ONE Friday Fights 8 में टुपिएव ने रामज़ानोव को चौंकाया, पेटसुकुमविट और पेटलमपन के धमाकेदार नॉकआउट्स

Alaverdi Ramazanov Mavlud Tupiev ONE Friday Fights 8

10 मार्च को बैंकॉक के लुम्पिनी बॉक्सिंग स्टेडियम में हुआ ONE Championship का हालिया वीकली इवेंट एक बार फिर बहुत दिलचस्प साबित हुआ।

ONE Friday Fights 8 में 12 किकबॉक्सिंग, MMA और मॉय थाई मैचों में कई धमाकेदार फिनिश देखे गए, जिन्होंने दुनिया भर के फैंस का खूब मनोरंजन किया।

अगर आपने एक्शन को मिस कर दिया हो तो यहां जानिए इवेंट में क्या-क्या हुआ।

पेटसुकुमविट ने मेन इवेंट में पेटमुआंगश्री को पस्त किया

https://www.instagram.com/p/CpnXWa9DPda/?hl=en

थाई स्टार पेटसुकुमविट बोई बांगना ने एक बार फिर ONE Friday Fights के इवेंट को हेडलाइन किया और पेटमुआंगश्री टीडेड99 को नॉकआउट करते हुए खुद को फ्लाइवेट मॉय थाई डिविजन के खतरनाक कंटेंडर्स में से एक के रूप में साबित किया।

पूर्व Rajadamner Stadium मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन ने पहले राउंड को डोमिनेट किया और दूसरे राउंड में खतरनाक कॉम्बिनेशंस लगाते हुए अपने विरोधी को झकझोरा।

24 वर्षीय स्टार ने पेटमुआंगश्री पर दूसरे राउंड में 2 मिनट 36 सेकंड के समय पर जीत दर्ज की। अब उनका ONE रिकॉर्ड 2-0 का हो गया है।

पेटलमपन ने जबरदस्त वापसी करते हुए रैम्बोंग को नॉकआउट किया

पेटलमपन मुआदाब्लमपंग ने वॉयलिन साउंड्स के बीच एंट्री ली थी और साथ ही उन्हें शानदार तरीके से चीयर भी किया गया।

रैम्बोंग सोर थेरापैट के खिलाफ 128-पाउंड कैचवेट मॉय थाई बाउट में पेटलमपन को पहले 2 राउंड्स में बैकफुट पर जाना पड़ा।

मगर समय बीतने के साथ वो रैम्बोंग पर अच्छी टाइमिंग से शॉट्स लगाने में सफल हो रहे थे। वहीं तीसरे राउंड में पेटलमपन ने राइट हैंड के जरिए अपने विरोधी की पुश किक को ब्लॉक किया और अगले ही पल दोबारा दायें हाथ की मदद से खतरनाक हुक लगा दिया।

रैम्बोंग जहां खड़े थे, वहीं गिर पड़े और पेटलमपन खुशी से झूम उठे थे। जब तीसरे राउंड में 1 मिनट 14 सेकंड के समय पर मैच को फिनिश किया, तब क्राउड भी चौंक उठा था। इस नॉकआउट जीत ने पेटलमपन के रिकॉर्ड को 81-18-2 पर पहुंचाया।

नमसुरिन ने खुनसुकनोई को पहले राउंड में नॉकआउट किया

नमसुरिन चोर केटविना ने अपने ONE डेब्यू को धमाकेदार अंदाज में जीता है।

उन्हें 116-पाउंड कैचवेट मॉय थाई बाउट में खुनसुकनोई बूमदेक्सेन को नॉकआउट करने के लिए केवल 2 मिनट 38 सेकंड की जरूरत पड़ी।

नमसुरिन ने खुनसुकनोई को बैकफुट पर धकेलते हुए लेफ्ट हुक लगाया। इसके प्रभाव से खुनसुकनोई लड़खड़ाने लगे, वहीं नमसुरिन के लेफ्ट हैंड के प्रभाव से उनके विरोधी नीचे जा गिरे।

अब Tded 99 के प्रतिनिधि का रिकॉर्ड 100-19-2 का हो गया है।

बैनलुइरिट ने ONE डेब्यू में नुआटोरानी को हराया

Banluerit wins at ONE Friday Fights 8

बैनलुइरिट ओर अटचारिया ने 113-पाउंड कैचवेट मॉय थाई मुकाबले में नुआटोरानी जित्मुआंगनोन को केवल 2 मिनट 38 सेकंड में फिनिश कर दिया।

25 वर्षीय एथलीट ने शुरुआत से नुआटोरानी पर दमदार शॉट्स लगाने शुरू किए और लगातार 3 बार नॉकडाउन करते हुए बड़ी जीत हासिल की।

इस धमाकेदार जीत के बाद अब उनका रिकॉर्ड 86-20-5 का हो गया है।

जूनियर ने करीबी मुकाबले में पैनकेक को मात दी

Junior Fairtex Wins at ONE Friday Fights 8.

