विशेष कहानियाँ

मूवा थाई ने दुश्मनों पर काबू पाने में की पोंगसिरी मित्सातित की मदद

जुलाई 31, 2019

पोंगसिरी “द स्माइलिंग असासिन” मित्सातित ONE Championship के स्ट्रॉवेट डिवीजन में एक शीर्ष दावेदार के रूप में सामने आए हैं।

23 वर्षीय मित्सातित ने अपने मिक्स्ड मार्शल आर्ट करियर में मूवा थाई स्ट्राइकिंग का बेहद शानदार तरीके से उपयोग किया है और यदि वह 2 अगस्त, शुक्रवार को फिलीपींस के मनीला में ONE: डॉन ऑफ हीरोज में चीनी पावरहाउस ली ताओ को हरा देते हैं तो वर्ल्ड पॉवर पिक्चर में सेंध लगा सकते हैं।

मित्सातित The Home Of Martial Arts के उभरते हुए सितारे बनने से पहले बचपन में बहुत अधिक शैतानियां करते थे।

Pongsiri Mitsatit sends Bangkok into a frenzy with an ELECTRIFYING knockout at 3:05 of Round 1!

???????? "The Smiling Assassin" is BACK ????????Pongsiri Mitsatit sends Bangkok into a frenzy with an ELECTRIFYING knockout at 3:05 of Round 1!Watch the full event on the ONE Super App ???? http://bit.ly/ONESuperApp | TV: Check local listings for global broadcast

Posted by ONE Championship on Friday, May 10, 2019

चियांग माई के उत्तरी थाई प्रांत में में पले बड़े मित्सातित के परिवार को बहुत कम लोग जानते थे। उनके माता-पिता किसान थे, लेकिन वे बमुश्किल ही मिल पाते थे। युवा मित्सातित जब मौका मिलता अपने परिवार की मदद जरूर करते थे। उन्हें खेत का काम कठिन होने के बाद भी स्कूली जीवन उससे ज्यादा मुश्किल लगता था।

अपने गाँव के अन्य बच्चों की तरह वह भी प्रतिदिन सुबह जल्दी उठते और स्कूल जाने की तैयारी करते थे। हालाँकि, कक्षा में उनका का समय चुनौतीपूर्ण था, क्योंकि छोटे कद के कारण उनके कुछ साथी छात्र उन्हें चिढ़ाते थे।

वह याद करते हुए बताते हैं कि “मैं अपनी कक्षा में सबसे छोटा था। मुझे बहुत सारे बच्चे परेशान करते थे। वो हमेशा मुझे धक्का देते थे, और कभी-कभी मारपीट भी करते थे। मुझे बहुत गुस्सा आता था, लेकिन सबसे छोटा होने के कारण कुछ नहीं कर पाता था।”

“जब मुझे परेशान किया जाता था तो मैं आत्मरक्षा की विधा सीखना चाहता था और ताकतवर बनना चाहता था। मेरे लिए मूवा थाई ऐसा बनने व परिवार के लिए पैसे कमाने दोनों का तरीका था।”

जैसा कि किश्मत में होता है उनकी भी तकदीर से एक स्थानीय जिम के ट्रेनर से मुलाकात हो गई। उनसे बात करने के बाद कोच ने मुझे विधा सिखाने तथा “द आर्ट ऑफ एट लिम्ब्स” सिखाने के लिए तैयार हो गए।

एक बार जब वह जिम में पहुंंचे तो एक स्विच की तरह सबकुछ बदल गया। उन्हें मूवा थाई कला से प्यार हो गया और उन्होंने उसमें पारंगत होने का दृढ संकल्प ले लिया। इसके बाद “द स्माइलिंग हत्यारे” ने अपना खाली का समय का उपयोग मूवा थाई को समर्पित कर दिया और उन सभी सकारात्मक लाभों पर ध्यान दिया जो होने लगे।

वो कहते हैं कि “जब मैंने प्रशिक्षण शुरू किया, तो मैंने मजबूत और अधिक अनुशासित महसूस किया। मैं वास्तव में छोटा, कमजोर और पतला था। मैंने अपने शरीर को बदलते देखा, मेरी मांसपेशियां मजबूत होने लगी और खुद को स्वस्थ महसूस करने लगा। उस दौरान मुझे बहुत अच्छा लग रहा था। मैंने यह भी देखा कि पुराने लड़ाके अपने करियर में सफल हो रहे हैं और मैं भी अपने और अपने परिवार के लिए यही चाहता हूं।”

View this post on Instagram

????????????????????

