स्टैम्प 3-स्पोर्ट वर्ल्ड चैंपियन बनने के लिए हैम से भिड़ेंगी – ‘इतिहास रचने के लिए प्रतिबद्ध हूं’

Stamp Fairtex Alyse Anderson ONE Fight Night 10 59

स्टैम्प फेयरटेक्स ने ONE Championship में बहुत सफलता हासिल की है, लेकिन थाई सनसनी शनिवार, 30 सितंबर को ऐसा काम कर सकती हैं, जो आज तक कोई भी नहीं कर पाया है।

पूर्व ONE विमेंस एटमवेट किकबॉक्सिंग और मॉय थाई वर्ल्ड चैंपियन का सामना ONE Fight Night 14 के मेन इवेंट में हैम सिओ ही से होगा और वो तीन खेलों में वर्ल्ड चैंपियनशिप जीतने वाली पहली एथलीट बन सकती हैं।

हालांकि स्टैम्प 2021 में वर्ल्ड ग्रां प्री सिल्वर बेल्ट जीतकर MMA में अपनी काबिलियत को साबित कर चुकी हैं। थाई एथलीट सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में दक्षिण कोरियाई दिग्गज को हराने के लिए अपने खेल को स्तर को जरूर बढ़ाएंगी।

इस बात को ध्यान में रखकर 25 वर्षीय स्टार ONE अंतरिम विमेंस एटमवेट MMA वर्ल्ड टाइटल जीतने के मौके को किसी भी हाल में खाली नहीं जाने देंगी।

उन्होंने onefc.com को बताया:

“ये फाइट मेरे लिए बहुत मायने रखती है। अगर मैं जीती तो पहली 3-स्पोर्ट ONE वर्ल्ड चैंपियन बन जाऊंगी, जो अभी तक कोई नहीं कर पाया है। मैं इतिहास रचने के लिए प्रतिबद्ध हूं।”

लंबे समय से डिविजन की चैंपियन एंजेला ली ने अभी अपने भविष्य को लेकर कोई फैसला नहीं लिया है, ऐसे में #1 और #2 रैंक की कंटेंडर अंतरिम चैंपियनशिप हासिल करने के लिए भिड़ेंगी।

स्टैम्प के दिमाग में इतिहास रचने की बात चल रही होगी। लेकिन वो किसी भी हाल में अपनी प्रतिद्वंदी को हल्के में लेने की गलती नहीं करेंगी क्योंकि वो 9 मैचों में लगातार जीत हासिल कर चुकी हैं।

भले ही “हैमज़ैंग” को MMA में अपनी प्रतिद्वंदी से 22 फाइट्स का ज्यादा अनुभवी भी हो, लेकिन Fairtex टीम की प्रतिनिधि मानती हैं कि ये चीज जीत की कोई गारंटी नहीं है।

स्टैम्प ने कहा:

“हैम सिओ ही बहुत मजबूत फाइटर हैं।

“मैं मानता हूं कि हैम इस खेल में अच्छी हैं, लेकिन मैं अपने क्षेत्र (स्ट्राइकिंग) में उनसे बेहतर हूं। देखते हैं कि रिंग में कौन ज्यादा बेहतर होगा।”

स्टैम्प का मानना है कि उनके मॉय थाई हथियार हैम के खिलाफ नॉकआउट जीत दिलाएंगे

स्टैम्प फेयरटेक्स और हैम सिओ ही के मैच का फैंस बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

स्टैम्प ने मॉय थाई में अपना जीवन बिताया है और बाद में MMA स्किल्स सीखीं। वहीं हैम किकबॉक्सिंग के बैकग्राउंड के साथ इस खेल में आईं और जल्द ही बड़ी सुपरस्टार बन गईं।

दोनों ही प्रतियोगियों के पास टॉप पर पहुंचने के लिए खास हथियार मौजूद हैं और उनका 30 सितंबर को होने वाला मुकाबला जबरदस्त साबित हो सकता है।

स्टैम्प ने इस बारे में कहा:

“हैम की सबसे बड़ी ताकत उनका सटीक लेफ्ट हैंड है। वो पंचों का इस्तेमाल करते हुए टेकडाउन या बॉडी लॉक के लिए जाती हैं। उनकी कमजोरी? मेरा मानना है कि वो अपनी प्रतिद्वंदियों को फिनिश करने में हिचकिचाती हैं। वो फैसले नहीं ले पातीं।

“वो किकबॉक्सिंग से आती हैं और मैं मॉय थाई से, जिसका मतलब है कि उनका फुटवर्क मुझसे बेहतर हो सकता है। लेकिन मेरे पास उनसे ज्यादा हथियार हैं। मेरे पास पंच, किक्स, नीज़ और एल्बोज़ हैं।

“मैं नजदीक आकर अटैक करने के मामले में उनसे बेहतर हूं। अगर वो ओपनिंग देती हैं तो मैं उन्हें एल्बो से फिनिश कर सकती हूं।”

इस बारे में सोचते हुए स्टैम्प को लगता है कि “हैमज़ैंग” मुकाबले को ग्राउंड पर लेकर जा सकती हैं।

Fairtex टीम की स्टार को लगता है कि वो अपनी काबिलियत के दम पर मैच को स्टैंड-अप में रख सकती हैं, जहां उनके पास बाउट को खत्म करने का अच्छा मौका होगा।

मगर जरूरत पड़ने पर वो दक्षिण कोरियाई एथलीट का पूरे राउंड्स में सामना करने के लिए भी तैयार हैं।

स्टैम्प ने कहा:

“मेरे मुताबिक उनका गेम प्लान मुझे आकर पंच लगाने और फिर ग्राउंड पर ले जाने पर होगा। मैं अपनी स्ट्राइकिंग पर फोकस करूंगी और प्रयास रहेगा कि टेकडाउंस से बच सकूं।

“संभव हुआ तो मैं नॉकआउट से जीतना चाहूंगी क्योंकि मुझे बोनस जीतने की उम्मीद है। मैं चाहती हूं कि लोग देखें कि मैं हैम को नॉकआउट कर सकती हूं।

“लेकिन हकीकत में, हैम बहुत मजबूत हैं। मेरी सोच है कि मैं निर्णय से जरिए जीत सकती हूं।”

न्यूज़ में और

Danielle Kelly Jessa Khan ONE Fight Night 14 2 scaled
Nakrob Fairtex Tagir Khalilov ONE Friday Fights 67 40
Tagir Khalilov Yodlekpet Or Atchariya ONE Friday Fights 41 22 scaled
Tagir Khalilov Yodlekpet Or Atchariya ONE Friday Fights 41 47 scaled
Ritu Phogat
Tye Ruotolo Izaak Michell ONE Fight Night 21 64
Nakrob Fairtex Muangthai PK Saenchai ONE Friday Fights 10
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 14
Kade Ruotolo Blake Cooper ONE 167 69
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 59
Tawanchai Beats SmokingJo 1920X1280
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 11