थाई स्ट्राइकर जूनियर फेयरटेक्स ने अपनी हमवतन एथलीट पैनकेक कियटोंगयोट पर एटमवेट मॉय थाई मैच में विभाजित निर्णय से जीत दर्ज की है।

शुरुआत में दोनों के बीच कांटेदार टक्कर देखने को मिली, जहां उन्होंने पंच और किक्स लगाने पर जोर दिया। ये बता पाना मुश्किल था कि मैच में अटैक कब और डिफेंस कब हो रहा था।

मगर मैच के अंतिम समय में पैनकेक थकी हुई नजर आने लगी थीं, जिसका जूनियर ने पूरा फायदा उठाया। Fairtex टीम की प्रतिनिधि ने अंत में 3 में से 2 जजों को प्रभावित करने में सफलता पाई और अपने ONE डेब्यू को यादगार बनाया।

माइसंगकुम ने जोमहोट को फिनिश किया

माइसंगकुम सोर यिंगचारोएनकार्नचांग ने चाहे तीसरे राउंड में कंबोडियाई एथलीट जोमहोट चारोएनमुआंग को नॉकआउट कर दिया हो, लेकिन इसके लिए उन्हें बहुत कड़ी मेहनत करनी पड़ी।

थाई एथलीट ने 116-पाउंड कैचवेट मॉय थाई मैच के पहले राउंड में अपने प्रतिद्वंदी को खूब क्षति पहुंचाई, लेकिन जोमहोट किसी तरह दूसरे राउंड में प्रवेश करने में सफल रहे।

मैच में अधिकांश समय माइसंगकुम ने बढ़त बनाए रखी और तीसरे राउंड में 42 सेकंड के समय पर जोमहोट रेफरी के काउंट का जवाब देने में असफल रहे।

21 वर्षीय एथलीट ने अपने रिकॉर्ड को बेहतर करते हुए 46-15 पर पहुंचा दिया है।

टुपिएव ने रामज़ानोव को उलटफेर का शिकार बनाया

मावलद टुपिएव ने बेंटमवेट मॉय थाई मुकाबले में पूर्व ONE किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन अलावेर्दी रामज़ानोव को सर्वसम्मत निर्णय से हराकर अपने करियर की सबसे बड़ी जीत हासिल की है।

उज़्बेकिस्तान के एथलीट ने #2 रैंक के कंटेंडर रूसी एथलीट को पहले राउंड में लेफ्ट हुक लगाकर नॉकडाउन स्कोर किया।

यहां से टुपिएव ने काउंटर पंच की रणनीति अपनाकर एकतरफा अंदाज में जीत हासिल की।

इस जीत से उनका करियर रिकॉर्ड 42-7-3 पर पहुंच गया है और टॉप-5 बेंटमवेट मॉय थाई कंटेंडर्स में शामिल होने के लिए दावेदारी पेश की है।

कनूनीकोव ने पोनेट को हराया

व्लादिमीर कनूनीकोव ने लाइटवेट MMA बाउट में अपनी शानदार ग्रैपलिंग के दम पर जेसन पोनेट पर सर्वसम्मत निर्णय से जीत हासिल की।

रूसी एथलीट ने फ्रेंच स्टार को ट्रायंगल चोक और किमूरा लगाने की कोशिश करते हुए उनके एनर्जी लेवल को कमजोर करने की कोशिश की।

दूसरे और तीसरे राउंड में कनूनीकोव माउंट पोजिशन में थे, लेकिन पोनेट ने बच निकलने की कोशिश की। मगर इतनी कोशिशों के बावजूद Team Strela के स्टार अपने विरोधी को ग्राउंड गेम में बनाए रखने में सफल हो रहे थे। उन्होंने ग्राउंड फाइटिंग के दौरान कई दमदार स्ट्राइक्स और सबमिशन मूव्स लगाने की कोशिश की।

अंत में तीनों जजों ने कनूनीकोव के पक्ष में फैसला सुनाया, जिससे उनका रिकॉर्ड 13-2 का हो गया है।

हुओ ने मेहदी को हराकर सबको प्रभावित किया

चीनी स्ट्राइकर हुओ शाओलोंग ने 128-पाउंड कैचवेट किकबॉक्सिंग मैच में सेयेद मेहदी के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया।

