Muay Thai

मॉय थाई में फिर से दम दिखाने को तैयार हैं पेचडम पेटयिंडी एकेडमी

Jan 23, 2020

“द बेबी शार्क” पेचडम पेटयिंडी एकेडमी का सामना ONE: FIRE & FURY में मोमोटारो के साथ होने जा रहा है।

अगले शुक्रवार, 31 जनवरी को ONE Super Series के सबसे तगड़े एथलीट्स में से एक पेचडम करीब 1 साल बाद मॉय थाई में मुकाबला करने जा रहे हैं, इससे पहले वो लगातार किकबॉक्सिंग मुकाबलों में शिरकत करते नजर आए थे।

21 साल के इस एथलीट के लिए नए खेल में जाना काफी कामयाबी भरा फैसला रहा। उन्होंने पहली ONE फ्लाइवेट चैंपियनशिप को अपने नाम किया, मगर इस बात में कोई शक नहीं है कि वो मॉय थाई के लिए सबसे ज्यादा फेमस हैं।

पेचडम ने 8 साल की उम्र में मॉय थाई की ट्रेनिंग शुरु की और अपनी 94 प्रोफेशनल बाउट में से 92 में जीत हासिल की। इस शानदार प्रदर्शन ने उन्हें Lumpinee Stadium और WBC मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल जितवाए।

इसके नियमों की वजह से वो अपने सबसे कारगर हथियार, जिसमें लेफ्ट किक भी शामिल है, को यूज़ कर पाए। इसी के दम पर वो ONE Championship इतिहास की दो सबसे शानदार नॉकआउट जीत हासिल करने में कामयाब रहे।

उन्होंने कहा, “मॉय थाई में वापिस लौटने को लेकर काफी उत्साहित महसूस कर रहा हूं। इसमें मुझे अपने सारे हथियार इस्तेमाल करने का मौका मिलेगा।”

“इसमें काफी रिलेक्स महसूस करता हूं। यहां प्रेशर नहीं लगता क्योंकि मॉय थाई की प्रैक्टिस बचपन से करता आ रहा हूं, ये एक तरह से मेरे स्वभाव में है।”

“द बेबी शार्क” के लिए फिलीपींस की राजधानी मनीला के मॉल ऑफ एशिया एरीना में होने वाले इवेंट में जीत हासिल करना आसान काम बिल्कुल भी नहीं होगा।

“मोमोटारो” के पास दोनों ही खेलों के टाइटल हैं और वो The Home Of Martial Arts में लगातार 2 जीत भी हासिल कर चुके हैं, जिसमें से एक जीत पेचडम के हमवतन एथलीट के खिलाफ आई थी।



पिछले साल सितंबर महीने में 29 वर्षीय जापानी एथलीट ने मॉय थाई लैजेंड सिंगटोंगनोइ पोर टेलकुन को मात्र 41 सेकेंड में नॉकआउट कर दिया था, जो कि ONE Super Series इतिहास का सबसे तेज फिनिश रहा।

पेचडम ने उनका मैच देखा था और वो अपने विरोधी की स्किल्स से काफी प्रभावित हैं लेकिन मानते हैं कि जीत की चाबी उन्हीं के पास है।

उन्होंने कहा, “उनकी स्पीड औऱ पंच कमाल के हैं, इस चीज़ को बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं कर सकता।”

“मुझे नहीं पता कि फाइट का अंत किस तरह से होगा, ये सब मैच के दौरान होने वाली चीज़ों पर निर्भर करता है। मुझे एक चीज तो पता है कि मेरी हार नहीं होगी।

“मैं अपनी लेफ्ट किक्स का इस्तेमाल करते हुए फाइट में ज्यादा से ज्यादा एक्टिव रहना चाहूंगा। वो पंच मारने की कोशिश करेंगे तो मैं काउंटर पर जाऊंगा। वो कॉम्बिनेशन लगाने की कोशिश करेंगे, तो एल्बो से काउंटर करूंगा।

“मैं इस मुकाबले को लेकर कड़ी ट्रेनिंग कर रहा हूं। मुझे लगता है कि मेरी ट्रेनिंग ही उन पर बढ़त बनाने में मददगार होगी।”

ONE: FIRE AND FURY के मेन कार्ड में फैंस को रंग-बिरंगे बालों वाले पेचडम अपने मनपसंदीदा खेल में लौटते दिखेंगे।

अगर वो नॉकआउट से जीत हासिल कर लेते हैं, तो ONE फ्लाइवेट मॉय थाई वर्ल्ड टाइटल की तरफ कदम बढ़ाना शुरु कर देंगे लेकिन इसका ये मतलब कतई नहीं होगा कि एक किकबॉक्स के रूप में उनका करियर खत्म हो गया है।

पेचडम ने बताया, “मैं अपना आत्मविश्वास वापस पाना चाहता हूं, उसके बाद किकबॉक्सिंग में वापसी करूंगा।”

“मुझे वर्ल्ड टाइटल वापस चाहिए।”

ये भी पढ़ें: पीटर बस्ट ने कहा कि वो फोलायंग को नॉकआउट करने का दमखम रखते हैं

मनीला | 31 जनवरी | ONE: FIRE & FURY | टिकेट्सयहां क्लिक करें  

*ONE Championship की ऑफिशियल मर्चेंडाइज़ के लिए यहां हमारी शॉप पर आएं