लाइफ स्टाइल

डेब्यू मैच में युवा सुपरस्टार्स के लिए एंजेला ली की 5 टिप्स

मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट्स की एक नई पीढ़ी तैयार हो रही है जो या तो अपना प्रोफेशनल डेब्यू करने के लिए तैयार हैं या अपना एमेच्योर डेब्यू करने वाले हैं और पहली बार केज या रिंग में उतरना किसी भी एथलीट के लिए बेहद खास लम्हा होता है। ये एक ऐसा भी लम्हा होता है जहाँ अक्सर भावनाएँ आप पर हावी हो जाती हैं।

ONE विमेंस एटमवेट वर्ल्ड चैंपियन “अनस्टॉपेबल” एंजेला ली भी मई 2015 में इसी दौर से गुजरी थीं और ONE: WARRIOR’S QUEST में अपने पहले मैच में उनका सामना आया सेबर से हुआ था। सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में मौजूद हजारों फैंस और लाइव प्रसारण देख रहे लाखों लोगों के सामने धमाकेदार प्रदर्शन किया और मिस्र की एथलीट को पहले ही राउंड में आर्मबार लगाते हुए हराया था।

ली के करियर का ये यादगार लम्हा रहा। कुछ ही महीनों में वो एमेच्योर लेवल से प्रोफेशनल लेवल पर पहुँच गई थीं। उनके पिता और United MMA में उनके हेड कोच रहे केन ली ने उन्हें अपने पहले बड़े इवेंट के लिए तैयारी करने में मदद की थी।

ली ने माना, “परेशानी और उत्सुकता कभी आपका पीछा नहीं छोड़ती। हर मैच से पहले एथलीट्स को इस परिस्थिति से गुजरना होता है। लेकिन उस समय मेरे ऊपर दबाव अत्यधिक था क्योंकि वो मेरे लिए एक अलग ही अनुभव था और साथ ही मुझे उत्सुकता भी हो रही थी।”

“मेरे पिता मुझसे लगातार यही कह रहे थे कि, ‘एंजेला ये कोई अलग चीज नहीं है, केज में उतरने के बाद आपको ये महसूस करना है कि ये तुम्हारे पहले मैचों की ही तरह एक होने वाला है।'”

अब ऐसे कई मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स स्टार्स हैं जो अपना डेब्यू करने का इंतज़ार कर रहे हैं, इसलिए “अनस्टॉपेबल” ने उन युवाओं की मदद के लिए ऐसे 5 तरीके साझा किए हैं जिनसे वो अपने डेब्यू मैच के लिए खुद को तैयार कर सकते हैं।

Angela Lee

#1 फाइट का अनुमान लगाएं

खुद पर भरोसा होना और फाइट किस तरह आगे बढ़ेगी, इसका पता लगाना सबसे अहम पहलू होता है जिससे आप अपनी बॉडी और मानसिक स्थिति के बीच संतुलन बैठाने में सफल हो सकते हैं। इससे ना केवल आपकी सकारात्मकता को बढ़ावा मिलेगा बल्कि आत्मविश्वास भी बढ़ता है। इससे एथलीट्स को कठिन परिस्थितियों का सामना करने के लिए मानसिक मजबूती मिलती है और बेहतर गेम प्लान तैयार करने में भी।

ली ने कहा, “अनुमान लगाना हर एक फाइटर के लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है और हर किसी को ये करना चाहिए। मैं आने वाले मैचों के लिए इसी बात को ध्यान में रख खुद को तैयार करती हूँ कि मेरा गेम प्लान क्या होने वाला है।”

“मैं उन सभी तरीकों के बारे में सोचती हूँ जिनसे मैं मैच को फिनिश कर सकती हूँ, हर उस स्थिति के बारे में सोचती हूँ जिनसे मुझे गुजरना पड़ सकता है, फिर चाहे वो अच्छी हो या बुरी। इसलिए मैं मैच से पहले हर स्थिति के बारे में बहुत सोचती हूँ।”

#2 नियमों का पता होना

हर मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स कंपनी के अपने कुछ नियम होते हैं। जैसे कुछ जगहों पर हम एल्बो का प्रयोग नहीं कर सकते। नियम हर कंपनी के हिसाब से अलग हो सकते हैं इसलिए किसी मैच से पहले नियमों के बारे में जानना बेहद जरूरी होता है।

ली ने बताया, “आप जिस कंपनी से जुड़े हैं आपको उसके हर नियम के बारे में पता होना चाहिए क्योंकि हर कंपनी अलग होती है। ONE में नियम हर भारवर्ग के साथ बदल सकते हैं इसलिए आपको इस पहलू को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए।”

“पता लगाएं कि आप किस फाइटर का सामना करने वाले हैं। हालांकि, फाइट वाले सप्ताह के दौरान आपके साथी जरूर कुछ जानकारी आपको मुहैया कराएंगे लेकिन किसी भी एथलीट को अपने प्रतिद्वंदी के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी का पता लगाना हमेशा बेहतर होता है।”

