विशेष कहानियाँ

वह शख्स, जिसने बदल दी स्टैम्प फेयरटेक्स की जिंदगी

नवम्बर 12, 2019

स्टैम्प फेयरटेक्स एक रिकॉर्ड तोड़ने की फिराक में हैं। वह तीसरी बार ONE वर्ल्ड चैंपियन बनना चाहती हैं। वह शुक्रवार 8 नवंबर को अपनी यात्रा में एक और कदम आगे बढ़ाएंगी।

ONE एटमवेट किकबॉक्सिंग और मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन का मुकाबला वियतनामी-अमेरिकन स्टार बी गुयेन “किलर बी” से मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स बाउट ONE: MASTERS OF FATE में होगा।

जैसे ही वह फिलीपींस के मनीला में एशिया एरिना के मॉल में महिलाओं के एटमवेट संघर्ष के लिए तैयार होती हैं तो थाई योद्धा को यह अहसास हो जाता है कि अगर वह अपने मैनेजर फिलिप वोंग के साथ न होतीं तो वह इस मुकाम तक न पहुंच पातीं। 21 साल की योद्धा कहती है कि इस मौके के लिए मैं उनकी बहुत आभारी हूं, जो उन्होंने मुझे दिया है। उन्होंने मेरे करियर को बहुत आगे बढ़ाया है।

हाल के वर्षों में स्टैम्प, जो थाईलैंड के रेयॉन्ग में फल की खेती करने वाले किसानों के एक परिवार से आती हैं, वह देश की महिला मार्शल आर्ट्स आंदोलन में एक नेता के रूप में उभरी हैं। उन्होंने बचपन में अपने परिवार के सदस्यों के साथ “आठ अंगों की कला” का प्रशिक्षण लिया और पूरे देश में प्रतिस्पर्धा की। उनके करियर को अगले स्तर पर तब ले जाया गया, जब वह वोंग से मिलीं, जो फेयरटेक्स के मालिक और प्रबंध निदेशक भी हैं।

स्टैम्प कहती हैं कि वह वास्तव में मेरे भविष्य के बारे में सोचते हैं। वह मेरे हर निर्णय को सोच-समझकर लेते हैं। उनकी सोच दूरदर्शी रही है। वह उग्र व्यक्तित्व वाले हैं और हमें जिम में कड़ी ट्रेनिंग देते हैं। कभी-कभी ट्रेनिंग के दौरान वह सख्त हो जाते हैं लेकिन असल में वह बेहद दयालु इनसान हैं।

पिछले ढाई साल से स्टैम्प पटाया के फेयरटेक्स ट्रेनिंग सेंटर में अपने कौशल को निखार रही हैं। बेहद कम समय में वोंग ने अपनी युवा शिष्या को निपुण और विश्व स्तरीय प्रतियोगी के लिए अपने जैसे व्यक्तित्व में ढाल दिया है।



जुलाई 2018 में ONE Warrior Series 2 में अपने 19 सेकंड के हेड किक नॉकआउट से प्रभावित करने के बाद थाई हीरो वन सुपर सीरीज में शामिल हो गई और ऊंचाइयों पर पहुंच गई।

अक्टूबर 2018 में स्टैम्प ने ONE एटमवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल का दावा करने के लिए तत्कालीन-टाइटलर चुआंग काई टिंग को मुख्य रोस्टर डेब्यू में सर्वसम्मत निर्णय के माध्यम से हराया। उन्होंने फरवरी में सर्वसम्मत निर्णय के माध्यम से जेनेट टॉड “जीटी” को हराकर शुरुआत की। ऐसा करने के बाद वह इतिहास में दो बार की ONE वर्ल्ड चैंपियन बन गईं।

उन्होंने स्वीकार किया कि मेरे बेतहाशा सपनों से मुझे कभी नहीं लगा कि मैं विश्व चैंपियन बनूंगी। विशेष रूप से इस तरह के प्रतिष्ठित संगठन के साथ। मैंने तब लगभग लड़ना छोड़ दिया था। मैं जब से फेयरटेक्स में आई। वोंग ने मुझे प्रशिक्षित किया, तब से मेरे जीवन के सभी पहलुओं में सुधार आया है। मुझे फेयरटेक्स में लाने और मेरी देखभाल करने के लिए मैं हमेशा उनकी आभारी रहूंगी। उनके पास जीवन का अनुभव है, जो वह मेरे साथ साझा करते हैं। वह मुझे पैसे बचाने के लिए कहते हैं। वह मेरे रोल मॉडल भी हैं।

स्टांप उनकी सलाह को दिल से लगाती हैं क्योंकि मय थाई समुदाय में वोंग एक प्रिय व्यक्ति हैं।

1971 में फेयरटेक्स ब्रांड लॉन्च करने और 1975 में कंपनी के मूल जिम को खोलने के बाद से वोंग ने अपनी विरासत को आगे बढ़ाया है। वोंग चाहे भविष्य के लिए योजना बना रहे हों, अपने एथलीट के प्रशिक्षण शिविरों की देखरेख कर रहे हों या दिन-प्रतिदिन के कार्यों को बेहतरीन करने में मदद कर रहे हों पर वह जिम की संस्कृति का एक बुनियादी हिस्सा हैं।

स्टैम्प कहती हैं कि अगर हम में से किसी के पास बड़ा मुकाबला है तो वह प्रशिक्षण सत्रों के दौरान यह सुनिश्चित करेंगे कि हम ठीक से प्रशिक्षण लें। वह यह भी सुनिश्चित करते हैं कि हमें अतिरिक्त मछली और विटामिन जैसे पोषण मिलते रहें। वोंग जब जिम में होते हैं तो हम सभी उन्हें प्रभावित करने के लिए ज्यादा मेहनत करते हैं। हम डरे हुए भी हैं क्योंकि चाहते हैं कि उन्हें सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करके दें।

उन्होंने आगे कहा, उन्हें वहां होने की जरूरत नहीं हैं क्योंकि वह 70 साल के हैं पर वह हमारे साथ वहां रहना चाहते हैं। हम इसकी सराहना करते हैं।

Stamp Fairtex emotional after her second mixed martial arts win

जैसे-जैसे थाई स्टार का करियर आगे बढ़ रहा है, वोंग ने उन्हें जो सबक दिए हैं, उनका प्रभाव समय के साथ और बढ़ता जा रहा है। वह कहती हैं कि एक चैंपियन बनना पहाड़ पर चढ़ने जैसा है। जितना ऊंचा पहाड़ होगा, उतनी वहां ठंड अधिक होगी। उन्होंने कहा है कि मुझे और भी कठिन प्रशिक्षण देना चाहिए। अगर मैं शीर्ष पर रहना चाहती हूं तो मुझे ज्यादा ध्यान केंद्रित करना होगा।

स्टैम्प तीन बार की ONE वर्ल्ड चैंपियन बनने के लिए प्रेरित हैं। अगले सप्ताह फिलीपीन की राजधानी में मार्टिन गुयेन “द सीटू-एशियन” के साथ मिक्स्ड मार्शल आर्ट का मुकाबला होना है। वह इस लड़ाई पर ज्यादा ध्यान केंद्रित कर रही हैं।

यह भी पढ़ें: स्ट्राइकिंग क्लिनिक के साथ बी गुयेन पर हावी रही स्टैम्प फेयरटेक्स