विशेष कहानियाँ

ONE: FIRE AND FURY के स्टार्स के टॉप-5 प्रदर्शन

नए दशक के दूसरे ONE इवेंट के कार्ड में कई एलीट स्तर के एथलीट्स शामिल हैं और ये बात दर्शा रही है कि फिलीपींस की राजधानी मनीला में होने वाला ये इवेंट धमाकेदार साबित होने वाला है।

ONE: FIRE AND FURY के एथलीट टॉप-क्लास प्रदर्शन, जबरदस्त एक्शन से भरपूर मुकाबलों में माहिर हैं जिनमें कुछ लोकल स्टार्स भी शामिल हैं जो जरूर फैंस के फेवरेट रहने वाले हैं।

मॉल ऑफ एशिया एरीना में एक और शानदार इवेंट से पहले हम आपको शुक्रवार, 31 जनवरी को होने वाले इस इवेंट के स्टार्स के टॉप-5 प्रदर्शनों से अवगत कराने वाले हैं।

#1 फिलीपींस को मिला नया चैंपियन

जोशुआ “द पैशन” पैचीओ अपने करियर में काफी संख्या में स्टॉपेज के जरिए मुकाबले जीत चुके हैं लेकिन उनकी सबसे बड़ी जीत ONE: CONQUEST OF HEROES में योशिताका “नोबिता” नाइटो के खिलाफ आई थी जिसने उन्हें ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड चैंपियन बनाया था।

Team Lakay के स्टार को साल 2016 में नाइटो के खिलाफ पहले मुकाबले में सबमिशन से हार मिली थी। लेकिन रीमैच से पहले उन्होंने अपनी स्किल्स में काफी सुधार किया और अपने प्रतिद्वंदी पर एकतरफा जीत हासिल की।

काफी फैंस ने सोचा था कि “द पैशन” अपनी स्ट्राइकिंग से अपने प्रतिद्वंदी पर दबाव बनाने की कोशिश करेंगे और मैच के शुरुआती चरण में उन्होंने ऐसा ही किया। लेकिन कुछ ही लोगों ने उम्मीद की होगी कि वो टेकडाउन और सबमिशन लगाने की कोशिश करेंगे।

हालांकि, सभी चीजें उनके प्लान के मुताबिक नहीं रहीं क्योंकि “नोबिता” ने अपने अनुभव का भरपूर फायदा उठाया। लेकिन पैचीओ मजबूती से डटे रहे और शानदार जिउ-जित्सु स्किल्स के सहारे मैच में बढ़त बनाए रखी और सर्वसम्मत निर्णय से जीत दर्ज की।

#2 महान ग्रैपलर सिल्वा की मास्टरक्लास स्ट्राइकिंग

एलेक्स “लिटल रॉक” सिल्वा ने दिसंबर 2017 में नाइटो को अपने करियर में पहली हार का स्वाद चखाकर ONE स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल अपने नाम किया था। इसके अलावा उन्होंने ये भी दिखाया कि वो केवल ग्रैपलिंग ही नहीं बल्कि दूसरे तरीकों से भी मैच जीत सकते हैं।

2 गज़ब के ग्रैपलिंग एक्सपर्ट्स के बीच ONE: WARRIORS OF THE WORLD में हुए इस मैच में दोनों ओर से बेहतरीन स्टैंड-अप स्किल्स देखने को मिलीं। पहले राउंड में सिल्वा ने कई दमदार पंच लगाए।

37 वर्षीय ब्राजील के एथलीट को अधिक सफलता तब मिली जब उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी के अगले पैर पर अटैक किया। इस रणनीति से “नोबिता” टेकडाउन करने में सफल नहीं हो पा रहे थे।

“नोबिता” ने आखिरी राउंड्स में शानदार वापसी की लेकिन सिल्वा के अनुभव के सामने उनके सबमिशन के लगभग सभी प्रयास नाकाम साबित हो रहे थे और शुरुआती बढ़त की वजह से वो चैंपियन बनने में भी सफल रहे।

अब ONE: FIRE AND FURY के मेन इवेंट में वो जोशुआ पैचीओ को हराकर एक बार फिर टाइटल जीतने की कोशिश करेंगे।

#3 फोलायंग की मकाऊ में शानदार जीत

एडुअर्ड “लैंडस्लाइड” फोलायंग के लिए साल 2016 उनके करियर का सबसे सफल साल साबित हुआ था, वो ना केवल टॉप पर पहुंचे बल्कि ONE लाइटवेट वर्ल्ड चैंपियन भी बने थे।

