विशेष कहानियाँ

ONE के स्टार एथलीट्स ने घर पर रहकर अच्छे वर्कआउट टिप्स दिए

दुनिया के अधिकतर देशों की सरकार लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित होने से बचाने के लिए कड़े कदम उठा रही है, जैसे जिम बंद हो चुके हैं और मार्शल आर्ट्स ट्रेनिंग सेंटर भी फिलहाल बंद हैं।

ये सौभाग्यपूर्ण बात है कि ONE Championship के अनुभवी मार्शल आर्टिस्ट्स लोगों को टिप्स दे रहे हैं कि वो घरों में रहकर भी फिट कैसे रह सकते हैं।

ये बात बहुत जरूरी है कि लोग कोरोना वायरस के संक्रमण के और अधिक फैलने से बचने के लिए घर में ही रहें। लेकिन इसके साथ-साथ इस लड़ाई में आपका फिट रहना और मानसिक रूप से भी मजबूत होना भी बेहद जरूरी है।

ONE के वर्ल्ड क्लास मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट्स, किकबॉक्सर्स और मॉय थाई एथलीट्स को आगे बढ़ते रहने के लिए किसी ना किसी तरह से फिट रहना ही होगा। इसलिए उन्होंने जिम और ट्रेनिंग सेंटर्स के बंद होने के बाद भी फिट रहने का रास्ता ढूंढ निकाला है।

यहाँ आप देख सकते हैं कि जिम में जाए बिना भी आप फिट कैसे रह सकते हैं।

बिबियानो फर्नांडीस – ONE बेंटमवेट वर्ल्ड चैंपियन

ONE Bantamweight World Champion Bibiano Fernandes keeps focused on his opponent

“मेरे घर में जिम है। मैंने वहाँ कुछ मैट बिछाए और मेरे कोच वहाँ मुझे पैड्स कराने आते हैं। ये सुरक्षित और काफी जरूरी भी है। मेरी स्ट्रेंथ और कंडिशनिंग से लेकर सभी चीजें फिलहाल मैं घर पर ही कर रहा हूँ और ये फिलहाल ऐसा करने का सबसे सही और सुरक्षित तरीका है। एक रास्ता ये भी है कि आप किसी खाली जगह पर जाकर अपने कोच के साथ ट्रेनिंग कर सकते हैं।

“ध्यान रहे कि आप कार्डियो करते रहें और आपकी ताकत भी बनी रहे। मैंने घर में कुछ वेट भी रखा है जिससे मुझे वर्कआउट करने में मदद मिले। मेरा दिमाग हमेशा फाइट के बारे में ही सोचता रहता है लेकिन साथ ही मुझे ये भी ध्यान रखना है कि मेरी स्ट्रेंथ और कार्डियो भी अच्छी स्थिति में बने रहें।

“डाइट भी बहुत महत्वपूर्ण है और ज्यादा से ज्यादा पानी पीना भी जरूरी है। ये बात ध्यान रखनी होगी कि जब तक हमारी वापसी नहीं होती उससे पहले हमें लगातार ट्रेनिंग कर अपनी बॉडी को अच्छी शेप में रखना है। कंडिशनिंग, कार्डियो और शैडो बॉक्सिंग को कभी ना छोड़ें।

“मुझे लगता है कि सबसे जरूरी चीज ये है कि लोग अपने ध्यान को एक जगह केंद्रित रखें और इस मुसीबत के दौर से बाहर निकलने में दूसरों की मदद भी करते रहें।”

क्रिश्चियन ली – ONE लाइटवेट वर्ल्ड चैंपियन

Christian Lee demonstrates a boxing technique at United MMA in Hawaii

“सभी को अपना ध्यान एक जगह पर केंद्रित रखने की जरूरत है। ये अच्छी बात है कि पहले दिन आप घर पर आराम कर सकते हैं लेकिन दूसरे, तीसरे और चौथे दिन कोई भी व्यक्ति दिशा से भटकने लगता है। इसलिए ऐसी कई चीजें हैं जो आप घर पर कर सकते हैं।

“पुश-अप्स और सिट-अप्स कर सकते हैं। फाइटर्स शैडोबॉक्स कर सकते हैं और शीशे के सामने खड़े रहकर नई तकनीक का अभ्यास कर सकते हैं।

“ऐसी कई अलग-अलग चीजें हैं जो लोग घर पर कर सकते हैं, फिर चाहे आपकी आँखों के सामने टीवी ना हो। घर पर फंसकर रह जाना अच्छी बात नहीं है लेकिन ये सबसे बुरी बात भी नहीं है।”

शेनन विराचाई – थाईलैंड के मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स स्टार

“ऐसी कई चीजें हैं जो घर पर रहकर सभी लोग कर सकते हैं। गलतियां हम सभी करते हैं और इन छोटी-छोटी चीजों से आपके अंदर ऊब की भावना उत्पन्न हो सकती है जिनका आप कभी सामना नहीं करना चाहेंगे।