27 वर्षीय साउथपॉ (बाएं हाथ के) एथलीट ने शानदार फुटवर्क, स्पीड और अनोखी स्ट्राइक्स के बलबूते ईरानी एथलीट को डोमिनेट किया। इस बीच उन्होंने तीनों राउंड्स में एक-एक नॉकडाउन स्कोर किया था।

एकतरफा अंदाज में हुए अटैक के कारण तीनों जजों ने उनके पक्ष में फैसला सुनाया।

अपने प्रोमोशनल डेब्यू में बड़ी जीत दर्ज कर उन्होंने अपने प्रोफेशनल रिकॉर्ड को 31-7 पर पहुंचा दिया है।

जोमहोद ने अपने ONE डेब्यू में गिलेनबर्ग को झकझोरा

जोमहोद ऑटो मॉयथाई ने 118-पाउंड कैचवेट मॉय थाई मुकाबले में अपना प्रोमोशनल डेब्यू किया, जहां उन्होंने डेनियल गिलेनबर्ग पर दूसरे राउंड में तकनीकी नॉकआउट से जीत हासिल की।

पूर्व Rajadamnern Stadium मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन ने पहले राउंड में स्ट्रेट लेफ्ट और राइट एल्बो लगाकर अपने विरोधी को 2 बार नॉकडाउन किया था।

वहीं दूसरे राउंड में 34 वर्षीय एथलीट ने ज्यादा आक्रामक रुख अपना कर अटैक किया। उन्होंने अपने विरोधी के गाल के हिस्से पर लेफ्ट एल्बो लगाकर उन्हें झकझोरा और इसी स्ट्राइक ने उनकी दूसरे राउंड में 1 मिनट 5 सेकंड के समय पर जीत सुनिश्चित की।

अब जोमहोद का स्ट्राइकिंग रिकॉर्ड 196-58-5 पर पहुंच गया है।

ओरोज़ाकुनोव ने MMA मुकाबले में चीमा को मात दी

इवेंट के पहले MMA मुकाबले में किर्गिस्तानी एथलीट सलामत ओरोज़ाकुनोव और पाकिस्तान के फुरकान चीमा आमने-सामने आए। इस वेल्टरवेट मैच में 3 राउंड्स तक उनके बीच कांटेदार टक्कर देखने को मिली।

मैच में शुरू से लेकर अंत तक ओरोज़ाकुनोव की बॉक्सिंग और पंचों की स्पीड ने सबको प्रभावित किया।

उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी को जैब्स और दमदार राइट हैंड्स लगाकर खुद से दूर रखा। वहीं दूसरे और तीसरे राउंड में लगातार पंच लगाते हुए “द लॉयन” को लड़खड़ाने पर मजबूर किया।

32 वर्षीय एथलीट के शानदार प्रदर्शन ने उन्हें सर्वसम्मत निर्णय से जीत दिलाई और ये उनकी ONE में पहली जीत भी रही।

सादेघी की ताकत के सामने इलियास ने हार मानी

मोहम्मद सादेघी की दमदार लेफ्ट किक्स ने एक बार फिर उनके मैच में बड़ा अंतर पैदा किया। ईरानी स्ट्राइकर ने इलियास गज़ाली पर जीत दर्ज करते हुए अपने ONE रिकॉर्ड को 2-0 पर पहुंचाया।

फ्लाइवेट मॉय थाई स्ट्राइकर्स के बीच शुरुआत से कांटेदार टक्कर देखने को मिली, लेकिन सादेघी की सटीकता, ताकत, राउंडहाउस किक्स और लेफ्ट पुश किक्स के बीच मिश्रण करने की काबिलियत ने उन्हें मलेशियाई-अमेरिकी प्रतिद्वंदी पर बढ़त दिलाई।

इस जीत से Tiger Muay Thai टीम के स्टार का रिकॉर्ड 12-1 का हो गया है।

किकबॉक्सिंग में और

Jonathan Di Bella Danial Williams ONE Fight Night 15 73 scaled
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 142
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 59
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 137
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE 167 78
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 11
Rodtang Jitmuangnon Edgar Tabares ONE Fight Night 10 36
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 21 scaled
Superlek Kiatmoo9 Rodtang Jitmuangnon ONE Friday Fights 34 80
Kompet Fairtex Kongchai Chanaidonmueang ONE Friday Fights 58 10
Tawanchai PK Saenchai Superbon Singha Mawynn ONE Friday Fights 46 48 scaled
MasaakiNoiri Champ 1200X800