ONE Friday Fights 62 में ईटी ने मोंग्कोलकेउ पर दूसरी जीत हासिल की, वेई ने मत्सुमोटो को हराकर ONE में 2-0 की बढ़त ली

ET Wankhongohm MBK Mongkolkaew Sor Sommai ONE Friday Fights 62 10

कॉम्बैट स्पोर्ट्स की सबसे जानी-मानी वीकली सीरीज़ ने शुक्रवार, 10 मई को थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक के लुम्पिनी बॉक्सिंग स्टेडियम में वापसी की और दर्शकों के लिए एक रोमांचक इवेंट पेश किया।

ONE Friday Fights 62 में मॉय थाई, MMA और किकबॉक्सिंग के कुल 11 मुकाबले थे और प्रत्येक में नई और स्थापित प्रतिभाओं में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

आइए इस सप्ताह के सभी दिलचस्प फिनिश और करीबी मुकाबलों के बारे में जानते हैं।

ईटी ने मोंग्कोलकेउ को रीमैच में हराया

ईटी वानखोंगोम एमबीके फिर से मोंग्कोलकेउ सोर सोमाई पर अपना प्रभुत्व कायम करने में कामयाब रहे और 130-पाउंड कैचवेट मॉय थाई मुकाबले में लगातार दूसरी बार जीत दर्ज की।

इस रीमैच में दोनों ही स्ट्राइकर्स जल्दी जोखिम नहीं लेना चाहते थे। लेकिन ईटी ने जल्द ही आगे बढ़ने का फैसला किया और उनकी इस आक्रामकता ने उन्हें शुरुआती राउंड के अंत में मैच में आगे कर दिया।

उन्होंने दूसरे राउंड में गति पकड़ी और मोंग्कोलकेउ पर दबदबा कायम करने के लिए अपने हाथ और पैरों के कॉम्बिनेशंस का इस्तेमाल किया। तीसरे राउंड में ईटी ने मोंग्कोलकेउ को भारी-भरकम एल्बो स्ट्राइक से गिराया और तुरंत ही एक तेज प्रहार से उन्हें दोबारा नीचे धकेला।

खून से लथपथ और घायल मोंग्कोलकेउ फिर भी फाइट के अंत तक डटे रहे। लेकिन अंत में जजों ने सर्वसम्मत निर्णय से ईटी को जीत से विजेता घोषित किया, जिससे उन्हें अपने करियर की 83वीं जीत हासिल हुई।

गोंज़ालेज़ की आक्रामकता ने उन्हें जीत दिलाई

Xavier Gonzalez Win Sitjanim ONE Friday Fights 62 27

विन सिटयानिम के खिलाफ 128-पाउंड कैचवेट मॉय थाई मुकाबले में ज़ेवियर गोंज़ालेज़ ने बिना रुके हमले किए और इस आक्रामक रुख ने उन्हें एक करीबी जीत प्रदान की।

22 वर्षीय एथलीट ने अपने जाने-माने फॉरवर्ड प्रेशर से अपने प्रतिद्वंदी से दूरी को कम किया। बॉडी शॉट्स, जैब्स और हुक्स के साथ उन्होंने अपने विरोधी को मैच के अधिकांश समय नियंत्रण में रखा।

उन हमलों के बावजूद विन ने जवाबी घुटनों और मुक्कों से वार करना जारी रखा, जिससे Sor Dechapan टीम के स्टार को थोड़ी कठिनाई हुई। हालांकि, ये गोंज़ालेज़ के हमलों को पूरी तरह से कम करने के लिए पर्याप्त साबित नहीं हुआ, जो अंतिम घंटी तक पूरी ताकत से अटैक करते रहे।

तीन राउंड की कार्रवाई के बाद तीनों जजों में से दो ने मैच का फैसला स्पैनिश फाइटर के पक्ष में सुनाया और इस विभाजित निर्णय से जीत ने उन्हें अपने करियर की 22वीं जीत दिलाई।

चोकप्रीचा ने शानदार वापसी कर पोंगसिरी को नॉकआउट किया

चोकप्रीचा पीके साइन्चाई और पोंगसिरी सुजीबामीक्यू दोनों ने 104 सेकंड के अपने स्ट्रॉवेट मॉय थाई मुकाबले में खूब दमखम दिखाया।

