3 सर्वश्रेष्ठ स्टाइल जो सबमिशन ग्रैपलिंग में कामयाब होते हैं

Mikey Musumeci Osamah Almarwai ONE Fight Night 10 36

ONE 167: Stamp vs. Zamboanga में एक से बढ़कर एक मार्शल आर्ट्स मुकाबले देखने को मिलेंगे, जिसमें से एक है मौजूदा ONE फ्लाइवेट सबमिशन ग्रैपलिंग वर्ल्ड चैंपियन माइकी मुसुमेची और प्रमोशन में डेब्यू कर रहे गेब्रियल सूसा का बेंटमवेट सबमिशन ग्रैपलिंग मैच।

शनिवार, 8 जून को थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक के इम्पैक्ट एरीना में होने वाले इस मैच में दो अलग प्रकार के ग्रैपलिंग स्टाइल की टक्कर होगी।

दुनिया के दो सर्वश्रेष्ठ पाउंड-फोर-पाउंड ग्रैपलर्स के बीच होने वाले इस बहुप्रतीक्षित मैच से पहले आइए नजर डालते हैं कि इस खेल में किस तरह के स्टाइल को ज्यादा सफलता मिलती है।

गार्ड वाले एथलीट

“डार्थ रिगाटोनी” सबसे बेहतरीन गार्ड (जब विरोधी मैट पर पीठ के बल हो) एथलीट माने जाते हैं।

आमतौर पर मजबूत गार्ड वाले एथलीट्स अपनी कमर के बल पर होने की वजह से कई तरह के अटैक कर सकते हैं। इसमें चाहे क्लोज़्ड गार्ड से आर्मबार और ट्रायंगल लगाने की बात हो या फिर ओपन गार्ड से पैरों पर निशाना साधना, उन्हें सभी में महारत हासिल है।

क्योंकि गार्ड वाले एथलीट्स को गुरुत्वाकर्षण बल की चिंता नहीं होती और वो अटैकिंग मानसिकता रखते हैं और वो अपने विरोधियों को खुद पर दबाव बनाने के मौके भी कम देते हैं।

मुसुमेची की तरह ही गार्ड एथलीट्स को भेद पाना बहुत ही मुश्किल काम होता है। ऊपर वाला एथलीट चाहे किसी भी तरह से अटैक करे, नीचे वाली पोजिशन के ग्रैपलर के पास हर तरह के मूव होते हैं।

गार्ड पास करने वाले

वहीं सूसा की बात करें तो उन्हें ग्रैपलिंग में गार्ड पास करने वाले सबसे बेहतरीन एथलीट्स में गिना जाता है।

गार्ड एथलीट्स के विपरीत गार्ड पास करने वाले एथलीट्स टॉप पोजिशन पर रहकर स्पीड के जरिए दबाव बनाते हैं। गार्ड पास करने वाले एथलीट का सबसे प्रमुख लक्ष्य होता है कि किसी भी तरह प्रभावशाली पोजिशन हासिल की जाए और वहां से सबमिशन के मौके तलाशे जाएं।

सूसा एक साइड से दूसरी साइड आते-जाते रहते हैं और वो ये बड़ी ही तेजी से करते हैं। इस वजह से वो किसी भी गार्ड एथलीट को थका सकते हैं और उसके बाद साइड कंट्रोल या फिर बैक पोजिशन हासिल कर सबमिशन की तलाश में जुट जाते हैं।

गार्ड पास करने वाले एथलीट भी बहुत ही तकनीकी होते हैं।

सबमिशन तलाशने वाले

जहां गार्ड और गार्ड पासिंग वाले एथलीट्स सबमिशन की तलाश में रहते हैं तो वहीं कुछ ग्रैपलर्स ऐसे होते हैं, जिनका लक्ष्य सिर्फ और सिर्फ सबमिशन खोजना होता है और वो किसी भी पल और किसी भी पोजिशन से मैच को समाप्त करने का दम रखते हैं।

इस तरह का एक उदाहरण मौजूदा ONE वेल्टरवेट सबमिशन ग्रैपलिंग वर्ल्ड चैंपियन टाय रुओटोलो हैं। दुनिया के सबसे बड़े मार्शल आर्ट्स संगठन के अपने छह मुकाबलों में 21 वर्षीय सुपरस्टार ने साबित किया है कि वो किसी भी पोजिशन से अटैक कर सकते हैं।

उनके नाम ONE में चार जीत सबमिशन से हैं, जिसमें दो बैक पोजिशन से चोक, एक डार्स चोक और एक बैक पोजिशन से आर्मबार के जरिए आई है।

वहीं रुओटोलो के जुड़वा भाई और ONE लाइटवेट सबमिशन ग्रैपलिंग वर्ल्ड चैंपियन केड रुओटोलो भी बेहतरीन लेग लॉक लगाने के लिए जाने जाते हैं।

विशेष कहानियाँ में और

Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 142
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 137
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE 167 78
Rodtang Jitmuangnon Edgar Tabares ONE Fight Night 10 36
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 21 scaled
Superlek Kiatmoo9 Rodtang Jitmuangnon ONE Friday Fights 34 80
Tawanchai PK Saenchai Superbon Singha Mawynn ONE Friday Fights 46 48 scaled
Jacob Smith Denis Puric ONE Fight Night 21 24
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE Fight Night 15 67 scaled
Marat Grigorian Sitthichai Sitsongpeenong ONE 165 31 scaled
Denis Puric Nguyen Tran Duy Nhat ONE Fight Night 17 24 scaled
Kade Ruotolo Francisco Lo ONE Fight Night 21 43