विशेष कहानियाँ

रेने कैटलन कैसे जीवन के सबसे बुरे वक्त से बाहर निकले

अक्टूबर 19, 2019

रेने कैटलन “चैलेंजर” तेजी से ONE Championship के स्ट्रॉवेट रैंक की तरफ बढ़ रहे हैं। 39 वर्षीय कई बार के वुशू विश्व चैंपियन और फिलीपींस के मकाती में उनके खुद के कैटलन फाइटिंग सिस्टम ने गौरवान्वित किया है। अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट करियर में चार मुकाबलों में जीत दर्ज कर अब अगले सप्ताह में होने वाले मुकाबले में पांचवीं जीत की तरफ बढ़़ रहे हैं।

शुक्रवार 27 जुलाई को मनीला में एशिया एरिना के मॉल में उन्होंने अपराजित इंडोनेशियन हीरो स्टीफर रहार्डियन का ONE: REIGN OF KINGS  में सामना किया। कैटलन के लिए यह एक खतरनाक सफर रहा है। हालांकि अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट करियर को शुरू करने से ठीक पहले उनके जीवन की राह ने एक खतरनाक मोड़ लिया। उन्हें अपने जीवन के प्यार को अलविदा कहने के लिए मजबूर होना पड़ा।

युवा प्यार

कैटलन वो पल कभी नहीं भूल सकते जब उन्होंने पहली बार अपनी पत्नी एडलिन को देखा था। वे कहते हैं कि “हम 1995 में मिले थे, जब हम हाई स्कूल में अपने चौथे वर्ष में थे।”

एडलिन और उसका परिवार इलोइलो चला गया। उन्होंने उसी हाई स्कूल में दाखिला लिया जहां कैटलन भी पढ़ते थे। दोनों जल्द ही एक-दूसरे से प्यार करने लगे और उन्होंने उसी शहर में अपनी कॉलेज की शिक्षा जारी रखने का फैसला किया। हालांकि एडलिन के माता-पिता को उनका रिश्ता मंजूर नहीं था।

उन्होंने अपनी बेटी को दूसरे सेमेस्टर के लिए दाखिला नहीं कराया। क्योंकि वे नहीं चाहते थे कि वो “द चैलेंजर” से मिले या उसके साथ समय बिताए। उन्हें विश्वास नहीं था कि वो उनकी बेटी को आर्थिक रूप से मजबूती दे सकता है। वह बताते हैं कि “माता-पिता के रूप में वे अपनी बेटी के लिए सुरक्षा चाहते थे। इसलिए उन्होंने मेरे जैसे व्यक्ति को चुनने की बजाय एक अमीर आदमी की तलाश की।”

कैटलन तब वेस्टर्न इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में बॉक्सिंग टीम के लिए एक खिलाड़ी थे। यहां उन्होंने मरीन इंजीनियरिंग में बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री को पूरा करने के लिए दाखिला लिया था। इस बीच एडलिन का कैटलन के साथ रहने का एक अलग लक्ष्य पूरा करने के लिए दृढ़ थी।

एडलिन उस व्यक्ति के साथ रहने के लिए अपने माता-पिता के घर से भाग गई, जिसने उसके दिल पर कब्जा कर लिया था। नवोदित मार्शल आर्टिस्ट ने शुरुआत में ही उसे दूर कर दिया। कैटलन ने उसे यकीन दिलाने का प्रयास किया कि अगर उसने अपनी पढ़ाई पूरी कर ली, तो उसका भविष्य उज्जवल होने की उम्मीद है, लेकिन उसका प्रयास कारगर नहीं हुआ।

उन्होंने याद करते हुए बताया कि “वह दौड़ते हुए हाईवे पर चली गई और मुझसे कहा कि अगर मैंने उसे घर जाने के लिए कहा तो वह खुदकुशी कर लेगी। मैंने दौड़कर उसे बचा लिया। मैं प्यार के कारण अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पा रहा था।”

एक दुःखद अंत

इस जोड़े ने एक साथ रहने का निर्णय ले लिया। वे उनके माता-पिता के साथ अच्छी तरह से नहीं रह सकते थे। 1998 में सभी बाधाओं के बावजूद उन्होंने शादी कर ली। मार्शल आर्ट्स ने कैटलन को फिलीपीन सेना में एक बॉक्सर के रूप में पहुंचा दिया। फिर फिलीपींस की मॉय एसोसिएशन और बाद में फिलीपीन नेशनल वुशू टीम में पहुंचा दिया।

उन्होंने टीम के साथ रहते हुए देश के लिए कई पुरस्कार जीते और 2009 में उन्हें कनाडा की राष्ट्रीय टीम के लिए प्राथमिक कोचों में से एक बनने के लिए आमंत्रित किया गया। बस जब ऐसा लग रहा था कि सब कुछ अच्छा हो रहा है तब ही एक दुःखद घटना हुई। जब उन्होंने कनाडा में रहकर कोच का काम शुरू किया उसी दौरान उनकी पत्नी हाइपरथायरायडिज्म से ग्रसित होने का पता चला। गंभीर स्थिति के कारण पत्नी की देखभाल के लिए उन्हें इलोइलो वापस आना पड़ा।