एक दूसरे को जैब्स और किक्स से परखने के बाद पोंगसिरी ने एक तेज-तर्रार राइट हाई किक मारी, जिसने उनके थाई हमवतन एथलीट को कैनवास पर गिरा दिया। हालांकि, उस शॉट ने चोकप्रीचा की ऊर्जा को खत्म करने के बजाय उन्हें और अधिक शक्ति प्रदान की।

PK Saenchai के प्रतिनिधि उठ खड़े हुए, अपने विरोधी पर शिकंजा कसा और उन पर एक खतरनाक बाएं हुक से वार किया जिससे वो मैट पर गिर गए।

पोंगसिरी के उबरने में असमर्थ होने के कारण चोकप्रीचा ने शुरुआती राउंड के 1:44 मिनट पर नॉकआउट से जीत हासिल की, जिससे उनका रिकॉर्ड अब 102-20-3 हो गया है।

कोंगकुला ने पहले राउंड में जीत दर्ज की

कई लोग तर्क देते हैं कि फाइटिंग युवा लोगों का खेल है और कोंगकुला जित्मुआंगनोन ने उस सिद्धांत को सही साबित किया जब 138-पाउंड कैचवेट मॉय थाई मैच के शुरुआती राउंड में ही उन्होंने मर्दसिंग खाओलकमॉयथाई को मात दी।

17 वर्षीय सनसनी को पता था कि उनकी ताकतवर किक्स उनकी जीत की सबसे बड़ी कुंजी होगी और उन्होंने शुरुआत से ही उनसे मर्दसिंग के पैरों पर निशाना साधा।

जब ऐसा प्रतीत हुआ कि उनके प्रतिद्वंदी इस रणनीति से वाकिफ हो गए हैं, तब कोंगकुला ने दिशा बदली और अपने विरोधी के सिर पर बाएं पैर से एक जोरदार किक मारी, जिसके बाद उन पर उन्होंने कई किक्स मारीं और मैच को पहले राउंड के 2:37 मिनट में जीता।

उभरते हुए थाई स्टार ने ONE में अपने डेब्यू में जीत दर्ज कर अपना करियर रिकॉर्ड 56-15 से बेहतर कर लिया।

जी चिंग के साथ कड़े मुकाबले में जीत से नोंगम ने 5-0 की बढ़त ली

नोंगम फेयरटेक्स की शक्ति ने जी चिंग फीबी लो के साथ उनके 110-पाउंड कैचवेट मॉय थाई मुकाबले में अंतर पैदा किया।

दोनों एथलीट्स ने पहले राउंड में एक-दूसरे पर जोरदार राइट हैंड्स से हमले किए, जहां नोंगम ने अपने प्रतिद्वंदी की लीड लेग पर लो किक्स से निशाना साधा और जी चिंग ने हाई किक्स से जवाबी वार किए।

Fairtex टीम की प्रतिनिधि ने दूसरे राउंड में अपने अटैक में मिश्रण किया, एक ऐसी रणनीति जिसने फाइट को सबसे निर्णायक क्षण तक पहुंचाया। राइट क्रॉस के साथ शरीर पर हमलों के बाद उन्होंने अपनी प्रतिद्वंदी को ठोड़ी पर लेफ्ट हुक से निशाना बनाकर उन्हें जमीन पर गिराया।

नोंगम के पंच और लो किक्स ने अंतिम राउंड में भी जोरदार प्रहार जारी रखा, जिससे 29 वर्षीय स्ट्राइकर को सर्वसम्मत निर्णय से ONE में लगातार पांचवीं जीत मिली और अब उनका ओवरऑल रिकॉर्ड 48-5-2 हो गया है।

लुकनाम ने चाबाकेउ को हराकर प्रभावशाली डेब्यू जीत हासिल की

Looknam Kor Khomkleaw Chabakaew Sor KanJanchai ONE Friday Fights 62 15

ONE Championship में लुकनाम कोर खोमक्लेऊ की पहली फाइट बिना किसी कठिनाई के समाप्त हो गई, जब उन्होंने इस एटमवेट मॉय थाई मुकाबले में चाबाकेउ सोर कनजनचाई के खिलाफ सर्वसम्मत निर्णय से जीत हासिल की।