A post shared by Pongsiri Mitsatit (@piak_smilingassassin) on

उसकी प्रतिभा को पनपने में देर नहीं लगी और जल्द ही उनके दुश्मनों ने उनके साथ दुर्व्यवहार बंद कर दिया। बाद में मित्सातित थाईलैंड के उत्तरी मूवा थाई चैंपियन बन गए और तब से उन्होंने पेशेवर प्रतियोगिता में 72-17 का रिकॉर्ड बना दिया।

उन्होंने न केवल “द आर्ट ऑफ एट लिम्ब्स” के माध्यम से अपने स्वयं के जीवन को बदल दिया, बल्कि उन्होंने अपने माता-पिता के वित्तीय बोझ को कम करने में भी मदद की तथा उन्हें अत्यधिक गरीबी से बाहर निकाला।

उन सभी उपलब्धियों के के कारण “द स्माइलिंग हत्यारे” मूवा थाई कला का खुद को बड़ा ऋणी महसूस करते हैं। वो कहते हैं कि “मूवा थाई ने मेरी बहुत मदद की है। मैं अन्य लोगों से नहीं डरता और मुझे खुद पर बहुत अधिक भरोसा है। इसी कला ने मुझे मिक्स्ड मार्शल आर्ट में भी भेज दिया।”

मित्सातित अब अपने मंच का उपयोग बच्चों को प्रशिक्षित कर उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करने और प्रोत्साहित करने में मदद करने के लिए करते हैं। खासकर उन बच्चों को जिन्हें बचपन में शरारती तत्वों ने बेहद परेशान किया है।

उस स्थिति में होने से पहले, थाई स्टार के पास कुछ मूल्यवान सलाह है। वो कहते हैं कि “सबसे पहले, प्रशिक्षित करने और प्रशिक्षण शुरू करने के लिए एक जगह ढूंढें। मार्शल आर्ट आपको इतने तरीकों से मदद कर सकता है।”

“आप बेहतर महसूस करेंगे और आप आत्म-रक्षा सीख सकते हैं। यह बच्चों को दवाओं और शराब से दूर रखने व लक्ष्य पर केंद्रित रहने में मदद करता है। इसके अलावा जिम में होना आपको अनुशासन सिखाएगा जो एक महत्वपूर्ण जीवन कौशल है।”

सबसे महत्वपूर्ण बात उन लोगों के लिए जो पूरी तरह से अकेले महसूस कर रहे हैं। आकांक्षी कोच अपने साथियों के साथ जिम में साथ रहने और आजीवन मित्रता का निर्माण कर सकते हैं। जिम आपका परिवार और आपके दोस्त होता है।

“शो के रास्ते पर मेरे साथियों के साथ पिक-अप ट्रकों के पीछे झगड़े की यात्रा करना हमेशा बहुत मजेदार था। मेरे पास उस समय की बहुत सारी अच्छी यादें हैं। जब मैं दौड़ता था तब भी मेरे दोस्त साथ होते थे।”

Thai mixed martial artist Pongsiri Mitsatit

मित्सातित आने वोल शुक्रवार को मॉल ऑफ एशिया एरिना में ONE: डॉन ऑफ हीरोज में मियाओं का सामना करते हुए अपनी बहुप्रतीक्षित वापसी करेंगे।

पूर्व नाक मूवा के लिए यह जीत उसे स्ट्रॉवेट डिवीजन के शीर्ष पर लाने में मदद करेगी। इसके अलावा यह उनके हमवतन डेजडामरोंग सांग से हाल की हार का बदला लेने का अवसर है।

मनीला | 2 अगस्त | 7PM | डॉन ऑफ हीरोज | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय लिस्टिंग की जाँच करें | टिकट: http://bit.ly/oneheroes19