न्यूज़

जेहे युस्ताकियो दुनिया को बताना चाहते हैं कि वह ‘रीमैच किंग’ हैं

नवम्बर 2, 2019

जेहे युस्ताकियो “ग्रेविटी” ONE: MASTERS OF FATE पर एक शानदार जीत के साथ वर्ष 2019 का समापन कर सकते हैं जो उनके करियर के लिए एक संतोषप्रद जीत होगी।

वह अगले शुक्रवार, 8 नवंबर को फिलीपींस के मनीला में टोनी टोरू “डायनामाइट” के खिलाफ होने वाले रीमैच में जीत कर अपनी पहली हार को भूलना चाहेंगे।

दोनों एथलीट पहली बार 2016 में ONE: AGE OF DOMINATION में आमने-सामने हुए थे। जहां युस्ताकियो को पहले राउंड में ही रियर-नेक चोक से सबमिट करना पड़ा था, लेकिन “ग्रेविटी” निश्चित रूप से मॉल ऑफ एशिया एरिना में अलग परिणाम के लिए तत्पर है।

उन्होंने कहा कि “मैं उस समय खुद को साबित नहीं कर सका था, लेकिन इस उसके बाद मैने सबक सीखें हैं और अब मैं पूरा प्रयास करूंगा कि उन गलतियों को ना दोहराऊं।”

“मैं इस समय पूरा ध्यान बाउट पर दे रहा हूं और यह सुनिश्चित कर रहा हूं कि जब हम रिंग में उतरे तो मैं हर चीज के लिए तैयार रहूं और एक अलग कहानी लिखूँ। मैं अपने रीमैच के लिए तैयार हूँ और मैं इस स्तर पर ‘रीमैच किंग’ के रूप में पहचान बनाना चाहता हूं।”

हालांकि उन्होंने आखिरी बार जब टोरू का सामना किया था तब से “ग्रेविटी” ने एनाटपॉन्ग बान्र्ड, कैरैट अख्मेतोव और एड्रियानो मोरेस पर जीत दर्ज कर, हार का बदला लेने के लिए ख्याति अर्जित की है। उन्होंने इस डिविज़न में ऊँचाई प्राप्त की और ONE फ्लाइवेट वर्ल्ड टाइटल पर दावा किया।

उनका मानना है कि इस सफलता का कारण एक सक्रिय शेड्यूल है जिसमें उन्होंने अपने प्रतिद्वंद्वी से दुगने बाउट में भाग लिया है। इस वर्ष अब तक वह तीन मुकाबले कर चुके हैं, जो उन्हें The Home Of Martial Arts के सबसे व्यस्त प्रतियोगियों में से एक बनाते है।

युस्ताकियो ने कहा कि, “मेरे लिए सक्रिय रहना बहुत सकारात्मक है। यह मुझे तेजी से आगे बढ़ता है और मैं अपने सुधार पर ध्यान केंद्रित करने में सक्षम रहता हूं।”

उनके निरंतर प्रशिक्षण ने उन्हें रिंग में कुछ नया प्रयोग करने की काबिलियत दी है। इसके साथ ही एक अधिक विश्लेषणात्मक और परिपक्व मानसिकता भी दी है। जिसे जीत की कुंजी कहा जा सकता है।

उन्होंने कहा कि, “मुझमें विकास तो पहले से ही हो रहा था, मैंने अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट खेल के सभी पहलुओं में सुधार किया। उनके खिलाफ मेरा सबसे अच्छा हथियार मेरा दिमाग होगा। मुझे इस बार और बेहतर प्रतिस्पर्धा करने की आवश्यकता है।”

उनका यह भी मानना ​​है कि फ्लाइवेट पर प्रतिस्पर्धा करना उनके पक्ष में होगा क्योंकि फिनलैंड के 34 वर्षीय फाइटर को डाइटिंग करने से काफी नुकसान होगा।

उनके आत्मविश्वास के बावजूद, “ग्रेविटी” निश्चित रूप से टोरू को कम नहीं आंकेंगे। विशेष रूप से इसलिए क्यूँकि पिछली बार उनको टोरू से सब्मिशन द्वारा हार झेलनी पड़ी थी। हालांकि, तब से शीर्ष स्तर के ग्रैपलरों के खिलाफ उनके प्रदर्शन से साबित होता है कि युस्ताकियो अब ग्राउंड पर अब एक अलग अंदाज में नजर आएंगे।

इतना कि वह 8 नवंबर को ख़ुद भी सबमिट कराने की क्षमता रखते हैं। ऐसा न कर पाने पर उनके पास हमेशा विश्व स्तरीय वुशू है जिस पर उन्होंने कई वर्षों तक टीम लकाय के साथ काम किया है।

 

उन्होंने कहा कि “मुझे उनकी ग्रैप्लिंग से सावधान रहना पड़ेगा लेकिन में ग्राउंड में अपने पैंतरे आज़माने से डरता नहीं हूँ। मैं उनकी स्ट्राइकिंग स्किल्स का सम्मान करता हूं, लेकिन मेरा मानना ​​है कि टीम लकाय में उनकी टीम के मुकाबले बेहतर है।”

“जब भी मैं प्रतिस्पर्धा में भाग लेता हूं तो सबसे ज्यादा यह मायने रखता है कि मैं अपनी क्षमता का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूं और प्रशंसकों को एक मनोरंजक मुकाबला दूं। वो मेरे सुधार और विकास को देखेंगे और मैं यह दिखाने की पूरी कोशिश करूंगा कि मैं अपने खेल को अगले स्तर पर कैसे ला सकता हूं। मैं एक स्टोपेज की तलाश में हूं और उम्मीद कर रहा हूं कि उन्हें सबमिट करा कर हराऊँ।”

यह भी पढ़ें: ONE: MASTERS OF FATE पर पैचीओ Vs. कैटलन के साथ होगी फोलायंग और स्टैंप की वापसी

मनीला | 8 नवंबर | MASTERS OF FATE | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय लिस्टिंग की जाँच करें | टिकट: http://bit.ly/onefate19