59 फाइट्स की अनुभवी फाइटर ने जल्दी ही आक्रामक रुख अपनाया और अपनी प्रतिद्वंदी को जवाबी कार्रवाई करने पर मजबूर किया। और जैसे ही चाबाकेउ ने जवाबी हमले किए, लुकनाम ने अपना फाइट आईक्यू (सूझ-बूझ) दिखाया और अपने शॉट्स अच्छे से चुने।

उन्होंने दूसरे राउंड में मैच पर नियंत्रण रखना जारी रखा, अपने भारी दाहिने हाथों के कई वार किए जिससे उनकी थाई हमवतन स्टार बच नहीं सकीं।

चाबाकेउ अंतिम राउंड में फिनिश की तलाश में थी, लेकिन लुकनाम ने मैच की गति में बदलाव को अच्छी तरह परखा। उन्होंने मुकाबले में अपनी बढ़त जारी रखी और कई मजबूत प्रहारों और स्मार्ट मूवमेंट से अपने विरोधी का सामना किया जिससे उन्हें तीनों जजों की मंजूरी मिली।

डेब्यू जीत के साथ लुकनाम ने अपने करियर रिकॉर्ड को 46-12-2 तक पहुंचाया।

वेई ने मत्सुमोटो को सर्वसम्मत निर्णय से शिकस्त दी

वेई “द ग्रेट सेज” ज़िचिन ने 127-पाउंड कैचवेट मॉय थाई मुकाबले में रियामु मत्सुमोटो के खिलाफ सर्वसम्मत निर्णय से जीत हासिल करने के लिए बेहतरीन ​​​​प्रदर्शन किया।

चीनी स्टार ने अपने 19 वर्षीय प्रतिद्वंदी पर पूरे मैच में स्ट्रेट राइट्स, एल्बोज़ और किक्स से प्रहार किए।

हालांकि मैच में मत्सुमोटो ने भी बीच-बीच में अच्छे वार किए, लेकिन “द ग्रेट सेज” ने मुकाबले में अपना दबदबा बनाए रखा। दूसरे राउंड में उन्होंने आगे बढ़कर एक शानदार काउंटर राइट के जरिए से फाइट का एकमात्र 8-काउंट सुनिश्चित किया।

तीन राउंड के बाद जजों ने वेई को जीत प्रदान की, जिससे वो ONE Championship में 2-0 और अपने करियर में 28-3 से आगे हो गए।

रोमांचक किकबॉक्सिंग मुकाबले में यसुमोटो ने बेकमुरज़ेव को पछाड़ा

Haruto Yasumoto Temirlan Bekmurzaev ONE Friday Fights 62 29

हरुटो यसुमोटो ने इस फ्लाइवेट किकबॉक्सिंग मुकाबले में तेमिरलैन बेकमुरज़ेव पर अपनी डेब्यू जीत अर्जित की।

बेकमुरज़ेव पहले राउंड में शक्तिशाली हुक्स और लो किक्स के साथ आगे बढ़े, लेकिन जापानी फाइटर संयमित रहे और ताकतवर दाहिने घुटनों और सटीक हाई किक्स से जवाबी कार्रवाई की।

दूसरे राउंड में उन्हें एक अवैध स्पिनिंग एल्बो स्ट्राइक से चोट सहनी पड़ी, जिसके लिए बेकमुरज़ेव को येलो कार्ड दिखाया गया। इसके बावजूद यसुमोटो ने अधिक सटीक शॉट्स के साथ अपने आक्रामक प्रतिद्वंदी को पछाड़ना जारी रखा।

Hashimoto Dojo के स्टार ने अंतिम राउंड में और अधिक घुटने एवं हाई किक्स मारीं और सर्वसम्मत निर्णय से जीत दर्ज कर अपना रिकॉर्ड 31-3-2 तक बढ़ाया।

मोरिओका ने ज़ोल्फाघारी को नॉकआउट कर डेब्यू जीत हासिल की

युकी मोरिओका ने अपने प्रमोशनल डेब्यू में पेमैन ज़ोल्फाघारी को पहले राउंड में नॉकआउट से हराकर जीत अपने नाम की।

मोरिओका ने शुरुआती घंटी से ही अपने ईरानी विरोधी पर दबाव डाला, लेकिन जब ज़ोल्फाघारी के एक काउंटर लेफ्ट हुक ने उन्हें गिरा दिया तो उन्हें अपनी आक्रामकता पर काबू पाने के लिए मजबूर होना पड़ा।

