क्रीकलिआ Vs. स्टोइका: वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच में जीत के 4 तरीके

Roman Kryklia Andrei Stoica 1200X800

शुक्रवार, 18 दिसंबर को फैंस को रोमन क्रीकलिआ और उनके खतरनाक चैलेंजर आंद्रेई “मिस्टर KO” स्टोइका के बीच ONE लाइट हेवीवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच देखने को मिलेगा।

दोनों का सामना अप्रैल में होने वाला था, लेकिन COVID-19 के कारण इवेंट को रद्द कर दिया गया। 8 महीने बाद अब ONE: COLLISION COURSE में ये मुकाबला होने जा रहा है।

क्रीकलिआ काफी समय से अपने चैलेंजर के मूव्स को परखते आए हैं, वहीं स्टोइका भी मौजूदा चैंपियन की कमजोरियों को ढूंढने में लगे हैं।

यहां आप जान सकते हैं कि ये वर्ल्ड टाइटल मैच किन 4 तरीकों से समाप्त हो सकता है।

क्रीकलिआ शानदार तरीके से अपनी लंबी रीच का इस्तेमाल करेंगे

Roman Kryklia uses his reach in a light heavyweight kickboxing fight

क्रीकलिआ जो भी Gridin Gym में सीखते हैं उसी का प्रयोग सर्कल में भी करते हैं। इसी कारण वो अच्छी तकनीक और चतुराई भरे मूव्स लगाने में सफल रहते हैं।

200 सेंटीमीटर लंबे यूक्रेनियाई एथलीट को अक्सर अपनी लंबी रीच (पहुंच) का फायदा उठाते देखा जाता है। कॉम्बिनेशंस से अटैक करने के बजाय क्रीकलिआ उचित दूरी बनाए रखकर स्ट्राइक्स लगाने में विश्वास रखते हैं।

इस बार वो अपने प्रतिद्वंदी से 12 सेंटीमीटर लंबे हैं और इसकी मदद से वो अपने प्रतिद्वंदी को बैकफुट पर धकेलने में सफल रहते हैं। पंच लगाने के बाद उन्हें अक्सर पंचिंग कॉम्बिनेशन लगाते देखा जाता है।

जैब और क्रॉस के अलावा क्रीकलिआ अपने प्रतिद्वंदी को दमदार बॉडी शॉट्स लगाकर भी क्षति पहुंचाते हैं। उनके प्रतिद्वंदी को लगता है कि वो क्रीकलिआ से काफी दूर हैं, इस दौरान वो यूक्रेनियाई स्टार के करीब आने की गलती कर बैठते हैं, जिसके कारण उन्हें प्रभावशाली स्ट्राइक्स झेलनी पड़ती हैं।

स्टोइका का दमदार लेफ्ट हुक

Andrei Stoica defeats Anderson Silva at ONE MARK OF GREATNESS

क्रीकलिआ चाहे अपने प्रतिद्वंदी से लंबे और उनके पास ज्यादा रीच हो, लेकिन स्टोइका का लेफ्ट हुक उन्हें चैंपियन के खिलाफ जीत दिलाने में सक्षम है।

बुकारेस्ट निवासी एथलीट कई बार अपने बाएं हाथ की ताकत की मदद से अपने प्रतिद्वंदियों को फिनिश कर चुके हैं। क्रीकलिआ का आक्रामक रुख भी उन्हें दमदार शॉट्स लगाने में मदद कर सकता है।

“मिस्टर KO” को तब शॉट लगाना पसंद है, जब वो खुद बैकफुट और उनका प्रतिद्वंदी आगे आकर अटैक करने की कोशिश करे। जब भी क्रीकलिआ आगे आकर लॉन्ग राइट बॉडी शॉट लगाने के लिए आगे आएं, तभी स्टोइका भी मौके का फायदा उठाकर बढ़त प्राप्त कर सकते हैं।

