मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स

कैसे फिलीपींस में मार्शल आर्ट्स की प्रेरणा बन गईं जीना इनियोंग

बागियो शहर की Team Lakay की प्रमुख महिला एथलीट के रूप में पहचानी जाने वाली जीना “कंविक्शन” इनियोंग फिलीपींस में मार्शल आर्ट्स की रोल मॉडल हैं। हालांकि, अगर वो अपनी मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स बाउट जीतती रहीं तो वो एक ग्लोबल आइकन बन सकती हैं।

इस शुक्रवार, 31 जनवरी को छह बार की फिलीपींस वुशु चैंपियन का लक्ष्य एक कदम आगे बढ़ाते हुए वर्ल्ड टाइटल की बाउट में हार्ड हिटिंग आशा “नॉकआउट क्वीन” रोका के खिलाफ ONE: FIRE & FURY में जीत हासिल करना होगा।

फिलीपींस के मनीला के मॉल ऑफ एशिया एरीना में ये मुकाबला होगा। 30 वर्षीय एथलीट अपने देश की सबसे सम्मानित एथलीटों में से एक बन गई हैं। आइए जानते हैं उनके सफर के बारे में।

बागियो शहर में शुरुआत

Team Lakay warrior Gina Iniong continues her quest to inspire women around the world on 16 February!

Team Lakay warrior Gina Iniong continues her quest to inspire women around the world on 16 February! Bangkok | 16 February | 7:00PM | LIVE and FREE on the ONE Super App: http://bit.ly/ONESuperApp | TV: Check local listings for global broadcast | Tickets: http://bit.ly/onelegends19

Posted by ONE Championship on Saturday, February 2, 2019

इनियोंग बागियो शहर में 10 भाई-बहनों के साथ बड़ी हुई थीं, जिनमें सात बहनें और तीन भाई थे। बेहद गरीब परिवार से होने की वजह से उनके घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी।

वो कहती हैं, “हम गरीब परिवार से थे। मेरे माता-पिता इतने सक्षम भी नहीं थे कि वो हमें स्कूल भेज सकें। हम स्कूल गए लेकिन बाकी भाई-बहन स्कूल में अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाए क्योंकि घरवाले हमारी पढ़ाई का खर्चा नहीं उठा पा रहे थे।”

“हमारे माता-पिता पौधे बेचकर घर का खर्चा चलाते थे। हालांकि, पौधे की बिक्री अच्छी नहीं हुई तो उन्होंने काम बदलकर चाबी के छल्ले बेचने का फैसला किया।

“मेरे माता-पिता अब छल्ले नहीं बेच रहे हैं लेकिन मेरे सबसे बड़े भाई हैं, जिन्होंने इससे आजीविका चलाने का फैसला किया है।”

वो रिंग में इनियोंग के नाम से उतरी हैं, उनका सरनेम पेसीगन है। हालांकि, उन्होंने अपने दादा का नाम अपने नाम से जोड़ा है। उनके पिता ने भी कुछ ऐसा ही किया था।

वो बताती हैं, “पिताजी ने मेरे दादाजी के पहले नाम इनियोंग का इस्तेमाल किया था। मेरे पिताजी ने स्कूल पूरा भी नहीं किया था।”

“मुझे इस बारे में नहीं पता है लेकिन लोग बोलते हैं कि पेसीगन अमीर लोग होते हैं। इसी वजह से शायद मेरे पिताजी ने लास्ट नेम का इस्तेमाल करने की बजाय दादा जी के पहले नाम का उपयोग करने को वरीयता दी इसलिए मैं भी इनियोंग नाम का इस्तेमाल कर रही हूं। ”

चुनौतियों के लिए आगे बढ़ीं

What motivates Team Lakay's female phenom, Gina Iniong?