जापानी स्टार जल्दी से खुद को संभाला और उन्होंने एक बार फिर मैच में नियंत्रण हासिल कर लिया और ज़ोल्फाघारी को रस्सियों पर धकेला। उसके बाद एक तेज-तर्रार दाहिने हाथ से हमला किया, जिसने उन्हें पहले राउंड के 1:57 मिनट पर कैनवास पर गिरा दिया जिससे वो उठ ना सके।

मोरिओका ने इस फिनिश के साथ अपने करियर की 16वीं जीत हासिल की और ONE में गहरी छाप छोड़ी।

मोरोज़ोव पर स्टॉपेज जीत के साथ परेरा का ONE रिकॉर्ड 3-0 हुआ

इस लाइटवेट MMA मुकाबले में मैथ्यूस “गाइडो पोर डिउस” परेरा ने ईवजेनी “द जनरल” मोरोज़ोव के खिलाफ शानदार स्ट्राइकिंग से ONE Friday Fights में लगातार तीसरा फिनिश हासिल किया।

27 वर्षीय स्ट्राइकर ने खतरनाक लेग किक्स से अपने विरोधी से दूरी को कम कर दिया और क्लिंच में एल्बो एवं नीज़ से तेज अटैक किए।

ये आक्रामकता दूसरे राउंड में भी जारी रही और ऐसा प्रतीत हुआ कि मोरोज़ोव ने ब्राजीलियाई स्ट्राइकर से कुछ ज्यादा ही चोट खा ली है।

एथलीट्स की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए रेफरी मोहम्मद सुलेमान ने तीसरे राउंड की शुरुआत से पहले बाउट को खत्म कर दिया और परेरा को तकनीकी नॉकआउट से जीत सौंपी, इससे वो संगठन में अपराजित रहे और अपने रिकॉर्ड को 7-2 तक सुधार लिया।

बटसाइखान ने शानदार स्ट्राइकिंग प्रदर्शन से पहले राउंड में फिनिश हासिल किया

बाटोचिर बटसाइखान ने अपने बेंटमवेट MMA मुकाबले में फैबियो हराडा पर डेब्यू जीत हासिल करने के लिए शानदार प्रदर्शन दिखाया। मंगोलियाई स्ट्राइकर ने शुरू से ही सटीक पंचों से अपने प्रतिद्वंदी के गार्ड को भेदा और कई बार अपने बाएं हाथ से हराडा को निशाना बनाया।

बटसाइखान ने इस दबाव को जारी रखा और ब्राजीलियाई-जापानी एथलीट द्वारा अपने बीच की दूरी को कम करने के किसी भी प्रयास को खारिज किया।

एक और बाएं हाथ से वार कर और बाईं किक से लिवर को निशाना बनाने के बाद भी 23 फाइटर खिलाड़ी आक्रामक बने रहे, ये महसूस करते हुए कि जीत उनसे अब बहुत दूर नहीं थी।

उन्होंने हराडा को कोने में धकेला और उनके शरीर पर एक कठोर घुटने की स्ट्राइक मारकर उन्हें कैनवास पर गिरा दिया। इसके बाद बटसाइखान ने पहले राउंड में 4:58 मिनट पर ग्राउंड-एंड-पाउंड के माध्यम से तकनीकी नॉकआउट (TKO) से अपने नाम कर ONE Championship में शानदार शुरुआत की।

किकबॉक्सिंग में और

Jonathan Di Bella Danial Williams ONE Fight Night 15 73 scaled
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 142
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 59
Rodtang Jitmuangnon Denis Puric ONE 167 137
Tawanchai PK Saenchai Jo Nattawut ONE 167 78
Mikey Musumeci Gabriel Sousa ONE 167 11
Rodtang Jitmuangnon Edgar Tabares ONE Fight Night 10 36
Johan Ghazali Edgar Tabares ONE Fight Night 17 21 scaled
Superlek Kiatmoo9 Rodtang Jitmuangnon ONE Friday Fights 34 80
Kompet Fairtex Kongchai Chanaidonmueang ONE Friday Fights 58 10
Tawanchai PK Saenchai Superbon Singha Mawynn ONE Friday Fights 46 48 scaled
MasaakiNoiri Champ 1200X800