टैमी मुसुमेची को कैसे वर्ल्ड चैंपियन भाई माइकी मुसुमेची के साथ अभ्यास ने बेहतर बनाया

TammiMusumeci 1280X800

टैमी मुसुमेची की विनम्रता और उनका आचरण जानने के बाद शायद आपको ये जानकर हैरानी हो कि अमेरिका में जन्मी एथलीट अब तक की सबसे बेहतरीन ब्राज़ीलियन जिउ-जित्सु फाइटर हैं।

28 साल की एथलीट ONE Fight Night 8 में ब्राज़ील की बियांका बैसिलियो के खिलाफ स्ट्रॉवेट सबमिशन ग्रैपलिंग मैच में अपना बहुप्रतीक्षित ONE Championship डेब्यू करेंगी।

टैमी मुसुमेची जब शनिवार, 25 मार्च को सिंगापुर इंडोर स्टेडियम में पहली बार सर्कल के अंदर पहुंच रही होंगी तो वो अपने शानदार करियर का एक और बड़ा कदम बढ़ा रही होंगी।

वो आधिकारिक तौर पर अपने भाई मौजूदा ONE फ्लाइवेट सबमिशन ग्रैपलिंग वर्ल्ड चैंपियन माइकी मुसुमेची के साथ दुनिया के सबसे बड़े मार्शल आर्ट्स संगठन में शामिल होंगी। दरअसल, भाई-बहन की ये जोड़ी ग्रैपलिंग में अपनी मजबूत स्थिति बनाए रखने की कोशिश करती रहती है।

जिउ-जित्सु ने जीवन में दी स्थिरता

पिता को BJJ का अभ्यास करते देख मिली प्रेरणा के बाद मुसुमेची ने 6 साल की उम्र में ही ट्रेनिंग लेनी शुरू कर दी थी और फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

ग्रैपलिंग आर्ट ने उन्हें बचपन से स्थिर रहना सिखा दिया। दरसअल, उनके परिवार को देश के कई हिस्सों में जाकर रहना पड़ा, लेकिन तब भी उनके जीवन में निरंतरता बनी रही।

मुसुमेची ने अपने पालन-पोषण के बारे में बतायाः

“मेरा बचपन अच्छा गुज़रा। मैं न्यू जर्सी के उपनगर में पली-बढ़ी हूं। मैं जब 13 साल की थी, तब परिवार फ्लोरिडा चला गया था। मुझे लगता है कि मेरे बचपन की सबसे बड़ी चीज़ जिउ-जित्सु ही थी। आप जब छोटे होते हैं तो एक जगह से दूसरी जगह जाना हमेशा मुश्किल होता है और जिउ-जित्सु ही वो है, जिसने मुझे स्थिर बनाए रखा।”

ऐसे में उन्हें जब और जहां मुकाबला करने का मौका मिला, उन्होंने वहां किया।

उस वक्त अमेरिका में BJJ उभरना शुरू हुआ था और उसमें महिलाओं की भागीदारी बेहद कम थी। ऐसे में मुसुमेची ने ज्यादातर लड़कों के खिलाफ प्रतिस्पर्धा की, जिसे वो अपने विकास का सबसे बेहतर ज़रिया मानती हैं।

उन्होंने याद करते हुए बतायाः

“मैं 7 या 8 साल की थी, तब मैंने स्थानीय टूर्नामेंट्स में मुकाबले करने शुरू किए थे। शुरुआत में उतनी सफलता नहीं मिली। मुझे लगता है कि मैं समय के साथ बेहतर होती गई। मैं जब तक 16 साल की नहीं हुई, तब तक मैं 99 प्रतिशत लड़कों के साथ ही प्रतिस्पर्धा करती रही।”

सबसे खास पार्टनरशिप

जिउ-जित्सु में 20 से अधिक सालों की ट्रेनिंग और प्रतिस्पर्धा के दौरान टैमी मुसुमेची अपने वर्ल्ड चैंपियन भाई से कभी दूर नहीं रहीं।

असलियत में, ये दोनों इतिहास में अमेरिका के सबसे बेहतरीन BJJ एथलीट्स हैं। उन्होंने ONE Championship में ग्लोबल सुपरस्टार बनने तक के सफर के बीच अविश्वसनीय रूप से 10 BJJ वर्ल्ड चैंपियनशिप जीती हैं।

