नौज़ेत त्रूहीलो का लक्ष्य स्पेन में मॉय थाई विकास को प्रेरित करना – ‘मैं एक ऐसी जगह से हूं, जहां पैसों की कमी है’

Rungrawee Sitsongpeenong Nauzet Trujillo ONE Fight Night 13 73

स्पैनिश स्ट्राइकर नौज़ेत त्रूहीलो उच्चतम स्तर पर अपने देश के मॉय थाई एथलीटों की एक नई पीढ़ी के लिए मार्ग प्रशस्त करने के लिए प्रेरित हैं।

34 वर्षीय स्ट्राइकर 17 फरवरी को होने वाले ONE Fight Night 19: Haggerty vs. Lobo में “लीथल” लियाम नोलन के खिलाफ अपनी पहली प्रमोशनल जीत की तलाश में होंगे और वो जानते हैं कि इतने जाने-माने प्रतिद्वंदी को हराना एक बड़ी बात होगी।

ये त्रूहीलो के लिए एक बड़ी चुनौती है, लेकिन जब वो थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक के लुम्पिनी बॉक्सिंग स्टेडियम में लाइटवेट मॉय थाई मुकाबले में ब्रिटिश स्टार का सामना करेंगे तो वो कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेंगे।

इससे पहले कि वो इस बड़े अवसर के लिए रिंग में उतरें, स्पैनिश फाइटर की शुरुआत से लेकर अब तक की यात्रा के बारे में जानें:

‘मैं ऐसी जगह से हूं, जहां पैसों की कमी है’

त्रूहीलो का जन्म कैनरी द्वीपों में से एक टेनेरिफ़ में हुआ था और वो वहीं बड़े हुए।

जबकि ये बड़े पैमाने पर एक पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है, टेनेरिफ़ गरीबी के उच्चतम स्तर वाला स्पेनिश क्षेत्र भी है।

उन्होंने onefc.com को बताया: 

“मैं शहर की गलियों से हूं। मैं एक ऐसी जगह से हूं, जहां पैसों की कमी है और वहां सभी बच्चों में थोड़ी-बहुत शरारती प्रवृत्ति होती है। हम हर मामले में परेशानी पैदा नहीं कर रहे थे, लेकिन ये हमारे अंदर जरूर था।” 

त्रूहीलो का पढ़ने-लिखने में मन नहीं लगता था, उन्हें गणित के समीकरण की तुलना में किसी अन्य बच्चे के साथ रेसलिंग करते हुए पाए जाने की अधिक संभावना थी।

लड़ाई-झगड़ा भी आम बात थी, हालांकि उन्होंने निश्चित रूप से ये नहीं सोचा था कि उनका प्रोफेशनल भविष्य कैसा होगा:

“मुझे स्कूल जाना पसंद नहीं था। मुझे कभी बुली (धमकाना) नहीं किया गया, लेकिन मुझे स्कूल में समस्या हुई और झगड़े भी। जब आप छोटे होते हैं तो लोग आपका मज़ाक उड़ाते हैं और आपका अपमान करते हैं और कई बार तो ऐसा लगता था कि एकमात्र समाधान लड़ना ही था। जब मैं बड़ा हो रहा था तो ये सामान्य था।” 

दिशा बदली, जीवन बदला

स्कूल के बाद त्रूहीलो का जीवन ज्यादातर गलियों में ही बीता।

बिना किसी वास्तविक लक्ष्य या आकांक्षा के उन्हें कोई रास्ता नजर नहीं आ रहा था, जब तक कि उन्हें मॉय थाई नहीं मिला। ये स्पैनिश एथलीट के लिए मार्गदर्शन था, जिसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

Fight Club Moi Rui और Susi Team के प्रतिनिधि ने कहा:

“मैं 18 साल का था जब मुझे मार्शल आर्ट्स से परिचित कराया गया। मैं मॉय थाई की ओर आकर्षित हुआ क्योंकि आप अपनी कोहनियों का उपयोग कर सकते थे।

“जब मैंने ट्रेनिंग शुरू की तो मुझमें प्रतिस्पर्धा करने की ललक थी। कुछ वर्षों के प्रशिक्षण के बाद मुझे एक फाइट मिली। उसके बाद तो मैं उस अनुभूति का आदी हो गया। मेरा अनुभव बहुत अच्छा रहा और मैं जानता था कि ये मेरे लिए है।”

मॉय थाई स्पेन में एक विशिष्ट खेल था और अब भी है और त्रूहीलो के परिवार को शुरू में यकीन नहीं था कि ये उनके लिए अच्छा है।

हालांकि, ये जानते हुए कि दूसरा विकल्प उनके पुराने जीवन में वापस जाना था, जब उन्होंने इसके सकारात्मक प्रभाव देखे तो उन्होंने युवा स्ट्राइकर का समर्थन किया।

34 वर्षीय एथलीट ने याद किया: 