What motivates Team Lakay's female phenom, Gina Iniong?Bangkok | 16 February | 7:00PM | LIVE and FREE on the ONE Super App: http://bit.ly/ONESuperApp | TV: Check local listings for global broadcast | Tickets: http://bit.ly/onelegends19

Posted by ONE Championship on Tuesday, February 5, 2019

हाई स्कूल में 2 साल तक बॉक्सिंग करने के बाद “कंविक्शन” के कोच की जगह Team Lakay के एक सदस्य की नियुक्ति हो गई।

इसी साथ ने आखिरकार उन्हें The Home Of Martial Arts का रास्ता दिखाया।

उन्होंने बताया, “मैं जब हाई स्कूल ग्रेजुएट करने वाली थी तो हमारे कोच बदल दिए गए। उनकी जगह पर मार्क सांगियाओ के किसी स्टूडेंट को लाया गया था।”

“इसके बाद उन्होंने मुझसे पूछा था कि आपका कॉलेज जाने का प्लान है? मैंने कहा कि अगर मुझे जाने का मौका मिला तो बहुत अच्छा लगेगा लेकिन मेरी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। फिर उन्होंने मुझसे कहा कि आपको Team Lakay से जुड़ना चाहिए क्योंकि उनके पास वुशु स्कॉलरशिप है।

“मुझे कोच मार्क से मिलवाया गया और उन्होंने कहा कि आपको पहले देश के एथलीटों से मैच करना होगा। अगर आप उसमें गोल्ड मेडल ले आती हैं तो मैं आपको रख लूंगा।”

इनियोंग ने पूरी लगन के साथ मेहनत करने के बाद गोल्ड पर अपना कब्जा जमाया और वुशु स्कॉलरशिप हासिल की, जो कॉलेज जाने के लिए बेहद जरूरी थी।

कॉलेज में उन्होंने क्रिमिनोलॉजी सब्जेक्ट लिया, ताकि वो अपना सपना परिवारवालों की तरह पुलिस ऑफिसर बनकर पूरा कर सकें। लेकिन सांगियाओ के नेतृत्व में उनका तेजी से विकास हुआ और कोच ने उन्हें मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में अपनी जड़ें मजबूत करने का ऑफर दिया। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

वो याद करते हुए बताती हैं, “कोच मार्क ने मेरी क्षमता को देखा और मुझे आगे बढ़ने के लिए प्रयास करने को कहा। मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स की मेरी पहली बाउट बागियो में हुई थी। यहीं से मेरी शुरुआत हुई, जो मुझे ONE Championship तक ले गई।”

मां की बीमारी के रूप में आई चुनौती पार की

Gina Iniong DOMINATED in her ONE debut!

Gina Iniong DOMINATED in her ONE debut! Bangkok | 16 February | 7:00PM | LIVE and FREE on the ONE Super App: http://bit.ly/ONESuperApp | TV: Check local listings for global broadcast | Tickets: http://bit.ly/onelegends19

Posted by ONE Championship on Sunday, February 3, 2019

इनियोंग के पेरेंट्स ये जानकर बिल्कुल भी खुश नहीं थे कि उनकी बेटी सर्कल के अंदर अपना करियर बना रही है।

वो कहती हैं, “बेशक, ऐसी बातें पेरेंट्स को परेशान करती हैं। ये बहुत सामान्य सी बात है क्योंकि वे अपने बच्चों को सही सलामत देखना चाहते हैं।”

“मैं एक बार मैच में लगी चोटों के बाद घर पर दोनों काली आंखें लेकर पहुंची। उसे देखने के बाद मेरी मां चाहती थीं कि मैं इस करियर को छोड़ दूं लेकिन मैं बहुत मेहनती हूं। मैं जो चाहती हूं, बस उसे किसी भी कीमत पर करके ही दिखाती हूं।”

अपनी चिंताओं के बावजूद पेरेंट्स ने जब उन्हें मैच खेलते देखा तो वो भी उनके करियर से सहमत होते हुए नजर आने लगे। अब तो ये हाल है कि इनियोंग के पिता उनके सबसे बड़े फैन्स में शुमार हो गए हैं।