ये केवल एक काउंटर-स्ट्राइक नहीं है। एंडरसन “ब्रेडॉक” सिल्वा के खिलाफ पिछले साल हुए मैच में भी देखा गया था कि इसके बाद वो खतरनाक कॉम्बिनेशन भी लगाते हैं। स्टोइका इस बार भी दमदार हुक लगाकर जीत के करीब पहुंच सकते हैं।

इससे रोमानियाई स्टार फ्रंट-फुट के साथ बैकफुट पर रहकर भी अटैक कर पाएंगे और यहीं से मैच समाप्ति की शुरुआत भी हो सकती है।



क्रीकलिआ की प्रभावशाली नी स्ट्राइक्स

ONE Light Heavyweight Kickboxing World Champion Roman Kryklia connects with a knee to the head

क्रीकलिआ का दूर रहकर अटैक करना उनके कम लंबे प्रतिद्वंदियों को आगे आकर अटैक करने के लिए मजबूर करता है और उस समय यूक्रेनियाई एथलीट की नी स्ट्राइक पहले ही उनका इंतज़ार कर रही होती है।

तारिक “द टैंक” खबाबेज़ के खिलाफ वर्ल्ड टाइटल मैच में भी उन्होंने कुछ ऐसा ही किया था। अपने प्रतिद्वंदी के आगे आने का इंतज़ार किया और मौका मिलते ही जबरदस्त अंदाज में स्ट्राइक लगाई।

क्रीकलिआ की लंबाई के कारण उनकी नी स्ट्राइक उनके प्रतिद्वंदी को सिर या बॉडी पर गहरी क्षति पहुंचाती है। वहीं उसके बाद फ्रंटफुट पर रहकर दबाव बनाना भी उस प्रभाव को दोगुना कर देता है।

जब भी Gridin Gym के प्रतिनिधि के प्रतिद्वंदी फ्रंटफुट पर रहकर अटैक करने की कोशिश करते हैं, उसके लिए भी उनके पास कई खतरनाक मूव्स मौजूद हैं, जिनमें से अपरकट भी एक है।

स्टोइका का धैर्य से काम लेना

Andrei Stoica defeats Anderson Silva at ONE MARK OF GREATNESS DW 1646.jpg

खबाबेज़ निरंतर आक्रामक रुख अपनाकर अटैक करते हैं, लेकिन स्टोइका धैर्य से काम लेते हैं। इसी कारण वो चैंपियन को अपने मूव्स के झांसे में फंसा सकते हैं।

“मिस्टर KO” को सर्कल के बीच में रहकर स्ट्राइक्स लगाना पसंद है लेकिन वो धैर्य से काम लेते हैं। यानी रोमानियाई किकबॉक्सिंग चैंपियन मौका मिलने के बाद ही शॉट्स लगाते हैं।

मैच में स्टोइका की लो किक और लेफ्ट बॉडी किक भी क्रीकलिआ को काफी क्षति पहुंचा सकती है।

अगर वो क्रीकलिआ को फ्रंटफुट पर आने के लिए मजबूर कर पाए तो चैलेंजर दमदार पंच लगाकर मैच में बढ़त प्राप्त कर सकते हैं।

खास बात ये है कि मौजूदा चैंपियन आज तक नॉकआउट नहीं हुए हैं, लेकिन वो भी एक इंसान हैं और “मिस्टर KO” अपने किसी भी प्रतिद्वंदी को फिनिश करने की काबिलियत रखते हैं।

ये भी पढ़ें: रोमानियाई किकबॉक्सर आंद्रेई स्टोइका से जुड़ी 5 रोचक बातें

किकबॉक्सिंग में और

Jonathan Di Bella Danial Williams ONE Fight Night 15 73 scaled
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 142
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 59
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 137
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE 167 78
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 11
Rodtang Jitmuangnon Edgar Tabares ONE Fight Night 10 36
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 21 scaled
Superlek Kiatmoo9 Rodtang Jitmuangnon ONE Friday Fights 34 80
Kompet Fairtex Kongchai Chanaidonmueang ONE Friday Fights 58 10
Tawanchai PK Saenchai Superbon Singha Mawynn ONE Friday Fights 46 48 scaled
MasaakiNoiri Champ 1200X800