न्यूज़

जिओंग जिंग नान को हराकर चैंपियन बनना चाहती हैं टिफनी टियो

टिफनी “नो चिल” टियो को अपने प्रोफेशनल करियर में मिली एकमात्र हार का बदला पूरा करने का अवसर मिल रहा है और बदले को पूरा करने के साथ ही वो मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स वर्ल्ड चैंपियन भी बन सकती हैं।

लेकिन 30 अक्टूबर को ONE: INSIDE THE MATRIX में #1-रैंक की कंटेंडर अपनी पुरानी प्रतिद्वंदी “द पांडा” जिओंग जिंग नान के खिलाफ ONE विमेंस स्ट्रॉवेट वर्ल्ड टाइटल मैच में इस मानसिकता के साथ नहीं उतरने वाली हैं।

टियो ने कहा, “मैं इसे बदला नहीं कहना चाहूंगी बल्कि वापसी का एक अवसर कहना चाहूंगी।”

जिओंग के खिलाफ रीमैच प्राप्त करने में उन्हें 2 साल का वक्त लगा है और इस बार “नो चिल” किसी भी हालत में इस मौके को खाली नहीं जाने देना चाहतीं।

टियो ने कहा, “चैंपियनशिप रीमैच मिलना बहुत कठिन होता है और मेरे रिकॉर्ड में एकमात्र हार जिओंग के खिलाफ ही आई है।”

“मुझे लगता है कि पिछले कुछ सालों में एक मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट के रूप में मैंने खुद में काफी सुधार किया है। 2018 के मुकाबले मैं काफी बदल चुकी हूं। सच कहूं तो 2020 की टिफनी 2018 की टिफनी को आसानी से हरा सकती है।”

टियो के प्रोफेशनल मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स करियर की शुरुआत एक शानदार विनिंग स्ट्रीक के साथ हुई थी।

सिंगापुर की स्टार ने लगातार 7 मैचों में जीत दर्ज की, जिनमें से 5 को फिनिश किया और 7-0 के परफेक्ट रिकॉर्ड के कारण ही उन्हें सबसे पहली ONE विमेंस स्ट्रॉवेट वर्ल्ड चैंपियन बनने का मौका मिला था।

जनवरी 2018 में “नो चिल” ने सबसे पहले चैंपियनशिप मैच में जिओंग को चैलेंज किया। शुरुआत में उन्होंने कुछ टेकडाउन जरूर किए लेकिन अंत में “द पांडा” की ताकत उनपर भारी पड़ी और चौथे राउंड में मुकाबला गंवा बैठीं।

इसलिए अधिकतर लोग सोच रहे होंगे कि अगले मैच में टियो का पहला लक्ष्य अपना बदला पूरा करना होगा। लेकिन उन्होंने साफ कर दिया है कि उनकी पहली प्राथमिकता वर्ल्ड चैंपियन बनना है।



वापसी का ये सफर नवंबर 2018 में शुरू हुआ था, जब “नो चिल” ने ONE: HEART OF THE LION में 8 बार की ब्राजीलियन जिउ-जित्सु वर्ल्ड चैंपियन और #2-रैंक की कंटेंडर मिशेल निकोलिनी को हराया था।

उसके बाद उन्होंने इस साल फरवरी में ONE: KING OF THE JUNGLE में जूडो की ब्लैक बेल्ट होल्डर और #4-रैंक की कंटेंडर अयाका मियूरा को TKO (तकनीकी नॉकआउट) से हराया। उस मुकाबले से पहले मियूरा ONE में लगातार 3 मैचों में जीत दर्ज कर चुकी थीं और टियो को भी स्कार्फ-होल्ड अमेरिकाना लगाकर करीब-करीब हरा ही दिया था।

लगातार मैचों में जीत प्राप्त करने के बाद टियो अब उस एथलीट के खिलाफ रीमैच के लिए तैयार हैं, जो ONE स्ट्रॉवेट डिविजन की शुरुआत से ही चैंपियन बनी रही हैं।

इसके अलावा “नो चिल” को भी अंदाजा है कि उनका सामना 2018 की जिओंग से नहीं होने वाला है।

टियो ने कहा, “एक फाइटर के तौर पर उन्होंने काफी सुधार किया है। मैंने उनके गेम में सुधार को देखा है, मेरा अभी भी मानना यही है कि वो स्ट्राइकिंग गेम में ज्यादा अच्छी हैं।”

“उन्हें दमदार पंच लगाकर अपने प्रतिद्वंदियों को क्षति पहुंचाना बहुत पसंद है। मुझे नहीं लगता कि उनके पंचों में नॉकआउट करने की ताकत है लेकिन वो काफी आक्रामक हैं। उनकी जैसी आक्रामकता का सामना करना हर किसी के बस में नहीं होता।”

Tiffany Teo defeats Ayaka Miura ONE KING OF THE JUNGLE in Singapore

टियो का ये भी मानना है कि जिओंग जैसी स्ट्राइकर के खिलाफ उनका मैच लंबा चल सकता है।

उन्होंने कहा, “मुझे धैर्य बनाए रखना होगा। वो मुझे अपने गेम प्लान के मुताबिक अटैक नहीं करने देंगी और मूव्स के झांसे में फंसाकर टेकडाउन भी कर सकती हैं। मुझे इस तरह के गेम प्लान से बचकर रहना होगा और खुद की रणनीति पर फोकस रखना होगा।”

टियो के अनुसार स्ट्राइकिंग, ग्रैपलिंग और रेसलिंग का मेल ही उन्हें “द पांडा” के खिलाफ मैच में बढ़त दिला सकता है।

उन्होंने कहा, “मुझे भरोसा है कि मैं उन स्ट्राइक्स को झेल पाऊंगी और मैं ग्राउंड गेम में भी बढ़त हासिल करने के लिए तैयार हूं।”

अगर सभी चीजें टियो के मुताबिक रहीं तो जरूर वो चीनी स्टार को हराकर नई चैंपियन बन सकती हैं।

टियो ने कहा, “मैं जानती हूं कि मैच का परिणाम किसी भी ओर जा सकता है।”

“लेकिन मुझे भी वर्ल्ड चैंपियन बनना है और मेरे लक्ष्य के बीच में जिओंग खड़ी हुई हैं। इसलिए अपने सपने को पूरा करने के लिए मुझे उन्हें हराना ही होगा। मैं पूरे मैच में बढ़त बनाए रखना चाहती हूं और अगर मैच सबमिशन या TKO से समाप्त नहीं हुआ तो मैं राउंड दर राउंड बढ़त बनाने पर ध्यान दूंगी।”

Tiffany Teo throws a punch

ये भी पढ़ें: ONE: INSIDE THE MATRIX के स्टार्स के 5 सबसे शानदार सबमिशन