न्यूज़

सामी सना खुद को बताया जियोर्जियो पेट्रोसियन का प्रभुत्व समाप्त करने वाला व्यक्ति

सितम्बर 22, 2019

सामी “ऐके47” सना ने ONE: CENTURY PART II पर किकबॉक्सिंग के सरताज को पदहस्थ करने तथा उनकी जगह हासिल करने की तैयारी की है।

फ्रेंचमैन 13 अक्टूबर को ONE फेदरवेट वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियनशिप फाइनल में जियोर्जियो “द डॉक्टर” पेट्रोसियन का सामना करेंगे। हालांकि वह अपने इतालवी प्रतिद्वंद्वी का पूरा सम्मान करते हैं, लेकिन फिर भी उन्हें पूरी उम्मीद है कि वह उन्हें हरा देंगे।

यदि वह जापान के टोक्यो में जीत के लिए अपना हाथ उठाते हैं तो 1 मिलियन डॉलर की इनामी राशि जीतने के साथ अपने डिविजन में शीर्ष पर पहुंच जाएंगे। यकीनन दुनिया का कोई भी ऐसा किकबॉक्सर नहीं है जिसने इस साल सना की तरह अपनी प्रतिष्ठा स्थापित की हो।

30-वर्षीय ने योदसंकलाई आईडब्ल्यूई फेयरटेक्स से हार का बदला लेते हुए विश्व ग्रां प्री की शुरुआत की। इस जीत ने थाई दिग्गज की सात साल तक जीत की कतार बना दी।

पेरिसियन के लिए उस प्रदर्शन में सुधार करना बहुत मुश्किल था जब उन्होंने ONE: DREAMS OF GOLD पर सेमीफाइनल में दिगंबर “चंगेज खान” अस्केरोव का सामना किया, लेकिन उन्होंने एक और विश्व स्तरीय प्रयास किया। जिसने तीन-राउंड से अधिक समय तक दर्शकों को रोमांचित किया और वह कई बार के विश्व चैंपियन के रूप में हावी हो गए।

रूसी को पहले दौर में ही कुछ करारे हमले झेलने पड़े थे, लेकिन उसके बाद शेष मुकाबले में “ऐके47” के दबाव और शक्ति का कोई जवाब नहीं था। सना ने बताया कि आपको हर लड़ाई के लिए बहुत अधिक तैयार होना पड़ता है। ऐसे में डझाबर के साथ भी यही सिद्धांत काम आया।

फाइनल में पहुंचने के लिए दृढ़ संकल्प मजबूत था। उनके पास गलतियां करने की कोई गुंजाइश नहीं थी। वह इस टूर्नामेंट को जीतना चाहते थे। ऐसे में वह इस फाइट में सुपर साइयन में बदल गए थे।

पहले राउंड में संघर्ष के दौरान उन्हें लगा तक उनके विरोधी पीछे हट रहे हैं और उन्हें फाइट करने में परेशानी महसूस हो रही है। उन्हें पता था कि वह उन्हें बहुत जल्दी मात दे सकते हैं। वह अपने गार्ड पर गए और तीन राउंड को पूरा करने के अपने संकल्प को पूरा नहीं होने दिया और एक विस्तृत जीत हासिल की।



अब उनके रियरव्यू मिरर में दो विरोधियों के साथ फेनिक्स मुवा थाई पेरिस और वेनम ट्रेनिंग कैंप थाईलैंड के प्रतिनिधि पांच बार के किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन से मुकाबला करने को तैयार है। उन्हें कई लोगों को द्वारा इस खेल में सबसे महान माना जाता है।

सना कभी भी पेट्रोसियन की प्रतिष्ठा पर बहस नहीं करना चाहते हैं, लेकिन उन्हें विश्वास नहीं है कि 13 अक्टूबर के बाद शीर्ष स्थान पर उनके विरोधी की पकड़ बरकरार रहेगी।