“मेरे पिता प्रतिस्पर्धा की भावना को जानते हैं इसलिए मेरा समर्थन करते हैं। वो जब छोटे थे तो एक बॉक्सर थे। इस वजह से वो मेरा शुरुआत से लेकर अभी तक बहुत समर्थन करते आए हैं।”

हालांकि, 2019 की शुरुआत में “कन्विक्शन” के लिए एक बुरा दौर आया, जब उन्हें मजबूत इरादों से सारी परेशानियों को दूर करना था। दरअसल, उनकी मां गंभीर रूप से बीमार थीं। वो स्टेज 5 क्रोनिक किडनी की बीमारी से पीड़ित थीं। इनियोंग ने उन्हें इस गंभीर बीमारी से निकालने में मदद की।

मां की बीमारी की खबर पाने के बाद इनियोंग को फरवरी 2019 में जिहिन “शैडो कैट” राडज़ुआन के खिलाफ ONE: CLASH OF LEGENDS में उतरना था। फिलीपींस की एथलीट ने जब सर्कल में कदम रखा तो वो अपनी मां के लिए सफल होने के इरादे से उतरी थीं।

वो कहती हैं, “हमें जब उनकी स्थिति के बारे में पता चला तो हम सभी चौंक गए क्योंकि ये सब बहुत अचानक हुआ था।”

“अगर घर में कोई समस्या है तो सब आपके लिए खड़े होते हैं। चाहे फिर कितना भी कठिन वक्त क्यों न हो। पूरा परिवार आपका समर्थन करने के लिए तैयार रहेगा। ”

इनियोंग ने वो बाउट मां को समर्पित की और जिहिन को सर्वसम्मत निर्णय के बाद पराजित कर दिया।

बनाया खुद अपना रास्ता

On 16 February, Team Lakay's top female athlete Gina Iniong looks to pull off another highlight-reel win!

On 16 February, Team Lakay's top female athlete Gina Iniong looks to pull off another highlight-reel win!Bangkok | 16 February | 7:00PM | LIVE and FREE on the ONE Super App: http://bit.ly/ONESuperApp | TV: Check local listings for global broadcast | Tickets: http://bit.ly/onelegends19

Posted by ONE Championship on Thursday, February 7, 2019

इनियोंग Team Lakay की कुछ ही महिला एथलीट्स में शामिल हैं, जहां अधिकतर पुरुष एथलीट ही हैं। फिर भी ONE एटमवेट रैंक में उनके उदय ने इस रास्ते में कोई बाधा नहीं डाली।

“Team Lakay में सब भाई-बहन की तरह एक परिवार के रूप में हैं। कोच हमारे पिता की तरह हैं। अगर किसी को कोई दिक्कत होती है तो हर कोई उसकी मदद को तत्पर रहता है। हम एक-दूसरे की मदद करने में नहीं हिचकते हैं।”

“ट्रेनिंग के दौरान बताया गया था कि मुझे ये भूल जाना चाहिए कि मैं एक महिला हूं। मुझे सोचना चाहिए कि मैं एक पुरुष हूं। मैं जब जिम के बाहर हूं तो एक महिला हो सकती हूं लेकिन अगर मैं ट्रेनिंग ले रही हूं तो मुझे वास्तव में कठिन मेहनत करनी होगी।

“ट्रेनिंग के दौरान हमारे साथ बच्चों की तरह व्यवहार नहीं किया जाता है। मेरा साथी एक पुरुष है। मुक्केबाजी के अभ्यास के दौरान भी मेरा साथी एक पुरुष ही है। मुक्केबाजी के दौरान अगर मेरी नाक से खून निकल रहा है तो भी हम नहीं रुकेंगे। हम खेल खत्म करने तक जारी रहेंगे।”

वास्तव में, जिम में सक्रिय रहने से इनियोंग को बहुत फायदा मिलता है। वो जब अपने साथियों के साथ प्रतिस्पर्धा करती हैं तो जिम की एडवांटेज साफ नजर आती है।