“जैसे मान लीजिए आपको स्ट्रेट राइट लगाने की आदत लग चुकी है और किसी फाइट के दौरान आपके प्रतिद्वंदी इस मूव को आसानी से परख लेते हैं। आपको ऐसी ही गंदी आदतों से छुटकारा पाना होगा। लोग वैसे ही दुनिया से अलग-थलग पड़े हुए हैं तो क्यों ना इस बोरिंग लाइफ को दिलचस्प बनाया जाए। आपके पास समय ही समय है और हमें उसका सदुपयोग करना आना चाहिए।

“मुझे लगता है कि जो लोग प्रो फाइटर नहीं हैं उनके मन में सवाल आता है कि वो अपनी गलत तकनीक का पता कैसे लगा सकते हैं। ये बहुत आसान है। एक रात अपनी कमजोरी के बारे में सोचिए कि ऐसा क्यों होता है जो हमारे प्रतिद्वंदी हमारे कुछ मूव्स को हमेशा ब्लॉक करने में सफल होते हैं? मेरा ये शॉट हमेशा खाली ही क्यों जाता है? हर बार ये मूव गलत ही साबित क्यों होता है? खुद से सवाल पूछें और फिर खुद सोचें कि इससे आप कैसे ठीक कर सकते। अगर आपके पास कमजोरी होगी तो ही आप उसे ठीक कर पाएंगे।

“उस कमजोरी को ठीक करने के बारे में सोचें। आप यूट्यूब, गूगल पर इसके बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं या खुद भी कुछ नया करने की कोशिश कर सकते हैं। इससे संभव ही आपको इस कमजोरी का हल निकालने में आसानी होगी। ये किसी कठिन काम की तरह प्रतीत होता है लेकिन इसी तरीके से आप अपनी कमजोरी ढूंढ सकते हैं। अब आपके पास अपनी कमजोरी को ढूंढ निकालने और उसे ठीक करने के लिए 14 दिन हैं।”

एको रोनी सपुत्र – इंडोनेशियाई रेसलिंग चैंपियन

Eko Roni Saputra at ONE DAWN OF VALOR

“घर पर रहकर हम घर की सफाई कर सकते हैं, नई डिश बना सकते हैं और परिवार के साथ खेल भी सकते हैं। ये हमारे लिए नई चीजें ट्राई करने का समय है और ऐसी चीजें करें जो इससे पहले हमने कभी नहीं की हैं।

“उन फिल्मों या सीरीज को देखें जो हमने अभी तक देखी नहीं हैं। इस समय मैं अपनी पत्नी और बेटे के साथ ज्यादा से ज्यादा वक्त बिताना चाहता हूँ।

“मुझे लगता है कि हमें एक्सरसाइज़ भी नहीं छोड़नी है। हम पुश-अप्स कर सकते हैं क्योंकि इन्हें करना आसान है और किसी बाहरी उपकरण की जरूरत भी नहीं पड़ती। इसके अलावा हम कुछ एरोबिक एक्टिविटी भी कर सकते हैं।”

इलियट कॉम्पटन – ONE Super Series लाइटवेट फाइटर

Elliot Compton kicks the pads

“जहाँ तक मेरी बात है, फाइट्स के कैंसिल और स्थगित होने से मिले इस समय में मैं खुद को अच्छी शेप में रखने की कोशिश कर रहा हूँ। मैं जिम नहीं जा सकता लेकिन मैं घर पर रहकर कुछ ना कुछ वर्कआउट करता रहूंगा जिससे मुझे मानसिक मजबूती भी मिलती रहेगी।

“मैं अपनी जिंदगी में शामिल सभी अच्छी चीजों पर फोकस करना चाहता हूँ। इस समय का उपयोग मैं खुद को बेहतर इंसान बनाने के लिए और मानसिक रूप से मजबूत रहने के लिए करना चाहता हूँ। अच्छी मानसिकता से फाइट के समय दिक्कत नहीं आएंगी। मैं जिम में जाकर वर्कआउट नहीं कर पा रहा हूँ लेकिन इसके बावजूद मैं कुछ ना कुछ कर रहा हूँ।

“अपने माइंड को ट्रेन करें और अच्छी चीजों पर ध्यान दें क्योंकि हमें नहीं पता कि इसे कितनी और मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। मैं जानता हूँ कि दुनिया में कहीं ना कहीं मुझसे भी बेहतर मानसिक मजबूती वाले इंसान मौजूद हैं इसलिए अच्छी चीजों पर ध्यान देना अभी हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए जिससे हमें वापसी पर अच्छा प्रदर्शन करने में मदद मिल सके।”

गुरदर्शन मंगत – भारत के टॉप मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट

