विशेष कहानियाँ

ONE: DAWN OF VALOR के स्टार्स के 5 बेहतरीन सब्मिशन

अक्टूबर 19, 2019

दुनिया का सबसे बड़ा मार्शल आर्ट संगठन अगले शुक्रवार, 25 अक्टूबर को ONE: DAWN OF VALOR के लिए इंडोनेशिया के जकार्ता में वापसी कर रहा है। इसके स्टैक कार्ड पर कुछ महान ग्रेपलर भी शामिल हैं।

ग्राउंड गेम के लिए झुकाव होने के साथ इन एथलीटों में देसी प्रतिभाओं का एक संग्रह है और वो अक्सर घरेलू मिट्टी पर अपने हमवतन के सामने प्रतिस्पर्धा करने पर अपना सर्वश्रेष्ठ काम करने लगते हैं।

इनमें से कई मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट इस्तोरा सेनयान में रिंग में उतरने के लिए तैयार हैं। ऐसे में आइए एक नजर डालते हैं उनके बेहतरीन प्रदर्शनों तथा अंतरराष्ट्रीय नायकों के बेहतरीन फिनिश पर। इनमें से कुछ आपको अगले शुरक्रवार को दिखाई दे सकते हैं।

# 1 अब्बासोव ने थानी को किया बाहर

ONE: DESTINY OF CHAMPIONS में एक शानदार प्रदर्शन में, कियामरियन अब्बासोव “ब्रेजेन” ने अगिलन थानी “एलिगेटर” को तीन मिनट में ही हराने के लिए अपने कौशल-सेट के हर पहलू को प्रदर्शित किया।

किर्गिज़ एथलीट ने अपने प्रतिद्वंद्वी पंचों, कोहनी और घुटनों के बल खड़ा कर दिया और अंतिम हमले ओवरहेल्म्ड से पहले उन्होंने कई बार थानी कैनवास पर गिराया।

जैसे ही वह नीचे गिरे तो “ब्रेज़ेन” ने बाउट पर पूरा नियंत्रण लेने के लिए अपने हुक का उपयोग किया और वहां से रियर-नेक चोक लगाते हुए मलेशियाई फाइटर को टैप के लिए मजबूर कर दिया।

अब्बासोव अब ONE: DAWN OF VALOR के मुख्य इवेंट में ONE वेल्टरवेट वर्ल्ड टाइटल के लिए ज़ेबज़्टियन कडेस्टेम “द बैंडिट” को चुनौती देंगे।

# 2 लुम्बन गाओल का त्रिनिदाद के खिलाफ टेनेसियस टैप

जैसे ही प्रिस्किल्ला “थाथी” हरताती लुम्बन गाओल ने गत मई में ONE: GRIT AND GLORY पर रोम त्रिनिदाद “द रिबेल” की गर्दन को पकड़ा तो फिर उन्हें बचकर जाने का मौका नहीं दिया।

फिलीपिनो ने खुद को डेंजर जोन में डाल दिया क्योंकि उन्होंने इंडोनेशियन स्टार पर एक टेकडाउन का प्रयास किया और तुरंत “थाथी” ने उनकी गर्दन पर नियंत्रण कर लिया और एक चोक के लिए चली गई।

इसमें लगभग दो मिनट का समायोजन और स्थितिगत परिवर्तन हुए, लेकिन आखिरकार गिलोटिन को सुरक्षित करने के लिए उन्होंने गार्ड को खींच लिया, फिर हार्ड-अर्जित टैप प्राप्त करने के लिए त्रिनिदाद की गर्दन पर क्रैंक किया।

अब लुंबन गाओल का अगला मुकाबला म्यांमार के एथलीट बोहैना एंटोनियार खिलाफ इस्तोरा सेनयान में समर्थित भीड़ के सामने होगा।

# 3 मैथिस ने पहले की स्ट्राइक और फिर किया सब्मिशन

जकार्ता का स्टेडियम उस समय घरेलू भीड़ के शोर से गूंज उठा जब एड्रियन मैथिस “पापुआ बैडबॉय” ने मई में ONE: FOR HONOR पर वुशोर स्टाइलिस्ट हिमांशु कौशिक के खिलाफ पहले राउंड में ही शानदार जीत दर्ज कर ली।