ONE Women’s Atomweight World Champion Angela Lee

#3 मानसिक रूप से मजबूत रहें

अधिकतर मिक्स्ड मार्शल आर्टिस्ट्स कहते हैं कि ये स्पोर्ट 90 प्रतिशत तक आपकी मानसिक मजबूती पर निर्भर करता है और मौजूदा चैंपियन भी इस बात से सहमत हैं क्योंकि किसी एथलीट का मानसिक रूप से मजबूत रहना बेहद जरूरी होता है। एक अन्य पहलू ये भी होता है कि आप अपनी भावनाओं को काबू में रखें।

“खासतौर पर जब बात डेब्यू की आती है तो एक एथलीट का मानसिक रूप से मजबूत होना जरूरी होता है। मैं अपने डेब्यू में सभी का ध्यान अपनी ओर खींचना चाहती थी और इसी पर मैंने ज्यादा ध्यान दिया। भावनाएं भी इस दौरान बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं क्योंकि आपका दिमाग ही आपकी बॉडी को कंट्रोल करता है और मैच में आप कैसा प्रदर्शन करने वाले हैं इसका सीधा असर दिमाग पर सबसे पहले पड़ता है।

“अगर मुझे एक वाक्य में इस स्थिति को बताना हो तो मेरे पिता मुझसे कहा करते थे, ‘दूसरों को अपने प्रदर्शन से पहली नजर में इम्प्रेस करने के लिए आपके पास केवल एक ही मौका होता है’ और यही चीज आज भी मुझसे जुड़ी हुई है। मुझे एहसास हुआ कि उनके शब्द बिल्कुल सही थे क्योंकि ये पहली बार है जब लोग मुझे देख रहे होंगे और यहीं से उनके दिमाग में मेरी एक छवि बन जाएगी इसलिए मुझे इस मौके का पूरा फायदा उठाना है।”

#4 एकाग्रता बनाए रखें

एक तरफ एथलीट वॉर्म-अप कर रहे होते हैं, कुछ मैच के बाद मेडिकल परीक्षा से गुजर रहे होते हैं और अधिकारी शो को बिना कोई रोक-टोक चलाए रखने पर ध्यान देते रहते हैं इसलिए बैकस्टेज का वातावरण काफी अराजक हो सकता है। आपके चारों ओर इतनी चीजें हो रही होती हैं इसलिए अपने दिमाग को एक जगह पर केंद्रित रख पाना बेहद जरूरी होता है।

“लॉकर रूम में बहुत सी चीजें घटित हो रही होती हैं। काफी सारे एथलीट और उनके कोच और ट्रेनर लगातार अपना-अपना गेम प्लान तैयार कर रहे होते हैं इसलिए कभी-कभी दिमाग को एक जगह पर केंद्रित रख पाना आसान नहीं होता। इस दौरान मैं अपने हेडफोन लगाकर म्यूजिक सुनना पसंद करती हूँ जिससे लॉकर रूम के उस वातावरण से दूर रह सकूं।

“उसके बाद मैं उस परिस्थिति पर अपना ध्यान केंद्रित करती हूँ। जैसे, ‘यहाँ सभी एक ही तो चीज करने आए हैं, आपको फाइट करनी है, गेम प्लान को याद रखना है और दिमाग में जो भी दूरी चीजें हैं उन्हें दूर रखें।'”

ONE Women’s Atomweight World Champion Angela Lee

#5 एंजॉय करें और जीत दर्ज करने पर ध्यान दें

आमतौर पर युवा एथलीट्स के दिमाग में एकसाथ कई सारी चीजें चल रही होती हैं, वो इस बारे में ना सोचें कि आगे क्या होने वाला है। पहली बार केज में उतरने वाले मोमेंट को उन्हें एंजॉय करना चाहिए जिससे जीत दर्ज करने में मदद मिल सके।

उन्होंने कहा, “लॉकर रूम में आपके दिमाग में जो भी दूसरी चीजें घूम रही होती हैं उन्हें दूर रखने की कोशिश करें और शांत स्वभाव बनाए रखें। लेकिन जैसे ही आप केज की तरफ का रुख करते हैं तो सबसे अच्छी चीज यही होगी कि आप उस मोमेंट को एंजॉय करें। वो काफी अच्छा अनुभव होता है क्योंकि अधिकतर लोगों को ये सब करने का मौका नहीं मिलता हो हम करते हैं।

हालांकि वो दोहराते हुए ये भी कहती हैं, “मोमेंट को एंजॉय करें लेकिन एंजॉय के साथ-साथ जीत पर भी ध्यान दें।”

ये भी पढ़ें: ONE वर्ल्ड चैंपियन एंजेला ली ने 2020 के लिए अपने लक्ष्य गिनाए