विशेष कहानियाँ

महिला प्रेरणास्रोतों ने एंजेला ली को बनाया एक मजबूत महिला विश्व विजेता

सितम्बर 29, 2019

मार्शल आर्ट्स की दुनिया में अभूतपूर्व सफलता के कारण एंजेला ली “अनस्टॉपेबल” दुनियाभर के लोगों के लिए एक प्रेरणास्रोत हैं। विशेष रूप से युवा महिलाओं के लिए।

किशोरावस्था में उन्होंने ONE वूमेंस एटमवेट वर्ल्ड चैंपियन ने रिंग में कुछ बड़ी चुनौतियों का सामना किया है लेकिन वह भावनात्मक और शारीरिक संघर्षों के माध्यम से जीत गई। वह कहती हैं कि उनके जीवन में मजबूत महिलाओं का प्रभाव महत्वपूर्ण रहा है।

सिंगापुरियन 13 अक्टूबर को ONE: CENTURY PART I में जिओंग जिंग नान “द पांडा” के खिलाफ अपनी बेल्ट के बचाव के लिए उतरेंगी। उनके प्रशिक्षण और रिंग में जीत के लिए आगे बढ़ाने के लिए प्रेरणास्रोत उनके पक्ष में होंगे।

कई मार्शल आर्ट्स विषयों में एक ब्लैक बेल्ट के लिए उनकी मां ज्वेलेज का स्पष्ट प्रभाव रहा है। ली बताती हैं कि परिवार में कोई और भी है जो उनके आगे बढ़ने के श्रेय का हकदार था। 23 वर्षीय बताती हैं कि “मेरी मां हमारे परिवार के लिए एक मजबूत व्यक्तित्व है। वो हमारे परिवार के लिए सब कुछ करती हैं लेकिन मेरी दादी भी मेरे जीवन में एक बड़ी आदर्श थीं।”

“उन्होंने मुझे समय पर उठाने में, मेरी देखभाल करने में मदद की। अपने और परिवार के लिए उनका स्नेह देखा। वो हमेशा अपने पोते-पोती सभी का इतना अविश्वसनीय रूप से समर्थन करती हैं। विश्व चैंपियन बनने के बाद से तो वो और दादाजी सबसे पहले मेरे समर्थक बन गए हैं।”

ली और उसके भाई ONE लाइटवेट वर्ल्ड चैंपियन क्रिश्चियन ली “द वॉरियर” ने अपने माता-पिता के संरक्षण में चलना शुरू करने के बाद प्रशिक्षण शुरू किया। जबकि उनके पिता केन उनके मुख्य कोच के रूप में हैं। परिवार के बुजुर्गों के मार्गदर्शन के बिना “अनस्टॉपेबल” एक अच्छी मार्शल कलाकार और सही इंसान के रूप में विकासित होना संभव नहीं होता।



वह कहती हैं कि “मैं आज भी उनके मार्गदर्शन और सलाह पर चलती हूं। वे बहुत ही ज्ञानी और बहुत मजबूत महिलाएं हैं। मुझे बहुत भाग्यशाली थी कि मेरी परवरिश इन महिलाओं के छत्रछाया में हुई।”

वह अपने जीवन में हमेशा शक्तिशाली महिलाओं से घिरी रही हैं। ली ने खुशी-खुशी उस ज्ञान को दुनियाभर की अन्य युवा लड़कियों में बांटना शुरू कर दिया। जब भी उन्हें किसी मदद की जरूरत होती तो उनका परिवार एक फोन कॉल पर उपलब्ध हो जाता है। वह बताती हैं कि “अच्छा समय रहा हो या फिर बुरा मैंने हमेशा उनसे सलाह ली।

यह मुझे सही दिशा देने में मदद करता है। मुझे सिखाता है कि चीजों से कैसे निपटना है और कदम पीछे नहीं हटाने। इसने मुझे अपनी समस्याओं का सामना करना और उसका समाधान खोजना सिखाया। उनकी मदद और उनके मार्गदर्शन से मैंने जीवन के नकारात्मक विचारों को दूर करने में कामयाब रही।”

जिस तरह से ली काे समर्थन मिला और पालन-पोषण किया गया था। इसने उन्हें अपने तीन छोटे भाई-बहनों के लिए रोल मॉडल बना दिया। उसने हमेशा उनकी देखभाल की और वैश्विक मंच पर मार्शल आर्ट्स में अपनी सफलता के अनुभव के बारे में हमेशा उन्हें बताती थीं। वो हमेशा सलाह देने के लिए जिम में मौजूद रहती हैं।

वह कहती हैं कि “एक अच्छा उदाहरण और रोल मॉडल होने के नाते कुछ ऐसा था जिसने मुझे आगे बढ़ाया। यह मेरे लिए अंदर स्वाभाविक रूप से है। ऐसा करने में मुझे मजा आता है।” उनकी छोटी बहन विक्टोरिया में भी यही गुण आ गए जो एक किशोरी होने के बावजूद वो भी परिवार की अन्य महिलाओं की तरह विश्व चैंपियन की मुख्य प्रेरणा के रूप में उभरी।

वह कहती हैं कि “यह हास्यास्पद है लेकिन अब मेरी छोटी बहन मेरे लिए भी एक बड़ी प्रेरणास्रोत है। सिर्फ 15 साल की उम्र में भी वह अविश्वसनीय है। वह स्मार्ट और बहुत एथलेटिक होने के साथ चीजों को जल्दी पकड़ती है।”

टोक्यो | 13 अक्टूबर| ONE: CENTURY | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय सूची का अवलोकन करें| टिकट: https://onechampionship.zaiko.io/e/onecentury

ONE: CENTURY इतिहास की सबसे बड़ी विश्व चैम्पियनशिप मार्शल आर्ट्स प्रतियोगिता है जिसमें 28 विश्व चैंपियनशिप विभिन्न मार्शल आर्ट्स का प्रदर्शर करेंग। इतिहास में किसी भी संगठन ने कभी भी एक ही दिन में दो पूर्ण पैमाने पर विश्व चैम्पियनशिप के आयोजनों को बढ़ावा नहीं दिया।

13 अक्टूबर को जापान के टोक्यो में प्रसिद्ध रयोगोकु कोकुगिकन में कई वर्ल्ड टाइटल मुकाबलों, वर्ल्ड ग्रां प्री चैंपियनशिप फाइनल की एक तिकड़ी और कई वर्ल्ड चैंपियन बनाम वर्ल्ड चैंपियन मैच के साथ-साथ The Home Of Martial Arts नई जमीन तलाश करेगा।