“मैं जानता हूँ कि ये हम सभी के लिए एक मुश्किल समय है। हम सभी को इसका मिलकर सामना करना होगा और इससे निपटने में अपना-अपना योगदान देना होगा। संक्रमित होने से बचने के लिए दूरी बनाए रखनी होगी और खुद को अलग रखना होगा और यही फिलहाल हमारे पास सबसे बेहतर विकल्प मौजूद है।

“मैंने घर पर रहकर वर्कआउट करना शुरू कर दिया है। मैं इलास्टिक बैंड्स को दीवारों से जोड़कर वर्कआउट कर रहा हूँ और शैडो बॉक्सिंग भी कर रहा हूँ। इसी तरह की चीजों पर फिलहाल मेरा ज्यादा ध्यान है।

“आपके पास खुद पर फ़ोकस करने के लिए काफी समय पड़ा हुआ है और ध्यान लगाने की कोशिश करें। मैं भी इसी तरह मेडिटेटिंग कर रहा हूँ और इन दिनों को एंजॉय करने की कोशिश कर रहा हूँ। इस शांति के माहौल का आनंद ले रहा हूँ।

“जिंदगी बहुत तेजी से आगे बढ़ती है क्योंकि आप हमेशा अपने लक्ष्य से एक कदम आगे रहने की कोशिश करते हैं लेकिन फिलहाल हम ब्रेक ले सकते हैं और मुश्किलों से उबर भी सकते हैं। मौजूदा स्थिति जो भी हो उसे लेकर ज्यादा परेशान ना हों और इस तरह हम नकारात्मकता को भी सकारात्मक विचारों में बदल सकते हैं। मैं अपने परिवार के साथ समय बिता रहा हूँ और साल के इस समय मैं ऐसा नहीं कर पाता हूँ।”

अज्वान शे विल – ONE Super Series फ़्लाइवेट फाइटर

Malaysian athlete Azwan Che Wil kicks his opponent

“मेरे पास घर पर पंचिंग बैग है, इसलिए मैं ज्यादा परेशानी लिए बिना ट्रेनिंग जारी रख सकता हूँ। लेकिन जिनके पास बैग नहीं है, वो भी घर पर रहकर किसी ना किसी तरीके का वर्कआउट कर सकते हैं।

“मेरा वर्कआउट रूटीन ज्यादा खास नहीं है। पहले 20 मिनट स्किपिंग (रोप्स) करता हूँ, आप बिना रस्सी के उस प्रक्रिया को जारी रख सकते हैं। उसके बाद 1 मिनट का ब्रेक लेता हूँ और फिर पुश-अप्स और सिट-अप्स के 20 रेप्स के 4 सेट करता हूँ। मेरे वर्कआउट सेशन का अंत मॉय थाई शैडोबॉक्सिंग के साथ होता है।

“अगर आपको ये करने में आनंद नहीं आ रहा है तो आप घर की सफाई कर सकते हैं। क्योंकि घर की सफाई के दौरान काफी पसीना आता है जिससे आप कैलोरी बर्न कर सकते हैं।”

जोश टोना – ONE Super Series स्ट्रॉवेट फाइटर

Australian Muay Thai athlete Josh Tonna punches Andy Howson

“सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति लगातार सख्त रवैया अपनाया जा रहा है इसलिए हम MuayU मेंबर्स के लिए कंटेंट तैयार कर रहे हैं जिससे उन्हें घर पर ट्रेनिंग करने में आसानी हो सके। हम नए-नए आइडिया लेकर आ रहे हैं जिनसे घर पर रहकर भी ट्रेनिंग की जा सकती है और ऐसा करने में हमें मजा आ रहा है।

“ONE से बाहर मैं सोशल मीडिया पर कुछ लोगों को फॉलो करता हूँ जिनसे मुझे प्रेरणा मिलती है। डेविड गोगिंस, कूर्टनी डौवॉल्टर, जो रोगन, गैरी वेनरचक, जोको विलिं, रसेल ब्रांड और विम हॉफ। इन लोगों को फॉलो कर मुझे ट्रेनिंग, नए तरीके से सोचने में मदद मिली है। मैं सुबह उठकर मेडिटेशन, योगा और ब्रीथिंग एक्सरसाइज़ भी करता हूँ।

“मैं लोगों से आग्रह करना चाहता हूँ कि ट्रेनिंग करना जारी रखें। अपने स्वास्थ्य को कमजोर ना पड़ने दें क्योंकि अब आप हिम्मत नहीं दिखाएंगे तो इसका भुगतान अगले कुछ महीने आपको करना पड़ सकता है। अनुशासित रहें और अपने जिम को सपोर्ट करें अगर वो ऑनलाइन क्लास दे रहे हैं। ये सब मानसिक मजबूती और शारीरिक मजबूती के लिए भी अच्छा साबित होगा।”

ये भी पढ़ें: ONE Championship के 5 सुपरस्टार्स ने घर पर रहकर अपने बच्चों के साथ वर्कआउट किया