कैटलन बताते हैं कि “यह जहरीला हाेने के कारण तुरंत उपचार की आवश्यकता थी। मेरी सारी कमाई उसकी दवा में खर्च हो गई। मैं घर खाली हाथ आया। क्योंकि वह करीब छह महीने तक अस्पताल में भर्ती रही। दो साल शांत रहे जिनमें मैं प्रतिस्पर्धा और कोचिंग से दूर रहा ताकि पत्नी की देखभाल कर सकूं।”

इस मुश्किल वक्त के दौरान उन्होंने एक बेटे को खोने की असहनीय दर्द को अनुभव किया। कैटलन के पादरी ने इस बुरे वक्त से बाहर निकलने में मदद की। उनकी पत्नी की सेहत भी बेहतर होने लगी। “चैलेंजर” और एडलिन ने एक चिकित्सक से बात की, जिन्होंने कहा कि उन्हें ठीक करने के लिए रेडिएशन थैैरपी देनी होगी।

वुशु विश्व चैंपियन मनीला में मिक्स्ड मार्शल आर्ट टीम के लिए एक स्ट्राइकिंग कोच के रूप में काम करने के लिए वापस चले गए। बाद में उन्होंने बीजिंग एम्पायर एमएमए क्लब के साथ एक कोचिंग देने की नौकरी की और चीन में शिफ्ट हो गए और पत्नी के इलाज के लिए पैसे जुटाए।

जब वह ONE Championship डेब्यू के लिए ट्रेनिंग कर रहे थे तो एडलिन की हालत दोबारा खराब हो गई। कैटलन कहते हैं कि “घर जाने से कुछ हफ़्ते पहले उसने मुझे अस्पताल ले जाने के लिए कहा। मेरे बड़े भाई ने कहा कि उसकी हालत खराब हो गई थी। इसलिए उन्हें अस्पताल ले जाने की जरूरत थी। मैंने उनसे कहा कि वे मेरा इंतजार करें। मैंने अपने मैच की तैयारी और अगले दिन मेरे भाई ने कहा कि वह गुजर गई।”

फिर से जीना सीखना

पत्नी को दफना देने के सिर्फ दो हफ्ते बाद कैटलन को अप्रैल 2013 में एलेक्स सिल्वा “लिटिल रॉक” के खिलाफ अपने मिक्सड मार्शल आर्ट डेब्यू के लिए निर्धारित किया गया था। जबकि अधिकांश एथलीट इस आयोजन से हट गए थे। फिलिपिनो ने अपनी प्रतिबद्धता का सम्मान करने का फैसला किया।

वह कहते है कि “मैं सोचता था कि मेरा जीवन बेकार है। मैं उस एक व्यक्ति की वजह से दृढ़ था और वह भी चली गई थी। हालांकि मैंने अपने बच्चों के बारे में भी सोचा। मुझे उनके लिए जीने की जरूरत थी।”

हालांकि प्रतिकूल परिस्थितियों में कोई जीत नहीं मिल सकती थी। उन्हें सिल्वा के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। साथ ही एक और हार और उनके अगले दो मुकाबलों में कोई मुकाबला नहीं था। जीवन में भारी चुनौतियों से जूझ रहे कैटलन की पेशेवर असफलताओं के कारण दूसरा रास्ता चुनने के लिए पर्याप्त कारण था।

अपने जीवन में अन्य महत्वपूर्ण लोगों से प्रेरित होकर उन्होंने अपने करियर को मोड़ने के लिए खुद को समर्पित कर दिया और तब से चार मुकाबले जीतकर सभी को प्रभावित किया है- जो अपने डिविजन के किसी भी एथलीट के सर्वश्रेष्ठ स्कोर में से एक है।

उन्होंने कहा कि “मेरे प्रेरणा का मुख्य स्रोत मेरे बच्चे हैं। दूसरी बात मेरे एथलीट (कैटलन फाइटिंग सिस्टम पर) हैं। ताकि मैं उन्हें खाना खिला सकूं और उन्हें अपना जीवन बेहतर बनाने में मदद कर सकूं।”

उनका जिम मार्शल आर्ट्स के लिए वैश्विक मंच पर प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम एथलीटों को तैयार करता है। जैसे कि एटमवेट कंटेस्टेंट जोमरी टॉरेस – वह अपने करियर और जीवन दोनों में आगे बढ़ने के लिए प्रतिबद्ध है।

मनीला | 27 जुलाई | लाइव और फ्री ONE सुपर ऐप पर: http://bit.ly/ONESuperApp | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय सूची का अवलोकन करें | टिकट: http://bit.ly/oneki