समाचार

एलीट प्रशिक्षण भागीदारों ने बैंकॉक में सफलता के ओग्नजेन टॉपिक को किया तैयार

अगस्त 13, 2019

ओग्नजेन टॉपिक जब शुक्रवार 16 अगस्त को अपने बहुप्रतीक्षित प्रचारक वापसी करेंगे तो वह ONE सुपर सीरीज में सबसे तेजी से उभरते सितारों में से एक के खिलाफ एक अपने ही अंदाज में जीत हासिल करने की कोशिश करेंगे।

थाईलैंड के बैंकॉक में इम्पैक्ट एरीना में आयोजित होने वाले ONE: ड्रीम्स ऑफ गोल्ड में सर्बियाई-अमेरिकी को रूसी नॉकआउट कलाकार अलावर्दी “बेबीफेस किलर” रमाज़ानोव का सामना करना होगा।

दोनों एथलीट शैलीगत रूप से लगभग समान है। टॉपिक को उनकी परखने की शक्ति व तकनीकी प्रखरता के लिए जाना जाता है, जबकि रामज़ानोव एक मारक और आक्रामकर एथलीट है। उनकी इसी विशेषता ने “बेबीफेस किलर” को तीन आईएफएमए मुवा थाई विश्व चैंपियनशिप जितवाई है और उनके नाम ONE सुपर सीरीज इतिहास में सबसे तेज़ नॉकआउट भी दर्ज है।

हालांकि, न्यू जर्सी निवासी 33 वर्षीय शैलियों में एक दूसरे के विपरित होने को लेकर चिंतित नहीं है। वह पहले से ही जानता है कि अपने प्रतिद्वंद्वी के हमलो का सामना कैसे करना है।

टॉपिक ने बताया कि उनकी शैली को पढ़ना आसान है क्योंकि वह हमेशा अंदर और बाहर आते हैं। इसलिए जब वह बाहर की आते हैं तो उन्हें पता रहता है कि वह अगली कौनसा दाव चलेंगे। यह जरूरी नहीं है कि जब किसी के हमलों को रोककर उसे हताश करते हैँ तो आपको यह पता हो कि आगे क्या होने वाला है। वह कोबरा की तरह हैं। वो बस हमला करते हैं। ऐसे में उन्हें उनके हमलों से बचने का तरीका अच्छी तरह से आना चाहिए।

पूरे वर्ष के दौरान टॉपिक ने एक लायन फाइट लाइटवेट वर्ल्ड चैंपियन, संयुक्त राज्य अमेरिका में नॉर्थ जर्सी मुवा थाई और थाईलैंड में पीके सैचाईंमुवाथाईजिम के बीच अपने प्रशिक्षण को बांटा है।

उन्होंने बताया कि वह पीके सैचाईंमुवाथाईजिम में प्रतिदिन शीर्ष स्तर के फाइटरों के साथ प्रशिक्षण ले रहे हैं और वो उन्हें फाइट के दौरान क्या करना है वह बता रहे हैं। यहांं उनके दोस्तों में से एक कोंग्सक जो पहले भी अलावर्दी से फाइट कर चुका है। वह उन्हें फाइट के लिए अच्छे तरीके बता रहा है।

टॉपिक के एक अन्य प्रशिक्षण साथी मुंगथई को भी ONE: ड्रीम्स ऑफ गोल्ड में फाइट के लिए चुना गया है। उनके बाद रात को वह जापानी स्ट्राइकर केंटा यामदा का सामना करेंगे।

चूंकि दोनों एथलीट एक ही कार्ड पर प्रतिस्पर्धा कर रहे होंगे, इसलिए वो इवेंट की रात से पहले एक-दूसरे के कौशल को धार देने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि वह मुंगथाई के साथ प्रशिक्षण ले रहे हैं, क्योंकि हम एक ही समय पर हैं। ऐसे में इस फाइट में उनका पक्ष मजबूत होने वाला है।

“द एल्बो ज़ोंबी” के रूप में एक ही कार्ड पर प्रतिस्पर्धा करने का मतलब यह भी है कि टॉपिक के पास पूरी पी.के. सैंचाईमुवाथाईजिम की टीम होगी। जो अलावर्दी के खिलाफ फाइट में पूरी तरह से उनका मार्गशन करेंगे और वो अपने गेम प्लान के अनुसार कार्रवाई कर सकेंगे।

उन्होंने कहा कि उनके साथियों के उनके कोने में होने से उन्हें बड़ी मदद मिलेगी। उनके निर्देश बहुत स्पष्ट और बहुत सरल हैं और आपको ठीक-ठीक पता है कि आपको क्या करना है। इतना ही नहीं वो फाइट के दौरान आपको मौके पर उत्तेजित भी करते हैं।

एक तरफ टीम के साथी और उनके ट्रेनर टॉपिक के पास इस फाइट में काम आने वाले कौशन ज्ञान के स्रोत है। लगता है कि इस प्रशिक्षण शिविर के दौरान सर्बियाई-अमेरिकी के लिए सब कुछ गिर गया और अगर वह शुक्रवार को अपनी रणनीति पर अमल करता है, तो वह अपने मुवा थाई करियर की सबसे बड़ी जीत में से एक का दावा कर सकते हैं।

बैंकॉक | 16 अगस्त | 5.30PM | ONE: ड्रीम्स ऑफ गोल्ड | टीवी: वैश्विक प्रसारण के लिए स्थानीय लिस्टिंग की जाँच करें | टिकट: http://bit.ly/onegold19