सलाह

कैसे अपने बच्चों के लिए सही मार्शल आर्ट्स क्लास का चुनाव करें

अपने बेटे-बेटी के लिए मार्शल आर्ट्स की क्लास चुनना काफी मुश्किल काम हो सकता है।

सबसे पहला सवाल आपके दिमाग में आएगा कि आपके बच्चे के लिए सबसे अच्छा मार्शल आर्ट्स कौन-सा रहेगा, लेकिन इसके अलावा भी कई सारी चीज़ें ध्यान रखनी होती है। ये देखना जरूरी रहता है कि क्या स्कूल अच्छे प्रशिक्षक ढूंढ पता है या नहीं।

अपने बच्चों के लिए मार्शल आर्ट्स क्लास चुनने के पहले इन चीज़ों का ध्यान जरूर रखना चाहिए।

स्कूल में सुरक्षा के मापदंड़

Bruno Pucci teaches kids at Evolve MMA

मातापिता हमेशा ही अपने बच्चे की सुरक्षा और सलामती की चिंता करते हैं।

बच्चों को उन्हीं जिम में डालना चाहिए जहां मैट्स, शिन गार्ड्स, हेडगियर, फर्स्ट एड किट और अन्य सुरक्षा सामान उपस्थित हों।

सबसे जरूरी ये है कि स्टाफ को आपातकालीन स्थिति का सामना करना आना चाहिए। ज्यादातर जिम के स्टाफ सदस्य फर्स्ट एड (प्राथमिक उपचार) या CPR की ट्रेनिंग लेते हैं लेकिन हमेशा उनका सर्टिफिकेट देखने की मांग करनी चाहिए।

आप जिम जा सकते हैं और देख सकते हैं कि इंस्ट्रक्टर किस प्रकार से ट्रेनिंग देते हैं। इसके अलावा खुद से पूछिए कि क्या ट्रेनर मेरे बच्चे के लिए सही माहौल बनाए रख रहा है?

इंस्ट्रक्टर का बच्चों के साथ रिश्ता

ONE Championship athlete Shannon Wiratchai teaches a child how to wear a focus mitt

हमेशा ऐसे जिम और प्रशिक्षकों को देखें जो नतीजे से ज्यादा कोशिश पर जोर दें।

मार्शल आर्ट्स सीखने से आपके बच्चों में आत्म सम्मान बढ़ेगा, लेकिन ये चीज़ उसी समय संभव है जब शिक्षक बच्चों के प्रयासों को स्वीकारें।

प्रशिक्षक के पास भले ही जिम का सारा ज्ञान हो, लेकिन क्या वो बच्चों का ध्यान अपनी ओर खींच सकते हैं? आपका बच्चा जिम में ज्यादा समय सीखना और ठहरना चाहेगा, जब उनका प्रशिक्षक के साथ अच्छा तालमेल हो।

ONE Championship के बेंटमवेट एथलीट रदीम रहमान ने सलाह दी है कि मातापिता को अपने बच्चों को पहले ट्रायल सेशन में डालना चाहिए।

उन्होंने कहा, पहले क्लास के हाल पर नजर डालिए और देखिए कि वो आपके बच्चे के साथ किस प्रकार से बात करते हैं। क्या कोई ऐसा व्यक्ति है जिसे आप अपने बच्चे को सौंपने में डरते नहीं हैं? सबसे अच्छा जवाब तो ये रहेगा कि वहां खूद उपस्थित रहा जाए।

क्लास की संरचना

Ken Lee teaches children at United MMA

देखें कि मार्शल आर्ट्स की क्लास खासतौर पर बच्चों के लिए डिजाइन की गई हो।

हर मातापिता की अपने बच्चे को मार्शल आर्ट्स की क्लास में डालने की कोई बड़ी वजह और प्रेरणा होती है। अपने बच्चों के लिए लक्ष्य सोचें और फिर देखें कि क्या जिम उन्हें अपना लक्ष्य पूरा करने में मदद कर सकता है।

रहमान मातापिता को ये भी बताना चाहते हैं कि एक जैसी मार्शल आर्ट्स की क्लास को अलगअलग चीज़ों के लिए उपयोग किया जा सकता है।

उन्होंने समझाया, उदाहरण के लिए जिउजित्सु को लीजिए, इसे सीखने के दो अलगअलग कारण हो सकते हैंएक प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए हो सकता है वहीं दूसरा खुद के बचाव (सेल्फ डिफेंस) के लिए हो सकता है।” 



“ये देखने की कोशिश भी करें कि क्लास के दौरान थ्रो करने की तकनीक सिखाई जाती है? आपके बच्चे के गोल को लेकर ही सही या गलत तरीके का पता चल सकता है।”

क्लास की संख्या का भी ध्यान रखें। अगर संख्या ज्यादा है तो आपका बच्चा अकेलापन या अलग महसूस कर सकता है, खासकर जब वो दूसरों से पीछे रह जाए।

ये जानना आवश्यक है कि क्लास की बनावट आपके बच्चे की जरूरत के आधार पर हो और इससे आपके बच्चे को मानसिक रूप से शांति मिले।

सही प्रकार के सवाल

Angela Lee, Christian Lee, and Ken Lee teach kids at United MMA

अगर आपको अपने बच्चों के लिए मार्शल आर्ट्स स्कूल के सही या गलत होने का डर है तो अच्छा विकल्प होगा कि आप सवालों की एक सूची तैयार कर लें जो आप प्रशिक्षक से पूछ सकें।

अगर आप किसी एक प्रशिक्षक के बारे में जानना चाहते हैं तो उस जिम की वेबसाइट पर जाने से आपको विशेषताओं के बारे में जानकारी मिल सकती है लेकिन इससे आपको पता नहीं चलेगा कि वो किस प्रकार के शिक्षक हैं।

जिम के मालिक से बात करें और शिक्षकों के साथ एक मीटिंग बुलाएं। इससे आपको पता चल जाएगा कि वो किस प्रकार से बच्चों के साथ काम करते हैं।

उनके ज्ञान और अनुभव के बारे में पूछें। उनसे पूछें कि वो कब से सिखा रहे हैं। जानिए कि क्या आपके बच्चे उस प्रकार ध्यान पा रहे हैं, जैसा उन्हें मिलना चाहिए। पूछिए कि क्लास में कितने बच्चे हैं और एक क्लास में कितने प्रशिक्षक रहेंगे।

इन सारे प्रश्नों के जवाब आपकों बता देंगे कि क्या ये मार्शल आर्ट्स की क्लास आपके बच्चे के लक्ष्यों को पूरा करने में मदद करेंगे या नहीं।

तालमेल का स्तर

Ann Osman engages with children in Malaysia

अगर प्रशिक्षक क्लास को रोमांचक और हास्य से जुड़ी हुई बना सकता है तो बच्चे सीखने के लिए और भी ज्यादा उत्सुक रहेंगे।

आपके विजिट पर क्लास पर नजर जरूर रखें। क्या क्लास में बैठे बच्चों को मजा आ रहा है? क्या उनका तालमेल सही हैं?

अगरहांतो आप निश्चिंत रह सकते है कि आपके बच्चे का समय अच्छा बीतेगा और वो हर एक सिखाई हुई चीज़ का ध्यान रखेगा।

ये भी पढ़ें: आपके बच्चों के लिए 5 सर्वश्रेष्ठ मार्शल आर्ट्स