झांग पेइमियान को करीबी मुकाबले में हराकर नए ONE स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन बने जोनाथन डी बैला

Zhang Peimian Jonathan Di Bella ONE162 1920X1280 29

फैंस को जोनाथन डी बैला और “फाइटिंग रूस्टर” झांग पेइमियान के बीच वेकेंट ONE स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप मैच में धमाकेदार एक्शन की उम्मीद थी और दोनों स्ट्राइकिंग सुपरस्टार्स ने फैंस को निराश घर नहीं जाने दिया।

ONE 162 के मेन इवेंट में इटालियन-कनाडाई स्टार डी बैला ने पांचवें राउंड में चीनी एथलीट को नॉकडाउन करते हुए सर्वसम्मत निर्णय से जीत प्राप्त कर वर्ल्ड टाइटल अपने नाम किया।

उम्मीद के अनुसार, अक्षीयता एरीना में हुआ ये मैच आक्रामक गति के साथ शुरू हुआ।

दोनों ओर से लो किक्स लगती देखी गईं, इस बीच झांग ने कुछ दमदार लेफ्ट हुक्स को लैंड करवाया। मोंट्रियल निवासी एथलीट को समय बीतने के साथ अपने स्ट्रेट लेफ्ट को लगाने में आसानी होने लगी थी, वहीं 19 वर्षीय “फाइटिंग रूस्टर” ने अपने विरोधी की जांघ पर हमला करना जारी रखा।

दूसरे राउंड में भी खतरनाक एक्शन जारी रहा। 26 वर्षीय डी बैला ने स्ट्रेट पंच और लेफ्ट किक्स लगाईं और बॉक्सिंग में भी बेहतर साबित हुए, लेकिन मौका मिलते ही झांग ने अपने प्रतिद्वंदी के पैरों को लो किक्स लगाकर खूब क्षति पहुंचाई।

दूसरे राउंड में आधा समय बीत जाने के बाद “फाइटिंग रूस्टर” ने आगे आकर खतरनाक राइट हैंड और लेफ्ट हुक्स लगाने की कोशिश की। दूसरी ओर, डी बैला चीनी एथलीट के मूव्स को लीड हुक से काउंटर कर रहे थे।

Team Di Bella KickBoxing ने तीसरे राउंड में एक क्लीन जैब लगाकर सबको चौंका दिया, वहीं झांग के लिए उनकी लो किक लगाने की रणनीति अच्छी साबित हो रही थी। “फाइटिंग रूस्टर” ने कई प्रभावशाली बॉडी शॉट्स लगाए, लेकिन इसी दौरान डी बैला ने मौका देखते हुए राइट हुक लगाया।

चैंपियनशिप राउंड्स में दोनों ओर से खतरनाक अटैक हुआ। “फाइटिंग रूस्टर” ने डी बैला की स्ट्राइक्स का जवाब लो किक्स से दिया, लेकिन कनाडाई-इटालियन एथलीट लेफ्ट हुक से काउंटर करने के लिए तैयार खड़े थे।

यहां से झांग ने लेफ्ट हुक लगाकर सफलता पाई और कई दमदार कॉम्बिनेशंस भी लगाए।

अंतिम राउंड में कांटेदार टक्कर देखने को मिली। डी बैला कई लेफ्ट हुक्स और राइट हैंड्स का प्रभाव झेलने के बावजूद मैच का रुख पलट देने वाला शॉट लगाने में सफल रहे। एक क्रॉस-हुक कॉम्बो लगाने में असफल रहने के बाद उन्होंने खतरनाक लेफ्ट हाई किक लगाई, जो चीनी एथलीट के जबड़े पर जाकर लैंड हुई।

झांग बहुत मुश्किल से काउंट का जवाब दे पाए। डी बैला ने फिनिश की तलाश में आक्रामक रुख अपनाया। वो हालांकि फाइट को फिनिश नहीं कर पाए लेकिन नॉकडाउन जरूर स्कोर किया, जिसने मैच के परिणाम में अहम भूमिका निभाई।

तीनों जजों ने डी बैला को विजेता घोषित कर उन्हें नया ONE स्ट्रॉवेट किकबॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियन बनाया।

उनका किकबॉक्सिंग रिकॉर्ड अब 11-0 का हो गया है और अब डी बैला ONE के स्ट्राइकिंग डिविजंस में ऐसे अकेले उत्तर अमेरिकी एथलीट हैं, जो वर्ल्ड चैंपियन हैं।

सैम-ए गैयानघादाओ की रिटायरमेंट के बाद ये बेल्ट वेकेंट (खाली) हो गई थी, लेकिन अब डी बैला ने नया चैंपियन बनकर एक नए युग की शुरुआत की है।

किकबॉक्सिंग में और

Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 142
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 59
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 137
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE 167 78
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 11
Rodtang Jitmuangnon Edgar Tabares ONE Fight Night 10 36
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 21 scaled
Superlek Kiatmoo9 Rodtang Jitmuangnon ONE Friday Fights 34 80
Kompet Fairtex Kongchai Chanaidonmueang ONE Friday Fights 58 10
Tawanchai PK Saenchai Superbon Singha Mawynn ONE Friday Fights 46 48 scaled
MasaakiNoiri Champ 1200X800
Jacob Smith Denis Puric ONE Fight Night 21 24