भारतीय MMA स्टार मंथन राणे की फाइट समेत 5 कारणों से आपको ONE Friday Fights 18 जरूर देखना चाहिए

Tyson Harrison Rambo Mor Rattanabandit ONE Friday Fights 11 37

ONE Championship इस शुक्रवार लुम्पिनी बॉक्सिंग स्टेडियम में फिर से वापसी कर रहा है। ऐसे में इसके एक और बेहतरीन बाउट कार्ड में फैंस की पसंदीदा ऑल-एक्शन फाइट्स से लेकर होनहार युवा एथलीट्स की प्रतिभाओं के साथ सबकुछ देखने को मिलेगा।

मॉय थाई के जबरदस्त मेन इवेंट से लेकर शो की शुरुआत करने वाली दिलचस्प MMA प्रतिस्पर्धा तक ONE Friday Fights 18 को देखने के बहुत से कारण हैं।

कॉम्बैट स्पोर्ट्स प्रेमी वर्ल्ड-क्लास मार्शल आर्ट्स के एक और बेहतरीन साप्ताहिक शो का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में हम आपको 5 ऐसी वजह बताने जा रहे हैं, जिन्हें जानकर आप बिल्कुल भी इस शो को मिस नहीं करना चाहेंगे।

#1 पसंदीदा स्ट्राइकर्स मेन इवेंट में दे रहे एक्शन की गारंटी

ऑस्ट्रेलियाई फाइटर टायसन “जॉन वेन नोई” हैरिसन और थाई एथलीट पोंगसिरी पीके साइन्चाई के बीच मेन इवेंट की मॉय थाई बाउट के रोमांचक होने की पूरी संभावना है।

दिग्गज हमवतन एथलीट जॉन वेन “द गनस्लिंगर” पार के सम्मान में अपना उपनाम “जॉन वेन नोई” रखने वाले हैरिसन ने ONE Friday Fights में दो बेहतरीन मुकाबले करके खुद को एक रोमांचक फाइटर के रूप में स्थापित किया है। पिछले अप्रैल में रैम्बो मोर रटानाबैंडिट को तीसरे राउंड के आखिरी सेकंड में फिनिश करने के बाद ही उन्हें इस मैच का मौका मिला है।

उधर, पोंगसिरी रोस्टर के सबसे आक्रामक प्रतिद्वंदियों में से एक हैं। लगातार आगे बढ़ने वाले स्टाइल, डटे रहने की क्षमता और 200 से ज्यादा प्रोफेशनल बाउट का अनुभव उन्हें 22 साल के उभरते हुए एथलीट के सामने कड़ी परीक्षा के रूप में लाता है।

#2 ONE की युवा वर्ल्ड चैंपियन ने दूसरी बेल्ट की तलाश शुरु की

एक साल से अधिक समय तक प्रतिस्पर्धा से दूर रहने के बाद वर्तमान ONE विमेंस स्ट्रॉवेट मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन स्मिला संडेल अपने करियर की पहली किकबॉक्सिंग बाउट में सर्बियाई एथलीट मिलाना ब्येलोरलिच का सामना करने के लिए वापसी करेंगी।

केवल 18 साल की उम्र में ही “द हरिकेन” पहले से दुनिया की सबसे खतरनाक और प्रतिभाशाली स्ट्राइकर्स में से एक हैं। पिछले साल अप्रैल में मॉय थाई खिताब पर कब्जा करने के बाद वो नए खेल में अपना दबदबा बनाकर जल्द ही दूसरे वर्ल्ड टाइटल के लिए चुनौती देने की उम्मीद कर रही हैं।

हालांकि, सबसे पहले उन्हें ब्येलोरलिच की चुनौती को पार करना होगा, जिनका मकसद 128-पाउंड कैचवेट बाउट के दौरान अपने ONE डेब्यू में स्वीडिश स्टार को पराजित कर खुद को एक शक्तिशाली एथलीट के रूप में साबित करना है।

#3 वापसी की चाहत के साथ उतरेंगे किकबॉक्सिंग सनसनी

संडेल ही बाउट कार्ड में इकलौती युवा सुपरस्टार नहीं होंगी। उनकी तरह ही 23 साल के मोरक्कन सनसनी मोहम्मद बुटासा फेदरवेट किकबॉक्सिंग मुकाबले में ईरानी फाइटर मोहम्मद सियासरानी के खिलाफ अपनी हाई-फ्लाइंग स्ट्राइकिंग प्रतिभा दिखाने को पूरी तरह से तैयार हैं।

