किकबॉक्सिंग

किकबॉक्सिंग सुपर-बाउट के लिए उत्साहित हैं सिटीचाई सिटसोंगपीनोंग

पिछले हफ्ते किकबॉक्सिंग फैंस खुश हो गए थे जब उन्हें पता चला कि “द किलर किड” सिटीचाई सिटसोंगपीनोंग ने ONE Super Series के लिए डील साइन की है और एक ऐसा मुकाबला है जो हर कोई देखना चाहेगा।

Nine-time Muay Thai World Champion "The Killer Kid" Sittichai Sitsongpeenong poses with his ONE Championship contract

डिविजन में भरपूर टैलेंट्स हैं लेकिन उनका ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियन जियोर्जियो “द डॉक्टर” पेट्रोसियन के साथ एक मुकाबला चर्चा का विषय रहा है।

खेल के प्रशंसक इस मुकाबले का सालों से इंतजार कर रहे हैं और अब दोनों ही ONE Championship रोस्टर का हिस्सा हैं।

थाई दिग्गज आखिरकार प्रशंसकों की इच्छा को पूरा करने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा, “जब से मैंने ONE के साथ साइन किया है, प्रशंसकों की निगाहें मुझ पर टिकी हुई हैं और वो मुझे पेट्रोसियन के साथ फाइट करते हुए देखना चाहते हैं।”

“मैंने पहले ही कई किकबॉक्सर्स से मुकाबला कर लिया है और कुछ के साथ इतनी फाइट कर ली है कि अब मुझे बोरियत महसूस होती है। इसके बावजूद पेट्रोसियन के साथ मैं एक बार भी मुकाबला नहीं किया है। मैैंने हर जगह उनका पीछा किया है और वो हमेशा मुझसे भागते आए हैं!”

View this post on Instagram

The champ

A post shared by Sitt (@sitthichai_sitsongpeenong) on

“द किलर किड” 2013 में पहली बार “द डॉक्टर” से मिले थे, जब उन्होंने मिलान में अपना किकबॉक्सिंग डेब्यू किया था।

उन्हें पेट्रोसियन का स्लिक स्टाइल पसंद आया और उन्होंने उनकी शानदार तकनीक को सीखना शुरू किया। 

सिटीचाई ने कहा, “जब मेरा किकबॉक्सर के रूप में नाम नहीं था, तब मैंने उनके होमटाउन में बाउट की थी। मैं उस इवेंट में दूसरे प्रिलिम मैच में था और वो मेन इवेंट का हिस्सा थे।”

“मैंने उन्हें फाइट करते हुए देखा और सोचा, ‘क्या बात है, ये काफी शानदार था।’ वो एक महान किकबॉक्सर हैं, साथ ही चतुर और तेज़ भी हैं।”



शुरुआत में थाई स्टार को पेट्रोसियन की अनोखी स्किल्स और स्टाइल पसंद आया लेकिन जब उन्होंने 2015 में “8 अंगों की कला” से किकबॉक्सिंग में आने का प्रयास किया, वो जल्द ही स्ट्राइकिंग की कला में महारथ हासिल करने में सफल रहे।

इसने उन्हें “द डॉक्टर” को चैलेंज करने और उन्हें हराने का आत्मविश्वास दिया।

सिटीचाई ने बताया, “मुझे पहले उनसे डर लगता था लेकिन अब नहीं।”

“उनके पास तेज़ हथियार, तेज़ निगाहें, भारी पंच और खरापन है। अब मुझे उनके साथ फाइट करने के लिए पर्याप्त अनुभव मिल चुका है क्योंकि मैं हमेशा किकबॉक्सिंग के रूल्स में फाइट करता आ रहा हूँ।”

View this post on Instagram

When you training So hard you very Strong ????

A post shared by Sitt (@sitthichai_sitsongpeenong) on

दोनों ही दुनिया की सबसे बड़े मार्शल आर्ट्स संगठन में हैं, इस वजह से ये सुपर-बाउट जल्द ही हो सकती है और “द किलर किड” भविष्य में अपने आदर्श को हराने के प्रयास करेंगे।

हालांकि, 12 बार के किकबॉक्सिंग और मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन के लिए ये मैच आसान नहीं है।

दुनिया के सबसे महान किकबॉक्सर्स में से एक को अच्छी प्रतियोगिता देने और उन्हें मुकाबले में हराने के लिए “द किलर किड” मानते हैं कि उन्हें पहले नई जगह को अच्छे से समझना होगा।

इसके बाद वो आर्मेनियन-इटली के दिग्गज का मुकाबला कर सकते हैं।

उन्होंने कहा, “प्रशंसकों को मुझसे काफी उम्मीदें है जो मुझे काफी ज्यादा दवाब देती हैं। जब भी मैं रिंग में कदम रखता हूँ तो दबाव हमेशा रहता है लेकिन मैंने अब तक मुकाबला नहीं किया है और मैं पहले ही दबाव में हूँ।”

“मैं किकबॉक्सिंग के नियमों के अंतर्गत किसी से भी फाइट कर सकता हूँ। इसके बावजूद अगर मुझे चुनने का मौका मिलता है तो मैं कुछ वॉर्म-अप फाइट्स के लिए पूछुंगा। मैं ONE की रिंग, नियमों और वजन के अनुसार बदलाव करने का प्रयास करूंगा।”

“[पेट्रोसियन] मेरे आदर्श हैं। मैंने हमेशा ही खुद की तुलना उनसे की है। मैं उनके जितना अच्छा बनना चाहता हूँ, मैं उनके खिलाफ खुद की परीक्षा लेने चाहता हूं और मैं उन्हें हराना चाहता हूँ!”

ये भी पढ़ें: ONE फेदरवेट किकबॉक्सिंग रैंक्स में शामिल हुए वर्ल्ड-क्लास एथलीट्स पर एक नजर