“कनविक्शन” कहती हैं, “पुरुषों के साथ ट्रेनिंग के बहुत से फायदे हैं। उदाहरण के लिए आप जब एक महिला के साथ लड़ने जाएंगी तो आप उस पर काबू पाने के लिए निश्चिंत रहेंगी क्योंकि जिम में आपने सभी पुरुष साथियों के साथ प्रतिस्पर्धा की होती है।”

इनियोंग अपने ट्रेनिंग करने वाले साथियों की सफलता से भी प्रेरित हैं, जिन्होंने 2018 में रिकॉर्ड 4 ONE वर्ल्ड टाइटल्स जीते थे।

वो कहती हैं, “मैं उन लोगों पर गर्व करती हूं, जिन्होंने मेरी मार्शल आर्ट्स यात्रा के दौरान अपनी उपलब्धियों से मुझे उनकी बराबरी करने के लिए प्रोत्साहित करने में मदद की। वो फिलीपींस की पहली महिला एथलीट थीं, जो दुनिया के सबसे बड़े ऑर्गनाइजेशन के साथ हैं।”

“मुझे अपने साथियों और सीनियर्स को उनकी बेल्ट के साथ देखने में बहुत ताकत मिलती है, ताकि मैं भी वैसा ही करके दिखाऊं।

“मेरी जिंदगी का लक्ष्य एक चैंपियन और बागियो शहर का गौरव बनना है। हमारे पास अभी तक एक भी विमेंस चैंपियन नहीं है खासकर कि मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स में।”

फिलीपींस का गौरव

▶️ FROM THE ARCHIVES ▶️ Relive Team Lakay warrior Gina Iniong's top 3 rounds in ONE!

▶️ FROM THE ARCHIVES ▶️Relive Team Lakay warrior Gina Iniong's top 3 rounds in ONE!Bangkok | 16 February | 7:00PM | LIVE and FREE on the ONE Super App: http://bit.ly/ONESuperApp | TV: Check local listings for global broadcast | Tickets: http://bit.ly/onelegends19

Posted by ONE Championship on Saturday, February 9, 2019

“कनविक्शन” को गर्व है कि वो फिलीपींस की हैं। वो उम्मीद करती हैं कि उनके ONE के सर्कल में प्रदर्शन से दूसरों को अपने सपनों को आगे बढ़ाने और मार्शल आर्ट्स के जरिए जीवन बदलने वाले लाभों का अनुभव करने का मौका मिल सकता है।

वो कहती हैं, “मुझे हर मुकाबले में फिलीपींस का प्रतिनिधित्व करने पर गर्व होता है क्योंकि मैं अपने देश के लोगों को प्रेरणा देती हूं, जो बाउट करना चाहते हैं। खासकर उन महिलाओं को जो मुझसे कहती थीं कि मैं ये कैसे कर सकती हूं। मैं कैसे मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स शुरू कर सकती हूं। मैं भी आपकी तरह बनना चाहती हूं।”

“मैं अभी तक जो कुछ हासिल करने में सक्षम रही हूं, उससे खुश हूं। मैं दूसरे लोगों को प्रेरित करने में सक्षम हूं खासकर कि दूसरी महिलाओं को। भले ही ये खेल पुरुष-प्रधान है। फिर भी महिलाएं इसमें सक्षम हैं तो वो बहुत कुछ हासिल कर सकती हैं।”

ONE: FIRE & FURY में आशा रोका के खिलाफ उनकी एक जीत उनका एटमवेट डिविजन में कद ऊंचा कर देगी। साथ ही उन्हें वर्ल्ड टाइटल शॉट के करीब भी ले जाएगी।

अगर इस तरह के मंच पर उन्हें एक और सफलता हासिल होती है तो इनियोंग का प्रभाव और भी ज्यादा बढ़ जाएगा।

ये भी पढ़ें: जीना इनियोंग के घरेलू फैंस के सामने उन्हें हराने के लिए तैयार हैं भारतीय स्टार आशा रोका

मनीला | 31 जनवरी | ONE: FIRE & FURY | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं