ONE 165 में डैनी किंगड को मात देकर हिसाब बराबर करना चाहते हैं युया वाकामत्सु – ‘काफी अलग फाइटर बन गया हूं’

Xie Wei Yuya Wakamatsu ONE Fight Night 12 36

कुछ अनचाहे परिणाम आने के बाद युया “लिटल पिरान्हा” वाकामत्सु एक बार फिर अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स करियर को अगले पड़ाव पर लेकर जाना चाहते हैं।

रविवार, 28 जनवरी को होने वाले ONE 165: Superlek vs. Takeru में जापानी नॉकआउट का आर्टिस्ट का सामना रीमैच में फिलीपीनो फाइटर डैनी “द किंग” किंगड से होने जा रहा है।

पहले मुकाबले के छह साल बाद जापान की राजधानी टोक्यो के एरियाके एरीना में #4 रैंक के फ्लाइवेट MMA कंटेंडर वाकामत्सु की टक्कर #2 रैंक के किंगड से होगी।

लगातार दो मैचों को हारने के बाद पिछली फाइट से जीत की पटरी पर लौटे “लिटल पिरान्हा” खुद को मिले बड़े मौके के शुक्रगुजार हैं।

28 वर्षीय स्टार ने onefc.com को बताया:  

“ईमानदारी से हूं तो मैं खुशकिस्मत हूं कि यहां तक पहुंच पाया। करियर के पहले दो मैचों में हार के बाद मुझे ONE के रोस्टर से बाहर किया जा सकता था।

“फिर हाल ही में अपने दो मैचों को हारने के बाद कोच से कहा कि मैं अपने करियर पर विराम लगाना चाहता हूं। लेकिन मैंने खुद को थोड़ा समय दिया और फिर से काम पर लग गया।

“पिछले मैच में शी वेई को हराकर मुझे बहुत संतुष्टि हुई। मुझे महसूस हुआ कि करियर के कठिन पड़ाव को पार करने में कामयाब रहा।”

वाकामत्सु को अपने ONE करियर की पहली हार किंगड के खिलाफ ही मिली थी। उसके बाद उन्होंने MMA लैजेंड डिमिट्रियस जॉनसन के खिलाफ भी हार देखी। फिर हार से सीखते हुए उन्होंने लगातार पांच मैचों को अपने नाम किया और इस वजह से उन्हें ONE फ्लाइवेट MMA वर्ल्ड टाइटल मैच प्राप्त हुआ।

हालांकि, चैंपियनशिप मैच में कागोशिमा निवासी एथलीट को तत्कालीन चैंपियन एड्रियानो मोरेस के खिलाफ सबमिशन और बाद में वू सुंग हूं के खिलाफ स्टॉपेज से हार का मुंह देखना पड़ा।

लगातार हार ने उन पर पिछले साल शी के खिलाफ वापसी मैच में काफी दबाव डाला, लेकिन “लिटल पिरान्हा” ने शानदार वापसी की:

“मेरा मानना है कि एक फाइटर के तौर पर मुझमें काफी विकास हुआ है। जब मैंने पहली बार ONE को साइन किया था, उसके बाद से काफी अलग फाइटर बन गया हूं।

“तब मैं सिर्फ अपने प्रतिद्वंदियों पर स्ट्राइकिंग के जरिए दबाव बनाकर नॉकआउट करना चाहता था। अगर मैं टेकडाउन हो जाता था तो जल्द से जल्द खड़े होने की कोशिश करता था कि फाइट को स्टैंड-अप में रखा जा सके। दूसरे शब्दों में कहें तो मैं एक आयामी फाइटर था।

“तब से लेकर अब तक मैंने ग्राउंड गेम पर काफी काम किया है और एक पूर्ण फाइटर बन गया हूं।”

वाकामत्सु का मानना है कि रीमैच से पहले उन्होंने किंगड के गेम को पूरी तरह से समझ लिया है

दोनों के बीच हुए पिछले मुकाबले में युया वाकामत्सु ने डैनी किंगड पर तगड़ा पंच लगाकर गिरा दिया था, लेकिन फिलीपीनो स्टार के ग्रैपलिंग गेम के आगे हार मानने पर मजबूर होना पड़ा।

अब Tribe Tokyo MMA के प्रतिनिधि को अपनी स्किल्स पर ज्यादा विश्वास है और वो दूसरे मैच में हिसाब बराबर करना चाहेंगे।

लेकिन वो किंगड को कम नहीं आंक रहे हैं। वो अपने प्रतिद्वंदी को काफी अच्छा मानते हैं क्योंकि वो ज्यादा तेज, पूर्ण और रीमैच के लिए तैयार होंगे।

वाकामत्सु ने बताया: 

“किंगड एक बेहतरीन फाइटर हैं। मैं उनकी फाइट्स करीब से देख रहा हूं और उनके अटैक व डिफेंस को परखने का प्रयास कर रहा हूं ताकि काउंटर करने में मुझे आसानी रहे।

“मैंने उनकी आदतों और प्रवृतियों को समझ लिया है, ऐसे में मुझे भरोसा है वो जिस भी तरह का अटैक करेंगे, मैं उनके लिए तैयार रहूंगा।”

इससे कहीं अधिक वाकामत्सु को अपने पुराने प्रतिद्वंदी के खिलाफ एक दमदार मैच की उम्मीद है, जो एरीना और टीवी पर देख रहे दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर देगा।

उन्होंने कहा:

“किंगड अच्छी स्किल्स वाले मजबूत प्रतिद्वंदी हैं तो ये एक्शन से भरपूर मुकाबला होगा। फैंस देख पाएंगे कि कैसे दो टॉप फ्लाइवेट्स फाइट करते हैं। उन्हें जरा भी निराशा नहीं होगी। मैं तैयार हूं और फिनिश के लिए जाऊंगा।”

न्यूज़ में और

Parham Gheirati Otop Or Kwanmuang ONE Friday Fights 57 3
ParhamGheirati JordanGodtfredsen
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 10 scaled
Denice Zamboanga Julie Mezabarba ONE Fight Night 9 3
Adrian Lee 2
Kade Ruotolo Francisco Lo ONE Fight Night 21 57
Stamp Fairtex Ham Seo Hee ONE Fight Night 14 112 scaled
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE Fight Night 15 19 scaled
GabrielSousa Grappling 1200X800
Avatar PK Saenchai Kiamran Nabati ONE Friday Fights 55 28
Mikey Musumeci Jarred Brooks ONE Fight Night 13 72
Yodphupa Wimanair Soner Sen ONE Friday Fights 63 48