“पहले मेरे परिवार को ये पसंद नहीं आया, लेकिन उन्होंने हमेशा मेरा समर्थन किया। वे हमेशा मेरे लिए मौजूद रहे हैं।

“जब उन्होंने देखा कि मॉय थाई मुझे क्या प्रदान करने में सक्षम है तो उन्हें गर्व हुआ और वे आभारी थे कि मैंने खुद को इस खेल के लिए समर्पित कर दिया।

“उन्हें ये जानकर दुख होता है कि ये एक ऐसा खेल है जहां हमें मार पड़ती है, लेकिन वे इस बात से खुश हैं कि मैं क्या हासिल कर पाया हूं और इससे मेरे जीवन को बदलने में कितनी मदद मिली है।” 

अगली पीढ़ी के लिए लड़ना

त्रूहीलो के परिवार ने मॉय थाई के लाभों को प्रत्यक्ष रूप से देखा, लेकिन व्यापक स्पेनिश समाज में इस खेल को अच्छी नजरों से नहीं देखा जाता था।

ये विचार आज भी कुछ हद तक कायम है और ये कुछ ऐसा है जिसे स्टैंड-अप स्पेशलिस्ट बदलने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं।

त्रूहीलो ने बताया:

“मॉय थाई स्पेन में उतना लोकप्रिय नहीं है और कुछ लोगों द्वारा इसे सही नजरों से नहीं देखते।

“कभी-कभी ऐसा महसूस होता है कि आपको एक फाइटर के रूप में महत्व नहीं दिया जाता है, लेकिन हम वो सब कुछ कर रहे हैं जो हम कर सकते हैं ताकि ये बदल सके और ताकि हमारे बाद आने वाले फाइटर उस चीज का आनंद ले सकें जो हम नहीं कर सके और लड़ने के लिए खुद को 100 प्रतिशत समर्पित कर सकें।” 

स्पेन की मुख्य भूमि से दूर एक द्वीप के रूप में टेनेरिफ़ का भूगोल भी त्रूहीलो के लिए एक निरंतर मुद्दा रहा है क्योंकि इस खेल के प्रति अपने सपनों को पूरा करने में उन्हें परेशानी होती है।

उन्होंने बताया: 

“हम नुकसान में हैं क्योंकि हम एक द्वीप (टेनेरिफ़) पर रहते हैं और हमें हर चीज के लिए हवाई जहाज या नाव लेनी पड़ती है।

“स्पेन और कैनरी द्वीप समूह का प्रतिनिधित्व करने से मुझे प्रेरणा मिलती है कि मैं अपने बाद आने वाले कई फाइटर्स के लिए दरवाजे खोल रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि बड़े सपनों वाले युवा फाइटर्स के लिए ये मेरे मुकाबले आसान होगा।”

‘मैंने इस अवसर के लिए कई वर्षों तक इंतजार किया’

त्रूहीलो के लिए जन-जन तक पहुंचने और अपने देश को मॉय थाई की सुंदरता दिखाने के लिए ONE Championship से बेहतर कोई जगह नहीं है।

इसलिए भले ही वो अपने ONE डेब्यू में असफल रहे, लेकिन स्पेनिश स्ट्राइकर को पता है कि संगठन में सफलता उनके संशयपूर्ण हमवतन लोगों के दिल और दिमाग को बदलने में मदद कर सकती है और लियाम नोलन के साथ उनके मुकाबले से पहले यही उनकी सबसे बड़ी प्रेरणा है।

उन्होंने आगे बताया:

“मैंने इस अवसर के लिए कई वर्षों तक इंतजार किया और मेरे लिए ये एक सपने के सच होने जैसा है।

“मैं आगे बढ़ना जारी रखना और ONE में अपना नाम कमाना चाहता हूं। मैं न केवल अपने डिविजन में सर्वश्रेष्ठ में से एक बनना चाहता हूं बल्कि दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बनना चाहता हूं।” 

मॉय थाई में और

Jihin Radzuan Jenelyn Olsim ONE Friday Fights 35 20
Petsukumvit Boi Bangna Kongsuk Fairtex ONE Friday Fights 53 17 scaled
Petsukumvit Kongsuk 1920X1280 scaled
Danial Williams Lito Adiwang ONE Fight Night 19 19 scaled
Jaosuayai Sor Dechapan Petsukumvit Boi Bangna ONE Friday Fights 46 58 scaled
one fight night 19 all fight highlights
Jonathan Haggerty Felipe Lobo ONE Fight Night 19 127 scaled
Jonathan Haggerty Felipe Lobo ONE Fight Night 19 29 scaled
Danial Williams Lito Adiwang ONE Fight Night 19 13 scaled
Kulabdam Sor Jor Piek Uthai Julio Lobo ONE Friday Fights 52 17
DC 1557 scaled
Kulabdam JulioLobo OFF52 1920X1280