विशेष कहानियाँ

ONE: ड्रीम्स ऑफ गोल्ड की प्रमुख 6 हाइलाइट्स

अगस्त 18, 2019

ONE Championship ने थाइलैंड के बैंकॉक स्थित इम्पैक्ट एरिना में एक शानदार इवेंट का आगाज किया और यह पूरी तरह से दमदार एक्शन से भरा हुआ रहा।

ONE: ड्रीम्स ऑफ गोल्ड पर दुनिया के कुछ बेहतरीन मार्शल आर्ट कलाकारों ने मुवा थाई, किकबॉक्सिंग और मिक्स्ड मार्शल आर्ट शानदार प्रदर्शन किया और विश्व चैम्पियनशिप गोल्ड अपने नाम किया। इसके अलावा दो हीरोज ने विश्व ग्रांड प्रिक्स के फाइनल स्पॉट के लिए जगह बनाई।

इवेंट में हुई 14-बाउटों में सबकुछ देखने को मिला। इसमें नॉकआउट, सबमिशन, दर्शकों को रोमांचित करने वाली फाइट व आश्चर्यचकित कर देने वाले एक्शन शामिल रहे।

हालांकि इन 14 बाउट्स में शीर्ष को निकलना बहुत मुश्किल था, लेकिन फिर भी यहां उन शीर्ष 6 फाइटों के बारे में बताया जा रहा है। जिन्हें दर्शक लम्बे समय तक नहीं भूल पाएंगे।

# 1 एन्नाहाची ने शानदार फिनिश के साथ पेचडम से छीना गोल्ड

“द बेबी शार्क” पेट्च्डम पेट्चींडी अकादमी नॉकआउट हीरो की प्रतिष्ठा के साथ अपने पहले ONE फ्लाईवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड टाइटल का बचाव करने उतरे थे, लेकिन इलियास एन्नाहाची ने शानदार फिनिश के साथ बाउट को खत्म करते हुए उनसे गोल्ड छीन लिया।

डच चैलेंजर अपने थाई प्रतिद्वंद्वी से डरे बिना आगे बढ़े और बाउट पर पहले दौर से ही अपना प्रभाव जमा लिया। पेचडम को दूसरे राउंड में अपने ताकतवर प्रहारों से लड़खड़ाने पर मजबूर कर दिया। इस दौर में वह बमुश्किल इलियास के हमलों से बच पाए, लेकिन एसबी जिम के प्रतिनिधि ने तीसरे राउंड में अपने बेहतरीन हुक से हमला करते हुए उन्हें बचने का मौका नहीं दिया।

एन्नहाची ने पेट्च्डम को चकित करने के लिए अपनी ताकत और तीव्रता का उपयोग किया और फिर एक छोटे से ओवरहैंड के साथ क्लब किया। जिसने उन्हें घुटनों पर ला दिया। इस दौरान वहां दोनों के बीच संघर्ष चला, लेकिन एन्नहाची ने डिफेंडिंग वर्ल्ड चैंपियन को लगभग बुसुध सा कर दिया।

जब वह अपने पैरों पर फिर से खड़े हुए तो यूट्रेक्ट के आदमी ने बॉक्सिंग संयोजनों के साथ सिर और शरीर कई हमले किया और जब तक जारी रखे तब तक वह परास्त नहीं हो गए।

# 2 “द डॉक्टर” ने पहले राउंड के केओ के साथ फाइनल में की जगह पक्की

जियोर्जियो “द डॉक्टर” पेट्रोसियन ने “स्मोकीन” जो नटावट पर पहले दौर की नॉकआउट जीत के साथ ONE फ़ेदरवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड ग्रांड प्रिक्स चैम्पियनशिप के फाइनल में अपना टिकट पक्का कर लिया।

उन्होंने अपने मजबूत हाथों से “स्मोकिन” जो नटावट को खड़ा किया और फिर एक सीधी बाईं ओर पिस्टन के साथ कदम रखा। नटावट ने अपनी ठोड़ी पर उनका दमदार वाल झेला। इस दौरान वह कैनवास पर गिर गए और रैफरी के 10 तक की गिनती करने तक खुद को बचाने में असमर्थ रहे।

इस जीत ने उन्हें सामी “एके 47” सना के खिलाफ इतिहास के सबसे बड़े किकबॉक्सिंग टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश दिला दिया। सना ने शाम को पहले सेमीफानल में एक प्रभावी फैसले से डझाबर “चंगेज खान” अस्केरोव को मात दी थी।