किशोरावस्था के दौरान BJJ के जुनूनी माइकी और टैमी ने ढेर सारा वक्त एक साथ बिताया और उन स्किल्स को निखारा, जिन्होंने उन्हें कम उम्र में ही बेहतरीन एथलीट्स में परिवर्तित कर दिया।

मुसुमेची ने बताया कि किस तरह से उनके छोटे भाई हमेशा उनकी सफलता में महत्वपूर्ण भागीदार बने रहेः

“हम हमेशा पार्टनर्स रहे हैं। हम अब भी ट्रेनिंग पार्टनर्स हैं। हम अलग-अलग जिम में ट्रेनिंग लेते है, लेकिन हमने हमेशा एक-दूसरे के साथ भी अभ्यास किया। इससे मुझे खुद को निखारने में मदद मिली क्योंकि माइकी जब छोटा था या उसे ब्लू बेल्ट मिल गई थी, तब भी वो मेरे साथ अभ्यास करता था।

“माइकी हमेशा मुझे दिखाया करता था कि वो क्या कर रहा है। इस वजह से हमने हमेशा साथ में अभ्यास किया। मुझे लगता है कि इसने हम दोनों को ही सफलता के दरवाज़े पर लाकर खड़ा कर दिया क्योंकि हम लगातार ट्रेनिंग पार्टनर्स रहे थे।”

भाई के साथ किए गए अतिरिक्त अभ्यास ने उन्हें बड़े पैमाने पर फायदा पहुंचाया। 19 साल की उम्र में अपने ब्लैक बेल्ट करियर के कुछ महीनों के दौरान ही मुसुमेची ने पहली IBJJF नो-गी वर्ल्ड चैंपियनशिप हासिल की।

उन्होंने तीन और नो-गी वर्ल्ड टाइटल्स और एक गी टाइटल जीता। इस तरह टैमी मुसुमेची ने दुनिया के सर्वश्रेष्ठ ग्रैपलर्स के बीच अपनी जगह बनाई। एक तरफ “डार्थ रिगाटोनी” जहां खुद को एक कोच के रूप में नहीं देखते हैं, वहीं उनकी बहन उन्हें उसी रूप में देखती हैं।

उन्होंने कहाः

“मैं हमेशा उससे कहती हूं ‘तुमने एक ब्लैक बेल्ट वर्ल्ड चैंपियन तैयार किया है!’ तुम्हारे पास सभी तरह के कोचों का अनुभव है, लेकिन कोई भी उसे एक कोच के रूप में नहीं देखता है। उसने मेरी बहुत मदद की है और जहां आज मैं खड़ी हूं, उसकी बदौलत ही पहुंच पाई हूं।”

दिन में वकील, रात में ग्रैपलर

टैमी मुसुमेची अपनी जिंदगी के सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ने के लिए हमेशा प्रयासरत रहती हैं।

वो जब वर्ल्ड क्लास प्रतियोगिता में दिग्गज ब्लैक बेल्ट एथलीट्स के खिलाफ गोल्ड मेडल जीतने के लिए मुकाबले कर रही थीं, उसी वक्त कॉलेज में लॉ की पढ़ाई भी कर रही थी। अब वो वकालत कर रही हैं।

टैमी के मुताबिक, उनकी व्यस्त दिनचर्या उनके लिए स्वाभाविक थी, जबकि वही चीजें किसी दूसरे व्यक्ति को बुरी तरह थका देगीं।

मुसुमेची ने बतायाः

“मैंने अब तक का पूरा जीवन सिर्फ स्कूल और ट्रेनिंग करने में ही बिताया है। इस वजह से ये मेरा स्वभाव बन गया है। इसने हमेशा संतुलन बनाने की कोशिश की। फिर भी ये कभी-कभी भारी पड़ सकता है। मैं जब घर आती हूं तो मुझे ट्रेनिंग, कार्डियो और अलग-अलग चीजें करनी होती हैं। मेरे पास आराम करने का मुश्किल से शायद आधा घंटा ही होता है।

“ये जीवन में संतुलन बनाता है, लेकिन मैं इसका आनंद लेना भी सीख रही हूं। अगर मैंने आनंद नहीं लिया तो ये मेरे लिए पूरे दिन काम करने जैसा होगा।”