इस दौर का सबसे जबरदस्त मुकाबला मकाऊ में हुए ONE: HEROES OF THE WORLD में दिखा, जहाँ उन्हें 3 राउंड के जबरदस्त एक्शन के बाद एड्रियन पांग पर जीत मिली थी।

Team Lakay के स्टार ने अपनी शानदार वुशु स्किल्स के सहारे ऑस्ट्रेलियन एथलीट पर ताकतवर स्ट्राइकस लगाईं जिनमें उनके ट्रेडमार्क कहे जाने वाले स्पिनिंग अटैक भी शामिल रहे।

पांग ने इसके बाद भी आगे बढ़ना नहीं छोड़ा लेकिन फोलायंग लगातार उनकी बॉडी और सिर को दमदार स्ट्राइक्स से क्षति पहुंचाते रहे। इस दौरान उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी को 2 बार नॉकडाउन भी किया जिससे जजों का रुख भी उनकी तरफ मुड़ने लगा था।

अब 31 जनवरी को फोलायंग का सामना पीटर बस्ट से होने वाला है।

#4 किंगड का जबरदस्त एक्शन

डैनी “द किंग” किंगड द्वारा तत्सुमित्सु “द स्वीपर” वाडा के खिलाफ लगातार 3 राउंड्स में स्ट्राइकिंग से मॉल ऑफ एशिया एरीना में मौजूद फैंस सोचने पर मजबूर हो गए थे कि किसी एथलीट के पास इतना स्टैमिना कैसे हो सकता है और इसी स्ट्राइकिंग के सहारे उन्हें सर्वसम्मत निर्णय से जीत मिली।

ये चीज तो साफ देखी जा सकती थी कि वाडा अपने प्रतिद्वंदी को हराना चाहते थे। इसी वजह से जब भी जापानी एथलीट आगे आने का प्रयास करते “द किंग” उन्हें दमदार हुक और अपरकट लगा देते।

हर स्ट्राइक “द स्वीपर” को काफी चोट पहुंचा रही थी जिससे उन्होंने दूर रहकर अटैक करना शुरू किया लेकिन उनकी किक्स को काउंटर करते हुए डैनी उन्हें बॉक्सिंग कॉम्बिनेशन से जवाब दे रहे थे।

किसी तरह वाडा ने भी अटैक कर वापसी करने की कोशिश की लेकिन तब तक जजों की नजरों में किंगड की जीत तय हो चुकी थी।

बागियो शहर से आने वाले 24 वर्षीय एथलीट का सामना मॉल ऑफ एशिया एरीना में अब चीन के “द हंटर” शे वेई से होना है।

#5 रोडलैक ने लैजेंड को हराया

रोडलैक पी.के. साइन्चेमॉयथाईजिम ने पिछले साल जून में अपना ONE डेब्यू किया था, जहाँ उन्होंने 8 बार के मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन लियाम “हिटमैन” हैरिसन को हराते हुए फैंस को निराशा हाथ नहीं लगने दी।

थाई स्टार का एकमात्र लक्ष्य यही था कि वो फैंस का मनोरंजन करते रहें और वो अपनी ताकत, स्किल्स और स्टैमिना के सहारे अपने लक्ष्य को पूरा करने में सफल भी रहे।

चीजें लगातार बदल रही थीं क्योंकि हैरिसन ने भी अपने ट्रेडमार्क कहे जाने वाले जैब और दमदार लेग किक्स लगानी शुरू कर दी थीं। लेकिन रोडलैक इस अटैक का मजबूती से सामना करते रहे और जवाब में कुछ शानदार कॉम्बिनेशन लगाए जिनमें कुछ ताकतवर पंच और किक्स भी शामिल रहे जिनसे लियाम नीचे भी गिर पड़े थे।

दूसरे राउंड में लो किक्स ने थाई स्टार को काफी क्षति पहुंचाई थी लेकिन उन्होंने लियाम को पीछे धकेलने की रणनीति नहीं छोड़ी और जबरदस्त राइट हैंड लगाते हुए टेकडाउन भी किया। हैरिसन ने वापसी की कोशिश की लेकिन रोडलैक की सुपरमैन एल्बो सीधी उनके प्रतिद्वंदी के माथे से जा टकराई जिसने उन्हें सर्वसम्मत निर्णय से जीत हासिल करने में मदद की थी।

अब मनीला में वो स्कॉटलैंड के क्रिस शॉ के साथ रिंग साझा करने वाले हैं।

ये भी पढ़ें: ONE: FIRE AND FURY के स्टार्स के टॉप-5 नॉकआउट

मनीला | 31 जनवरी | ONE: FIRE & FURY | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं