किकबॉक्सिंग

डेविट कीरिया: पेट्रोसियन महान एथलीट हैं, लेकिन मैं उन्हें हराने के लिए तैयार हूं

फरवरी 23, 2021

डेविट कीरिया ONE Super Series के फेदरवेट डिविजन से जुड़े सबसे नए एथलीट हैं और अपने प्रोमोशनल डेब्यू में ही इतिहास रच सकते हैं।

शुक्रवार, 26 फरवरी को ONE: FISTS OF FURY में जॉर्जियाई स्ट्राइकर का सामना किकबॉक्सिंग लैजेंड जियोर्जियो “द डॉक्टर” पेट्रोसियन से होगा। 8 साल बाद दोनों एथलीट्स दोबारा आमने-सामने आ रहे हैं।

अर्मेनियाई-इटालियन सुपरस्टार ने कीरिया के खिलाफ पहली भिड़ंत में जीत दर्ज की और आज उन्हें महान किकबॉक्सर का दर्जा दिया जाता है। वहीं दूसरी ओर कीरिया का मानना है कि इस बार वो जरूर पुरानी हार का हिसाब बराबर करेंगे।

उन्होंने कहा, “मैं इस चुनौती के लिए तैयार हूं। ONE Championship का हिस्सा बनकर और एक महान एथलीट का सामना करने को लेकर उत्साहित महसूस कर रहा हूं।”

“ये रीमैच है, ये मेरे लिए डेब्यू भी है और मैंने इसके लिए बहुत कड़ी मेहनत की है इसलिए इस चुनौती का इंतज़ार नहीं कर पा रहा हूं।”

Kickboxing star Davit Kiria

कीरिया को उनकी किकबॉक्सिंग और कराटे स्टाइल के लिए जाना जाता है और उस एथलीट को हरा चुके हैं, जिन्होंने पेट्रोसियन को हराया हुआ है।

साल 2014 में एंडी रिस्टी ने पेट्रोसियन को नॉकआउट किया था, जो इटालियन एथलीट के करियर की केवल दूसरी हार रही।

अपने पहले चैंपियनशिप डिफेंस में रिस्टी को कीरिया के खिलाफ आखिरी राउंड में हार मिली। इस मैच ने दिखाया कि कीरिया कितने खतरनाक एथलीट हैं।

वो शुरुआत से ही अटैक करने की रणनीति अपनाते हैं, खतरनाक स्ट्राइकिंग स्टाइल से अपने प्रतिद्वंदी पर निरंतर दबाव बनाते हुए नॉकआउट करने की कोशिश करते हैं।



फैंस को कीरिया से उनके प्रोमोशनल डेब्यू में पेट्रोसियन के खिलाफ मैच में भी उसी तरह की उम्मीद रखनी चाहिए।

जॉर्जियाई एथलीट ने कहा, “आपको एक ऐसा एथलीट देखने को मिलेगा, जो कड़ी मेहनत करता हो और किकबॉक्सिंग व कराटे स्टाइल का मिश्रण करते हुए अपने प्रतिद्वंदियों को क्षति पहुंचाता हो।”

“डेविट कीरिया को परफॉर्म करते देख कभी कोई बोर नहीं होगा क्योंकि डेविट कीरिया हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करते हैं।

“लोगों को एक धमाकेदार मुकाबला देखने को मिलेगा और मैं रिंग में डिविजन का टॉप कंटेंडर बनने के इरादे से एंट्री लेने वाला हूं। दुनिया भर के लाखों-करोड़ों फैंस मुझे देख रहे होंगे और मुझे भरोसा है कि उन्हें मेरी परफॉर्मेंस पसंद आएगी।”

कीरिया को उम्मीद है कि पेट्रोसियन के खिलाफ पहले मुकाबले की तुलना में इस बार परिणाम अलग होगा।

ऐसा इसलिए क्योंकि नवंबर 2012 में उनकी उम्र केवल 24 साल थी। तब तक वो वर्ल्ड चैंपियन नहीं बने थे और दुनिया भर का भ्रमण करते हुए टॉप लेवल के एथलीट्स के खिलाफ 37 जीत दर्ज नहीं की थीं।

उनका मानना है कि उनका स्किल सेट इस बार “द डॉक्टर” की अपराजित स्ट्रीक का अंत करने के लिए काफी होगा।

कीरिया ने कहा, “जियोर्जियो के साथ मेरा पिछला मैच 8 साल पहले हुआ था, उस समय मुझे आज के मुकाबले बहुत कम अनुभव प्राप्त था।”

“वो मेरा पहला चैंपियनशिप टूर्नामेंट था और उसके बाद मैंने बहुत अनुभव हासिल किया है।

“मैं जियोर्जियो ही नहीं बल्कि अपने सभी प्रतिद्वंदियों का सम्मान करता हूं, लेकिन फिलहाल मुझे उनसे ज्यादा जीत की भूख है। मैं खुद को दुनिया के बेस्ट फाइटर्स में से एक साबित करना चाहता हूं।”

ONE: FISTS OF FURY में एक जीत कीरिया के लिए बहुत महत्वपूर्ण होगी। वो अपना बदला पूरा करेंगे, डिविजन के #1 रैंक के कंटेंडर को कई साल बाद हराने वाले पहले एथलीट बन सकते हैं और खुद को ONE के उभरते हुए स्टार्स में शामिल करवा सकते हैं।

इस जीत के साथ वो पहले ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन बनने की रेस में भी शामिल हो जाएंगे।

अपनी अगली चुनौती के बारे में सोचकर कीरिया खुद को परेशान नहीं रखना चाहते। अब वो ONE एथलीट बन चुके हैं और बड़ी से बड़ी चुनौती के लिए भी तैयार हैं।

उन्होंने कहा, “मैं सभी चुनौतियों के लिए तैयार हूं। अगर मुझे वर्ल्ड टाइटल शॉट मिला तो मैं उसे खुशी-खुशी स्वीकार करूंगा।”

“चुनौती कितनी भी बड़ी क्यों ना हो, मैं उसके लिए तैयार रहूंगा। मुझे फर्क नहीं पड़ता कि इस तरह का बड़ा मैच, वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच या ग्रां प्री में जगह मिले। मैं सभी में जीत दर्ज कर खुद को दुनिया का बेस्ट एथलीट साबित करना चाहता हूं।”

ये भी पढ़ें: किकबॉक्सिंग लैजेंड अपनी विरासत को बरकरार रखने को बेताब हैं