खास बात ये है कि BJJ ब्लैक बेल्ट होल्डर ने एक वकील के रूप में अपने काम से कभी छुट्टी लेने के बारे में नहीं सोचा।

इसकी बजाय वो जिउ-जित्सु की तरह ही वकालत की दुनिया में एक बड़ा मुकाम हासिल करने का लक्ष्य रखती हैं।

उन्होंने कहाः

“मेरे पास विकल्प होता, तब भी मैं फुल टाइम ट्रेनिंग नहीं कर सकती थी। मैं ऐसा कभी नहीं करूंगी। मेरी लाइफ में जिउ-जित्सु के अलावा भी कुछ लक्ष्य हैं, जहां मैं पहुंचना चाहती हूं। मैं इसे कभी अपने लिए एक विकल्प के रूप में नहीं रखती हूं।”

एक असली सबमिशन फाइटर

25 मार्च को टैमी मुसुमेची ग्रैपलिंग के अपने आक्रामक सबमिशन स्टाइल को ONE के ग्लोबल स्टेज के सामने लाएंगी।

BJJ सनसनी की अब तक की शानदार उपलब्धियों की बड़ी वजह कुछ खास नियम हैं, जो पूरी तरह उनकी रणनीतियों पर ज़ोर देते हैं।

हालांकि, उनके मुताबिक ONE का सिर्फ सबमिशन फॉर्मेट उनके खेल पर सटीक बैठता है, जो मैच को सबमिशन के जरिए फिनिश करने पर केंद्रित रहता है।

उन्होंने कहाः

“मैं सिर्फ सबमिशन के नियमों के साथ ज्यादा बेहतर हूं। मुझे लगता है कि मैं हमेशा इसके प्रयास में रहती हूं। मुझे ऐसा करना पसंद है। दरअसल, मुझे लगता है कि मैं इसमें ज्यादा फ्री होकर काम कर सकती हूं और थोड़ा ज्यादा आक्रामक हो सकती हूं। इस दौरान मिलने वाले फायदे और अन्य तरह की परेशानियों को लेकर चिंतिंत भी नहीं हो सकती हूं।”

अब जब मुसुमेची ADCC वर्ल्ड चैंपियन बियांका बैसिलियो का सामना करेंगी तो वो इस बारे में नहीं सोच रही होंगी कि उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कितनी सराहना मिल सकती या वो ONE वर्ल्ड टाइटल के लिए चुनौती देने की स्थिति में खुद को कैसे ला सकती हैं।

इसकी बजाय उनके दिमाग में बस एक ही चीज़ होगी, जो वर्ल्ड क्लास ब्लैक बेल्ट होल्डर के रूप में एक दशक से उनके साथ चल रही है। वो है एक शानदार सबमिशन हासिल करना।

उन्होंने कहाः

“मैं वहां जाऊंगी और बिना कोई दबाव लिए सबमिशन की कोशिश करूंगी। मुझे अपना जीवन निश्चित तरह से जीना पसंद है। मेरे पास कोई इंस्टाग्राम या सोशल मीडिया अकाउंट नहीं है। मैं इसे खिताब या किसी और चीज़ के लिए नहीं कर रही हूं। मैं सिर्फ खुद की बेहतरी के लिए ये सब कर रही हूं।”

विशेष कहानियाँ में और

Rambolek Chor Ajalaboon Soner Sen ONE Friday Fights 51 28 scaled
Elias Mahmoudi Edgar Tabares ONE Fight Night 13 28
Lara Fernandez Yu Yau Pui ONE Fight Night 20 15
Suablack Tor Pran49 Craig Coakley ONE Friday Fights 46 23 scaled
Aaron Canarte Akbar Abdullaev ONE Fight Night 12 5
Jarred Brooks Joshua Pacio ONE 166 12
Kiamrian Abbasov Christian Lee ONE on Prime Video 4 1920X1280 149
Hiroba Minowa Gustavo Balart ONE 165 77 scaled
Nico Carrillo Saemapetch Fairtex ONE Fight Night 23 40
Ok Rae Yoon Alibeg Rasulov ONE Fight Night 23 36
Muangthai PK Saenchai Nico Carrillo ONE Friday Fights 22 38
Ok Rae Yoon Eddie Alvarez 1920X1280 ONE on TNT IV 26