर पर जमकर वार किए और दर्शाया कि उन्हें दुनिया “द किकिंग मशीन” क्यों कहती है।

28 वर्षीय स्टार के नाम अब ONE Championship के किकबॉक्सिंग और मॉय थाई मैचों में लगातार नौ जीत हो चुकी हैं। वो अपने पिछले दो मैचों में टकेरु और ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन रोडटंग जित्मुआंगनोन को हरा चुके हैं। इसकी वजह से उन्होंने पाउंड-फोर-पाउंड दिग्गज के रूप में खुद का नाम काफी आगे कर दिया है।

MMA डेब्यू के लिए तैयार नजर आ रहे हैं केड रुओटोलो 

सात महीनों के बाद केड रुओटोलो मुकाबले के लिए उतरे और उन्होंने कामयाबी के साथ अपनी ONE लाइटवेट सबमिशन ग्रैपलिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप को टॉमी लेंगाकर के खिलाफ डिफेंड किया।

पिछले साल जून में हुए ONE Fight Night 11 में लेंगाकर ने चैंपियन को मुसीबत में डाल दिया था, लेकिन रीमैच में ऐसा कुछ नहीं हुआ।

21 वर्षीय अमेरिकी सनसनी ने मुकाबले के पूरे 10 मिनट अपना दबदबा बनाकर रखा। रुओटोलो ने डार्स चोक से मैच लगभग फिनिश कर ही दिया था, लेकिन लेंगाकर जैसे-तैसे बच निकले और ज्यादा तय समय वो रक्षात्मक रवैया अपनाकर रहे।

उनकी वर्ल्ड टाइटल जीत ने ना सिर्फ लेंगाकर के खिलाफ उनकी श्रेष्ठता को प्रदर्शित किया बल्कि MMA जगत को भी एक संदेश भेज दिया है क्योंकि वो इस खेल में आने की तैयारी कर रहे हैं।

टोनन, वाकामत्सु और ओपाचिच वर्ल्ड टाइटल मैच के करीब पहुंचे

ONE 165 एक अच्छा मौका था, जिससे कंटेंडर्स डिविजंस में अपनी स्थिति को मजबूत कर पाते और कुछ ऐसा करने में कामयाब भी रहे।

एक रैंक के कंटेंडर गैरी “द लॉयन किलर” टोनन ने #3 रैंक के कंटेंडर मार्टिन “द सीटू-एशियन” गुयेन को रीयर-नेकेड चोक लगाकर हराया और भविष्य में ONE फेदरवेट MMA वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच की दावेदारी काफी मजूबत कर दी है।

वहीं #4 रैंक के फ्लाइवेट MMA कंटेंडर युया “लिटल पिरान्हा” वाकामत्सु ने #2 रैंक के कंटेंडर डैनी “द किंग” किंगड को तीन राउंड तक चली फाइट में हराया। इस जीत के साथ उन्होंने मौजूदा चैंपियन और MMA दिग्गज डिमिट्रियस जॉनसन के खिलाफ खिताबी मैच हासिल करने की दावेदारी पेश कर दी है।

हेवीवेट किकबॉक्सिंग फाइट में सर्बियाई हेवी हिटर राडे ओपाचिच ने ईरानी प्रतिद्वंदी इराज अज़ीज़पोर को सर्वसम्मत निर्णय से पटखनी दी और वो अब भविष्य में डिविजन के पहले वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच के लिए फाइट करते हुए नजर आ सकते हैं।

अयाका मियूरा ने एटमवेट डेब्यू में शानदार प्रदर्शन किया

अयाका “ज़ोम्बी” मियूरा ने एटमवेट डिविजन में डेब्यू करते हुए “एंड्रॉइड 18” इत्सुकी हिराटा को हराकर शानदार शुरुआत की।

मियूरा ने शुरु से ही हिराटा पर दबाव बनाकर रखा और लगातार सबमिशन हासिल करने के प्रयास जारी रखे। Tribe Tokyo MMA टीम की स्टार ने 15 मिनट तक चले मैच में “एंड्रॉइड 18” को संभलने का जरा भी मौका नहीं दिया।

पूर्व ONE विमेंस स्ट्रॉवेट MMA वर्ल्ड टाइटल चैलेंजर ने अब एटमवेट डिविजन में अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है और अब उनका ध्यान टॉप 5 में पहुंचने पर होगा।

ग्रिगोरियन ने सिटीचाई पर दमदार जीत हासिल कर अपनी काबिलियत दिखाई

दो रैंक के फेदरवेट किकबॉक्सिंग कंटेंडर मरात ग्रिगोरियन का सामना #3 रैंक के कंटेंडर सिटीचाई “किलर किड” सिटसोंगपीनोंग से हुआ और अर्मेनियाई स्टार ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर दिग्गज को हराया।

हालांकि, सिटीचाई ने अच्छी शुरुआत की लेकिन ग्रिगोरियन जल्द ही दबाव से पार पाने में कामयाब रहे। उन्होंने थाई स्टार के शरीर पर वार किया और फिर तीसरे राउंड में घुटने के वार से मैच को तकनीकी नॉकआउट से अपने नाम कर लिया।

Hemmers Gym के प्रतिनिधि ने इस धमाकेदार जीत से डिविजन में अपने स्थान को और मजबूत कर लिया है और उनकी शानदार जीत दूसरे फाइटर्स के लिए चिंता का सबब बन गई होगी।

ग्रिगोरियन ने सिटीचाई पर लगातार दूसरी जीत हासिल कर मौजूदा ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन चिंगिज़ अलाज़ोव के खिलाफ रीमैच का दावा मजूबत कर लिया है।

किकबॉक्सिंग में और

Petsukumvit Boi Bangna Kongsuk Fairtex ONE Friday Fights 53 14 scaled
Elias Mahmoudi Edgar Tabares ONE Fight Night 13 28
Ok Rae Yoon Alibeg Rasulov ONE Fight Night 23 36
Tye Ruotolo Jozef Chen ONE Fight Night 23 32
Kulabdam Sor Jor Piek Uthai Nabil Anane ONE Friday Fights 69 34
OkRaeYoon AlibegRasulov 1920X1280
Kulabdam NabilAnane CeremonialFaceoff 1920X1280
Oumar Kane Marcus Almeida ONE Fight Night 13 95
BoucherKetchup 1200X800
Kulabdam Sor Jor Piek Uthai Wins 1200X800
Oumar Kane Marcus Almeida ONE Fight Night 13 61
Prajanchai PK Saenchai Jonathan Di Bella ONE Friday Fights 68 77