टाइगरसार्क फाइटिंग एकेडमी के प्रतिनिधि हमेशा एक त्वरित फिनिश के लिए शिकार पर जाते हैं और जब वह अपने प्रतिद्वंद्वी को 90 सेकंड में ही धराशाही करते हुए फ्रेम में उन्हें ग्राउंड और पाउंड के लिए ले जाते हैं तो लगता है कि उनके समान कोई नहीं है।

कौशिक ने अपनी पीठ पर हमलों को झेलने का प्रयास किया, लेकिन उन्होंने ने केवल अधिकतर हमले झेले, बल्कि अपने विरोधी को रियर नेक चोक का भी मौका दे दिया। इस मौके ने उनके विरोधी को सब्मिशन हासिल करने का खुला आमंत्रण दे दिया और वह जीत गए।

# 4 ऑल-आउट के लिए गए राहार्डियन

स्टेफर रहर्डियन “द लायन” सितंबर 2017 में कंबोडिया के सिम बनसरून पर हासिल की गई 67-सेकंड की आक्रामक जीत से बेहतर पहले कभी नहीं दिखे थे।

जकार्ता में उत्साह से लबरेज घरेलू भीड़ से घबराकर, बाली एमएमए प्रतिनिधि सीधे टेकडाउन के लिए चले गए। इस दौरान वह पहले माउंट पर उतरे और फिर अपने मजबूत पंचों को झेलने के लिए प्रतिद्वंद्वी को पीठ मोड़ने पर मजबूर कर दिया।

रहार्डियन विशेषज्ञ अपने प्रतिद्वंद्वी से सटे रहे, जब वह अपने घुटनों पर गए तो जल्दी से पीछे की रियर नेक चोक लगा दिया। बनसरून ने बचने के लिए वह सबकुछ किया जो वह कर सकते थे, लेकिन एक बार एक बॉडी ट्राइएंगल को बंद करने के बाद “द लायन” ने अपनी पकड़ और भी मजबूत कर ली। इससे उनके विरोधी के पास टैप करने के अलावा कोई चारा नहीं रहा।

वन जकार्ता फ्लायवेट टूर्नामेंट चैंपियन 25 अक्टूबर को प्रीलिम्स के शीर्ष पर ऑल इंडोनेशियाई फाइट में मैथिस का सामना करेंगे।

# 5 सिरेगर की रेसलिंग दक्षता का सब्मिशन

एलीपिटुआ सिरेगर “द मैजिशियन” ने अपनी पेशेवर शुरुआत में डोडी मार्डियन “द माउंग” को सब्मिट करते हुए The Home Of Martial Arts में अपनी अलग छाप छोड़ी थी।

इंडोनेशियाई कुश्ती चैंपियन ने बार-बार अपने दुश्मन को कैनवास पर पटका और कठोर ग्राउंड और पाउंड के साथ स्कोर किया, लेकिन “द माउंग” ने भी इसका विरोध करने और अपने पैरों पर वापस काम करने की पूरी कोशिश की।

हालाँकि, “द मैजिशियन” के रूप में उनका प्रदर्शन पूर्ववत था जब मार्डियन ने अपने घुटनों को मोड़ने के लिए मुड़कर देखा। सिरेगर ने अपनी पीठ पर कूद कर अपनी दाहिनी बांह को गर्दन के नीचे फंसाया और फिर रियन नेक चोक लगाकर शानदार जीत हासिल कर ली।

बाली एमएमए एथलीट 25 अक्टूबर को क्लासिक ग्रेपलर बनाम स्ट्राइकर मुठभेड़ में एगी रोज़्टेन का सामना करेंगे।

यह भी पढ़ें: ज़ेबज़्टियन कडेस्टम के परीक्षण के लिए रोमांचित हैं कियामरियन अब्बासोव

जकार्ता | 25 अक्टूबर | DAWN OF VALOR | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय लिस्टिंग की जाँच करें | टिकट: http://bit.ly/onedawnofvalor19