# 3 मिश्रित मार्शल आर्ट्स में स्टाम्प का जलवा

टू-स्पोर्ट ONE वर्ल्ड चैंपियन स्टाम्प फेयरटेक्स किकबॉक्सिंग और मुवा थाई में अपनी सफलता के कारण पहले से ही सुपरस्टार है, लेकिन अपने हमवतन के सामने उसने मिक्स्ड मार्शल आर्ट में भी सोने की तलाश शुरू की थी।

पटाया निवासी 21 वर्षीय फेयरटेक्स ने आशा “नॉकआउट क्वीन” रोका के खिलाफ अपने ताकवर पंच व दमदार मूव्स का संयोजन दिखाया, लेकिन उनका ग्राउंड खेल वाकई देखने लायक था।

स्टाम्प अभी भी जूझने के लिए एक नई एथलीट है, लेकिन उसने हार्ड ग्राउंड और पाउंड को जमीन पर उतारने के लिए कई अलग-अलग सबमिशन का प्रयास किया और अंत में एक रियर-नैक चोक लगा दिया।

उन्हें वर्ल्ड टाइटल अभी भी एक लंबा रास्ता तय करना है और अधिक से अधिक परीक्षण कराना है, लेकिन वह एक ऐतिहासिक तीसरे बेल्ट में अपने रन पर शानदार शुरुआत करने के लिए उतर गई है।

# 4 ले का लगातार दूसरा नॉकआउट

The Home Of Martial Arts में थान ले की पहली जीत अविश्वसनीय थी, और उन्होंने बैंकॉक में अपने रिज्यूम में एक और इजाफा किया।

कोतेत्सु “नो फेस” बोकू ने वियतनामी-अमेरिकी को निशाने पर लिया क्योंकि उन्होंने एक लेफ्ट बॉडी किक फेंकी थी, लेकिन जापानी एथलीट अपने पंच पर हावी हो गया और खुद को पोजीशन से बाहर कर दिया।

जैसा कि ले ने अपनी किक को वापस ले लिया, वह बाईं ओर से चूक गया, लेकिन फिर उसका दाहिना हाथ पूर्व ONE लाइटवेट वर्ल्ड चैंपियन के जबड़े में जा टकराया और वह कराहने लग गए। मैदान पर इस अंतिम पंच ने सिर्फ 88 सेकंड के बाद ही बाउट को खत्क कर दिया।

# 5 “ड्रैगन बॉय” ने अपनी छाप छोड़ने में नहीं किया समय बर्बाद

रियूटो “ड्रैगन बॉय” सवादा ने रिच फ्रेंकलिन की ONE वारियर सीरीज़ से अपनी स्नातक स्तर की पढ़ाई के बाद मार्शल आर्ट के लिए वैश्विक मंच पर अपनी पहली उपस्थिति दर्ज की, और उन्होंने शो पर अपनी छाप छोड़ दी।

जापान के 23 वर्षीय खिलाड़ी ने अज़ीज़ “द क्रूसर” कालिम ने पहले राउंड के 69वें सैकंड में तेजी से बाउट खत्म कर अपनी जीत की दौड़ को जारी रखा।

कालिम ने जापानी स्टार को चारो ओर भगाया, और खुद को खुला छोड़ दिया। इससे सवादा ने एक आसान जीत हासिल की। 69सेकंड के भीतर उन्होंने माउंट किया और फिर सवादा ने रियर नैक चोक कर आसनी से जीत हासिल कर ली।

# 6 रमाज़ानोव की दिखाई पंचिंग पावर

तीन बार के आईएफएमए मुवा थाई विश्व चैंपियन अलावर्दी “बेबीफेस किलर” रामज़ानोव प्रारंभिक कार्ड पर अपनी बैंटमवेट मुवा थाई बाउट में ओग्नजेन टॉपिक के खिलाफ फिनिश की खोज में सफल रहे।

टॉपिक अपने आप में एक टिकाऊ और अनुभवी विश्व चैंपियन है, लेकिन रमाजानोव ने पहले ही राउंड में उन्हें तीन बार कैनवास पर पटक दिया।

रूसी नॉकआउट कलाकार को पहला मौका उस समय मिला जब सर्बियाई-अमेरिकी ने उसके किक को पकड़ लिया, और उसने उसे नीचे रखने के लिए कठोर दाहिने हाथ का उपयोग किया। उन्होंने दूसरे मौके के लिए एक शक्तिशाली क्रॉस-हुक का वार किया और आखिरकार जब उन्होंने एक किक के साथ संघर्ष किया और बटन पर दाहिने हाथ से एक और हमला किया तो उन्होंने अपनी जीत पक्की कर ली।