न्यूज़

लेरदसीला ने किया बैंकॉक में सव्वास माइकल के खिलाफ तहलका मचाने का वादा

Aug 12, 2019

लेरदसीला फुकेत टॉप टीम पांच साल से अधिक समय के बाद अपने मूल थाईलैंड में ONE: ड्रीम्स ऑफ गोल्ड पर लंबे समय से प्रतीक्षित वापसी करेगी।

अगले शुक्रवार, 16 अगस्त को 39 वर्षीय मुवा थाई मास्टर बैंकॉक के इम्पैक्ट एरिना में सव्वास “द बेबी फेस किलर” माइकल के खिलाफ ONE सुपर सीरीज़ में अपने जीतने के क्रम को बनाए रखना चाहेंगे। इस फ्लाईवेट मैच-अप बाउट में लेदरसीला अपने 30 साल के अनुभव को सबसे युवा एथलीट के खिलाफ झौंकते हुए दिखाई देंगे।

तीन बार के राजदमनेर्न स्टेडियम मुवा थाई विश्व चैंपियन को आखिरी बार ONE: रूट्स ऑफ ऑनर पर रिंग में देखा गया था। जहां उन्होंने जापान के कोहेई मोमोतारो कोडेरा के खिलाफ ONE Championship में अब तक की अपनी सबसे शानदार जीत दर्ज की थी।

यह चार महीने पहले की तुलना में अधिक था, लेकिन आठ बार के मुवा थाई विश्व चैंपियन का कहना है कि वह और भी घातक हो गए हैं। वह एक अच्छी फाइट थी। वह फाइट के लिए मिले अवसर को पाकर खुश थे। उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और उन्हें अपने प्रदर्शन पर गर्व है।

उन्होंने बताया कि उसके बाद से उन्होंने कोई फाइट नहीं लड़ी, लेकिन उनका प्रशिक्षण लगातार जारी रहा है। वह किसी भी टूर्नामेंट के लिए तैयार होने पर जितना संभव हो उतना समय कम बर्बाद करना सुनिश्चित करते हैं। प्रशिक्षण के लिए फुकेत टॉप टीम बहुत अच्छी है, क्योंकि वहां चुनने के लिए बहुत सारे अलग-अलग साथी होते हैं।

2010 के बाद से चियाफुम मूल निवासी ने केवल दो बार घर पर प्रतिस्पर्धा की है और जनवरी 2014 के बाद से तो बिल्कुल भी नहीं की। इसलिए वह अपने हमवतन के सामने रिंग में उतरने व दर्शकों के समर्थन के माहौल की खुशी का अंदाजा भी नहीं लगा सकते हैं।

हालांकि उन्होंने स्वीकार किया कि अपने घर में वापसी की प्रतियोगिता में उन पर बेहतरीन प्रदर्शन करने का अधिक दबाव होगा। वह थाईलैंड में फाइट का मौका मिलने पर गर्व महसूस कर रहे हैं। वहां उनकी फाइट को देखने के लिए सैंकड़ो की तादाद में दर्शक पहुंचेंगे और बेहतर प्रदर्शन के लिए उनका उत्साह बढ़ाएंगे। उन पर दर्शकों का भी थोड़ा दबाव रहेगा। वह अपने देश के लोगों के लिए जीतना चाहते हैं, लेकिन वह खुद की जीत के बारे में ही नहीं सोच सकते हैं, वह इसके लिए पूरा प्रयास करेंगे।

उनके प्रतिद्वंद्वी की स्थानीय माहौल में अपनी पहचान है। बैंकाक की पेचीइंडी अकादमी से बाहर निकलकर माइकल को थाई राजधानी में इस क्षेत्र में बहुत सफलता मिली है। 20 वर्षीय साइप्राइट ने मई में अपनी ONE सुपर सीरीज़ की शुरुआत की थी, जब उन्होंने कई बार मुवा थाई वर्ल्ड चैंपियन सिंगटोंगनोई पोर तेलकुन को हाथ से हारने के लिए अपनी विलक्षण प्रतिभा और एथलेटिकिज्म दिखाया था।

हालाँकि वे उस प्रदर्शन से प्रभावित थे, लेकिन लेरदसीला कहते हैं कि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं देखा जिससे उन्हें कोई परेशानी हो और उन्हें
19 साल के अपने प्रतिद्वंद्वी से वरिष्ठ होने के बावजूद अभी भी एक मजबूत बढ़त मिलने की उम्मीद है।

उन्होंने कहा कि वह ताजा है और एक बड़ी जीत की ओर बढ़ रहे हैं। उनका विरोधी उनसे बहुत छोटा है, लेकिन वह इसके बारे में बहुत ज्यादा नहीं सोच रहे हैं। जब वह अपने करियर के अंत में बैंकाक में लड़ रहा था [स्टेडियम सर्किट पर], तो उस दौरान भी उन्हें कई छोटे विरोधियों का सामना करना पड़ा था।यह मुवा थाई का एक हिस्सा है।

उन्हें लगता है कि वह उनसे ज्यादा धीमा होगा और उनकी गति और तकनीक उसके खिलाफ अच्छा काम करेगी। वह युवा व मजबूत होगा। ऐसे में उसे हराने के लिए उन्हें अपने अनुभव और चपलता का उपयोग करने की आवश्यकता होगी। उन्हें नहीं लगता कि प्रशिक्षण और थाईलैंड में प्रतिस्पर्धा करने से उसे कुछ फायदा होगा क्योंकि वह अपने पूरे जीवन में प्रशिक्षण और प्रतिस्पर्धा करते आए हैं।

लेरदसीला इस खेल के अच्छे जानकार है। वहीं माइकल में “द आर्ट ऑफ एट लिम्ब्स” की सबसे अनोखी कला है। ऐसे में युवा व 30 वर्षों के अनुभव में बेहतरीन व रोमांचकारी संघर्ष होने की पूरी उम्मीद की जा सकती है।

यद्यपि वह आश्वस्त हैं और जानते हैं कि उनके प्रतिद्वंद्वी के पास इम्पैक्ट एरिना में उनका परीक्षण करने का कौशल और शक्ति है। ऐसे में यह बहुत ही शानदार बाउट हो सकती है। उनके पास अनुभव है तो विरोधी के पास युवा जोश, लेकिन प्रशंसकों को बस इंतजार करना होगा और देखना होगा कि अंत में जीत किसकी होती है।

बैंकॉक | 16 अगस्त | 5.30PM | ONE: ड्रीम्स ऑफ गोल्ड | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय लिस्टिंग की जाँच करें | टिकट: http://bit.ly/onegold19