बुटासा को 16 बाउट करियर की पहली हार का सामना बीते दिनों करना पड़ा था। पिछले साल अक्टूबर में थाई एथलीट सिटीचाई सिटसोंगपीनोंग के खिलाफ 3 राउंड तक चले रोमांचक मुकाबले में उन्हें सर्वसम्मत निर्णय के जरिए हार झेलनी पड़ी थी। इसके बावजूद “टू शार्प” का करियर शानदार एथलेटिक खिताबों और निडर स्ट्राइकिंग के कारण अब भी बेहतरीन बना हुआ है।

ऐसे में सियासरानी को अपने प्रतिद्वंदी की उपलब्धियों में सेंध लगाने में बेहद प्रसन्नता होगी और वो इस अहम मुकाबले में मजबूत प्रदर्शन करके ये साबित कर सकते हैं।

#4 काबिलियत दिखाने को तैयार ONE Friday Fights में शामिल स्टार्स

लोकल हीरो सामिंगडम चोर अजालाबून और तियाई पीके साइन्चाई ने थाईलैंड में पिछले ONE Friday Fights में अपनी उपस्थिति मजबूती के साथ दर्ज कराई थी। अब दोनों ही एथलीट्स अलग-अलग मुकाबलों में अपनी प्रतिभा का नमूना फिर से पेश करने को तैयार हैं।

सामिंगडम ने ONE Friday Fights 7 में अपनी प्रतिभा से सबको हैरान कर दिया था। उन्होंने दूसरे राउंड में हमवतन रिट्टीडेट सोर सोमाई को नॉकआउट कर दिया। अब जब इस शुक्रवार को वो 132-पाउंड कैचवेट बाउट में महामोंगकोल मूव ऑन चिआंगमाई से भिड़ेंगे तो उनका लक्ष्य एक और स्टॉपेज जीत हासिल करके फैंस को खुश करना होगा।

वहीं, इससे पहले तियाई ONE Friday Fights में अपनी लगातार तीसरी जीत दर्ज करने की फिराक में होंगे। उनका सामना स्ट्रॉवेट बाउट में सकलैक कियटसोंग्रिट से होगा।

PK Saenchai Muay Thai Gym के प्रतिनिधि ने अपने पहले 2 मैचों में दमदार राइट हैंड और चतुराई से भरे क्लिंच गेम की बदौलत बड़ी सफलता हासिल की थी। इस वजह से फैंस को उनके अगले मुकाबले से भी ऐसी ही उम्मीद होगी।

#5 MMA के उभरते एथलीट्स

इन बहुप्रतीक्षित स्ट्राइकिंग मुकाबलों से पहले फैंस को मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स के 2 मैच देखने को मिलेंगे। इसमें उभरती हुईं प्रतिभाएं अपना आगे का सफर बिना रुके हुए जारी रखने की उम्मीद कर रही हैं।

अपराजित भारतीय एथलीट मंथन राणे ONE Warrior Series में मुकाबले कर चुके हैं, जो अब फ्लाइवेट MMA डिविजन में हलचल लाने की योजना बना रहे हैं। हालांकि, उनके रास्ते में Tiger Muay Thai टीम के प्रतिनिधि आंद्रे चेलबाएव रोड़ा बनकर खड़े हैं।

इवेंट की शुरुआत खतरनाक फिनिशर अली कबदुल्ला और रिचर्ड गॉडोय के मुकाबले से होगी। दोनों एथलीट्स का ONE Friday Fights में रिकॉर्ड 1-0 का है। ऐसे में दोनों बेहतरीन ग्राउंड गेम को अपने इस अहम मुकाबले में परखेंगे, जो प्रतिभा से भरे लाइटवेट MMA डिविजन के भविष्य की एक झलक पेश कर सकता है।

किकबॉक्सिंग में और

Ok Rae Yoon Alibeg Rasulov ONE Fight Night 23 36
Tye Ruotolo Jozef Chen ONE Fight Night 23 32
Kulabdam Sor Jor Piek Uthai Nabil Anane ONE Friday Fights 69 34
OkRaeYoon AlibegRasulov 1920X1280
Kulabdam NabilAnane CeremonialFaceoff 1920X1280
Oumar Kane Marcus Almeida ONE Fight Night 13 95
BoucherKetchup 1200X800
Kulabdam Sor Jor Piek Uthai Wins 1200X800
Oumar Kane Marcus Almeida ONE Fight Night 13 61
Prajanchai PK Saenchai Jonathan Di Bella ONE Friday Fights 68 77
Prajanchai PK Saenchai Jonathan Di Bella ONE Friday Fights 68 48
Suablack Tor Pran49 Kiamran Nabati ONE Friday Fights 68 13 1