उन्होंने कहा कि जियोर्जियो पेट्रोसियन बहुत बड़ेेे चैंपियन है। वह किकबॉक्सिंग में सर्वश्रेष्ठ है। उनके द्वारा करियर में हासिल की गई हर उपलब्धि के प्रति उनका बहुत सम्मान है। उनका एक बहुत ही सफल करियर था, लेकिन सभी के पास अपना समय है, और अब उनकी बारी है। यह सही बात है पेट्रोसियन ने अपना समय लिया और करियर की ऊंचाइयों पर पहुंचे, लेकिन अब वह यहां पहुंच गए हैं और अब उनकी बारी है।

उनके विश्वास के बावजूद, “ऐके47” का मानना ​​है कि उनके पास टोक्यो में एक आसान काम होगा, लेकिन विश्व ग्रां प्री में उन्हें अब तक जो दृष्टिकोण मिला है, वह उन्हें गौरव दिलाने में सक्षम होना चाहिए।

सना ने कहा कि जियोर्जियो एक तरह से संपूर्ण मुक्केबाज है। वह पूरी तरह से कुशल होने के कारण डॉक्टर के रूप में पहचाने जाते हैं। वह हमेशा अपने सिर से फाइट करते हैं।

वह बहुत अच्छे गुणों वाले अच्छे मुक्केबाज है जैसे उन्होंने पहले मुक्केबाज़ी की है। उन्हें उम्मीद है कि वह शीर्ष पर काबिज होंगे ताकि हम एक बहुत अच्छी फाइट करते हुए किकबॉक्सिंग के इतिहास में उसे दर्ज कराएं।

उनकी कमजोरियों के बारे में उन्हें पता है और वह उसमें सुधार कर रहे हैं, लेकिन उन्हें अपने विरोधी की कमजोरियों की भी जानकारी है। ऐसे में बाउट में वही कमजोरियां उनके लिए मददगार साबित हो सकती है।

कई एथलीटों को भारी भरकम पुरस्कार राशि वाली बाउट से पहले दबाव महसूस होता है। वह उस राशि को जीतना चाहते हैं। वह राशि उनकी व उनके परिवार की पूरी जिंदगी को बदल सकते हैं।

तीन बार के मुवा थाई और किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन एक सच्चे योद्धा हैं और एक शो में डालने के बारे में अधिक चिंतित हैं। वह साबित करना चाहते हैं कि वह अपने सभी साथियों से ऊपर खड़ें हैं।

उन्होंने कहा कि वह पैसे के बारे में बहुत ज्यादा बात नहीं करना चाहते हैं। लाखों की परवाह कौन करता है? हम यहां तक ​​कि देखभाल नहीं करते हैं, हम यहां बॉक्सिंग करने के लिए हैं। इनामी राशि उन्हें प्रभावित नहीं करती है। वह यहां बस जीतने व टूर्नामेंट अपने नाम करने आए हैं।

इस टूर्नामेंट का महत्व विश्व में सर्वश्रेष्ठ होना है। उन्हें ग्रह के आठ सर्वश्रेष्ठ स्ट्राइकरों में से चुना गया है। इसी के कारण वह यहां है। मुख्य बात यह है कि आपको ग्रह पर सबसे अच्छा किकबॉक्सर बनना है।

टोक्यो | 13 अक्टूबर | ONE: CENTURY | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय लिस्टिंग की जाँच करें | टिकट: https://onechampionship.zaiko.io/e/onecentury

ONE: CENTURY इतिहास की सबसे बड़ी विश्व चैम्पियनशिप मार्शल आर्ट प्रतियोगिता है जिसमें 28 विश्व चैंपियनशिप विभिन्न मार्शल आर्ट शैलियों का प्रदर्शन करेंगे। इतिहास में किसी भी संगठन ने कभी भी एक ही दिन में दो पूर्ण पैमाने पर विश्व चैम्पियनशिप इवेंट आयोजित नहीं किए हैं।

13 अक्टूबर को जापान के टोक्यो में प्रसिद्ध रोयोगोकू कोकूगिकन में कई वर्ल्ड टाइटल मुकाबलों, वर्ल्ड ग्रां प्रिक्स चैंपियनशिप फाइनल की एक तिकड़ी और कई वर्ल्ड चैंपियन बनाम वर्ल्ड चैंपियन मैच लाने के साथ The Home Of Martial Arts नई जमीन पर दस्तक देगा।